Hindi News »Rajasthan »Kishangarh» गांधीनगर थाना क्षेत्र के प्राइवेट अस्पताल में देर रात घटना, परिजनों ने लगाया छेड़छाड़ और महिला की मोबाइल से तस्वीर लेने का आरोप, थाने में हुआ समझौता

गांधीनगर थाना क्षेत्र के प्राइवेट अस्पताल में देर रात घटना, परिजनों ने लगाया छेड़छाड़ और महिला की मोबाइल से तस्वीर लेने का आरोप, थाने में हुआ समझौता

भास्कर न्यूज | मदनगंज-किशनगढ़ गांधीनगर थाना क्षेत्र के एक प्राइवेट निजी अस्पताल में शनिवार देर रात को इमरजेंसी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 09, 2018, 04:30 AM IST

भास्कर न्यूज | मदनगंज-किशनगढ़

गांधीनगर थाना क्षेत्र के एक प्राइवेट निजी अस्पताल में शनिवार देर रात को इमरजेंसी यूनिट में दिखाने आई एक महिला मरीज के साथ डॉक्टर ने छेड़छाड़ की। महिला ने डॉक्टर पर मोबाइल से तस्वीर लेने का भी आरोप लगाया। महिला मरीज ने जब परिजनों को घटना की जानकारी दी तो गुस्साए परिजनों ने विरोध जताते हुए डॉक्टर के साथ मारपीट कर दी। घटना की शिकायत गांधीनगर थाना पुलिस को की गई। इस पर पुलिस ने डॉक्टर को हिरासत में ले लिया। हालांकि राताेंरात ही गांधीनगर थाने में दोनों पक्षों में समझौता हो गया और परिजनों ने कोई पुलिस कार्रवाई नहीं की। इधर अस्पताल प्रशासन ने मामले की गंभीरता को देखते हुए तुरंत डॉक्टर को अस्पताल से हटा दिया।

गांधीनगर थाना पुलिस के अनुसार एक महिला मरीज की पेट दर्द होने के साथ ही तबीयत बिगड़ गई। महिला के परिजन उसे देर रात 12 बजे के आसपास लेकर गांधीनगर थाना क्षेत्र के एक निजी अस्पताल पहुंचे। जहां महिला को इमरजेंसी यूनिट में ले जाया गया। इमरजेंसी यूनिट में कैज्युल्टी मेडिकल ऑफिसर (सीएमओ) के रूप में डॉ. सचिन की ड्यूटी थी। डॉक्टर ने महिला को भीतर ले जाकर चैकअप शुरू कर दिया। कुछ देर बाद महिला मरीज बाहर आई तो उसने अपने परिजनों को डॉक्टर द्वारा छेड़छाड़ करने का आरोप लगाते हुए मोबाइल में तस्वीर लेने की बात कही। महिला मरीज की ये बात सुनते ही परिजनों में रोष व्याप्त हो गया। उन्होंने विरोध जताना शुरू कर दिया। डॉक्टर को बाहर बुलाकर उसका मोबाइल छीनकर तस्वीरें देखने लगे। गुस्साए परिजनों ने डॉक्टर के साथ मारपीट शुरू कर दी। इससे अस्पताल में माहौल गर्मा गया। अस्पताल का स्टाफ, मरीज व उनके परिजनों की भीड़ जमा हो गई।

इनका कहना है

देर रात को अस्पताल में विवाद की सूचना आई थी। महिला ने डॉक्टर पर छेड़खानी का आरोप लगाया लेकिन किसी ने रिपोर्ट नहीं दी। डाॅक्टर को थाने भी लाया गया लेकिन परिजन ने कोई रिपोर्ट नहीं दी। -विश्राम चौधरी, एएसआई, गांधीनगर थाना

देर रात अस्पताल से फोन आया था कि वहां कोई विवाद हो रहा है। एएसआई विश्राम को भेजा गया था। महिला मरीज के परिजनों ने छेड़छाड़ का आरोप लगाया। परिजनों ने डॉक्टर के साथ मारपीट भी कर ली। डाॅक्टर काे थाने लाया गया था लेकिन रात को महिला मरीज के परिजनों ने थाने में आकर समझौता कर लिया। अस्पताल प्रशासन ने भी डॉक्टर को अस्पताल से हटा दिया है। -भागसिंह, एसएचओ, गांधीनगर थाना

महिला ने लगाया छेड़छाड़ का आरोप, डॉक्टर की पिटाई

गांधीनगर थाना पुलिस ने की समझाइश, थाने ले गई

महिला मरीज ने डॉक्टर पर छेड़छाड़ करने और मोबाइल में तस्वीर खींचने के आरोप से परिजनों ने जमकर नाराजगी जताई गई। घटना की सूचना तुरंत गांधीनगर थाना पुलिस को दी गई। सूचना पर थाने के एएसआई विश्राम चौधरी मय जाप्ता मौके पर पहुंचे। देर रात 1 बजे के आसपास विवाद चलता रहा। पुलिस ने घटना की जानकारी ली और डॉक्टर को हिरासत में लेकर गांधीनगर थाने लाया गया। पुलिस ने परिजनों को थाने में आकर डॉक्टर के खिलाफ रिपोर्ट देने के लिए कहा। कुछ देर बाद परिजन थाने पहुंच गए लेकिन रातोंरात परिजन और डॉक्टर के बीच समझौता हो गया। डॉक्टर ने भी परिजनों से माफी मांग ली। समझौते के बाद परिजनों ने पुलिस कार्रवाई से इंकार कर लिया और डॉक्टर के खिलाफ कोई रिपोर्ट नहीं दी। देर रात डॉक्टर काे छोड़ दिया गया।

अस्पताल प्रशासन ने डॉक्टर को हटाया

अस्पताल प्रशासन को घटना की जानकारी मिलते ही मैनेजमेंट के पदाधिकारी भी अस्पताल पहुंच गए। अस्पताल प्रशासन ने मामले की गंभीरता को देखते हुए तुरंत डॉक्टर को अस्पताल से ही हटा दिया। रविवार को भी अस्पताल में मामले को लेकर चर्चा होती रही।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kishangarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×