• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Kishangarh News
  • एग्रीमेंट कर खनन करने को दी थी ग्रेनाइट की खान कब्जा कर खुद ने ही बेच दिया 32 लाख का माल
--Advertisement--

एग्रीमेंट कर खनन करने को दी थी ग्रेनाइट की खान कब्जा कर खुद ने ही बेच दिया 32 लाख का माल

केकड़ी में एक ग्रेनाइट की खान पर खनन करने के लिए दी गई जिम्मेदारी संभालने वाले व्यक्ति ने खान पर ही कब्जा कर लिया।...

Dainik Bhaskar

Jun 11, 2018, 04:35 AM IST
एग्रीमेंट कर खनन करने को दी थी ग्रेनाइट की खान कब्जा कर खुद ने ही बेच दिया 32 लाख का माल
केकड़ी में एक ग्रेनाइट की खान पर खनन करने के लिए दी गई जिम्मेदारी संभालने वाले व्यक्ति ने खान पर ही कब्जा कर लिया। यही नहीं उसने तीन माह के दाैरान उत्पादित ग्रेनाइट काे विभिन्न जिलाें में बेचकर 32 लाख रुपए भी कमा लिए। एग्रीमेंट के तहत लीज पर देने वाली किशनगढ़ की पीवी ग्रेनाइट द्वारा यह मामला केकड़ी थाने में दर्ज करवाया गया। रविवार काे पुलिस जाब्ते के साथ घंटों तक एकलसिंहा में बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए दो करोड़ रुपए की मशीनरी जब्त कर ली गई। धोखाधड़ी करने के आराेप में हेमराज गुर्जर पुत्र कान्हाराम गुर्जर निवासी केकड़ी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बताया कि इस मामले में लिप्त हेमराज के सहयाेगी दिनेश पारीक पुत्र रमेशचंद पारीक, हनुमान जाट व महावीर डाकाेत के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज किया है।

आरोपी हेमराज

केकड़ी. केकड़ी में एकलसिंह में ग्रेनाइट की खान पर कार्यवाही करती केकड़ी पुलिस।

यह है मामला

पुलिस ने बताया कि यह माइंस पहले हेमराज गुर्जर की थी, जाे लीज पर अंतर्मना पीवी ग्रेनाइट-किशनगढ़ को दी गई। पहले यह माइंस चेजा पत्थर की थी जिसे ग्रेनाइट में एड करवाया गया। हेमराज गुर्जर को 231 रुपए टन में एग्रीमेंट करवाया गया था। ग्रेनाइट माइंस में एड करवाने के बाद गत वर्ष अक्टूबर, नवंबर, दिसंबर व इस साल जनवरी में इसे जब संचालित किया गया ताे खनन का जिम्मा संभालने वाले हेमराज गुर्जर ने अंतर्मना पीवी ग्रेनाइट के साथ धोखाधड़ी करते हुए माइंस पर कब्जा जमा लिया और सामग्री भी अपने कब्जे में कर ली। माइंस पर लगे मजदूराें काे भगा दिया गया। इस काम में दिनेश पारीक ने उसका सहयोग किया।

दो करोड़ रुपए के खनन संसाधन जब्त

पुलिस ने शाम को एकलसिंहा पहुंचकर वहां खनन कार्य में लिए जाने वाले संसाधन कब्जे में लिए हैं। इस दाैरान करीब 2 कराेड़ की मशीनरी पुलिस ने जब्त करने की कार्रवाई की। इनमें प्रमुख रूप एक एलएनटी, तीन वायरसा (पत्थर काटने का) एक एलटी फाेर (पत्थर में गड्ढा करने की मशीन) एक कंप्रेशर, एक कंटेनर, चार पैनल लाइट व 500 केवी का ट्रांसफार्मर जब्त किया गया।

3 माह तक अन्य जिलाें में बेचता रहा माल: आराेपी हेमराज गुर्जर ने इस दाैरान हुए उत्पादन काे 32 लाख रुपए में बेचा। उसने प्रदेश के विभिन्न शहरों में ग्रेनाइट बेचा। भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, अजमेर सहित अन्य कई शहर में माल बेचा।

एग्रीमेंट कर खनन करने को दी थी ग्रेनाइट की खान कब्जा कर खुद ने ही बेच दिया 32 लाख का माल
X
एग्रीमेंट कर खनन करने को दी थी ग्रेनाइट की खान कब्जा कर खुद ने ही बेच दिया 32 लाख का माल
एग्रीमेंट कर खनन करने को दी थी ग्रेनाइट की खान कब्जा कर खुद ने ही बेच दिया 32 लाख का माल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..