--Advertisement--

ट्रेन कैप्टन हल करेगा रेल यात्रियों की समस्या

भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़ रेल द्वारा यात्रियों को ट्रेन में यात्रा के दौरान सेवाओं से संबंधित किसी भी प्रकार...

Dainik Bhaskar

Jun 25, 2018, 04:35 AM IST
भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़

रेल द्वारा यात्रियों को ट्रेन में यात्रा के दौरान सेवाओं से संबंधित किसी भी प्रकार की समस्याओं के निराकरण के लिए अलग-अलग व्यक्तियों से संपर्क करने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। एक ही व्यक्ति इनके स्थान पर जिम्मेदार होगा। उस उत्तरदायित्व व्यक्ति को ट्रेन कैप्टन नाम दिया गया है। इसके पास ही गार्ड, टीटीई, पेंट्रीकार के कर्मचारी, सफाई कर्मियों सभी के नंबर माैजूद रहेंगे। जिससे वह उनसे तुरंत समन्वय कर यात्रियों की शिकायत को तुरंत दूर करने का काम करेगा। शताब्दी, राजधानी व दुरंतो तथा ऐसी ट्रेन में जहां ट्रेन सुपरवाइजर हैं उनमें उन्हें ट्रेन कैप्टन के रूप में नामित किया गया है तथा अन्य ट्रेन में सबसे वरिष्ठतम टिकट निरीक्षक को ट्रेन कैप्टन के रूप में नामित किया गया है। लंबी दूरी की मेल एक्सप्रेस रेलवे सेवाओं में ट्रेन कैप्टन की अवधारणा को लागू किया जा रहा है। यात्री को किसी भी प्रकार की परेशानी होती है तो उसे अलग अलग अधिकारियों व कर्मचारियों के पास जाकर शिकायत दर्ज नहीं करानी पड़ेगी। एक ही जगह उनकी समस्या का निराकरण हो जाएगा।

रेलवे वर्तमान में इसके लिए द्रुतगामी व लंबी दूरी की ट्रेन का चयन किया है। जयपुर मंडल में ट्रेन संख्या 12955-56 जयपुर- कोटा, ट्रेन संख्या 12985-86 जयपुर- दिल्लीसरायरोहिल्ला सहित अन्य तीन ट्रेनों में यह शुरू किया गया है। नार्थ वेस्टर्न रेलवे एम्पलायज यूनियन के शाखा सचिव सुरेन्द्र सिंह नरुका का कहना है कि नया कुछ भी नहीं किया गया है। पहले भी किसी भी ट्रेन के हैड टीटी को यह जिम्मेदारी दी जाती थी। अब नाम नया कर दिया गया है। हेड टीटी की जिम्मेदारी बढा दी गई है। उसे जवाबदेह बनाया गया है। अच्छा कार्य है।

हर समस्या का होगा समाधान : जानकारी के अनुसार रेलवे ने यात्रियों को ट्रेन में यात्रा के दौरान सेवाओं से संबंधित किसी भी प्रकार की समस्याओं के निराकरण के लिए अलग-अलग व्यक्तियों से संपर्क करने के स्थान पर एक ही जिम्मेदार व्यक्ति से संपर्क करने की सुविधा प्रदान की है। लंबी दूरी की मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों में ‘ट्रेन कैप्टन’ नियुक्त किए गए हैं जो यात्रियों की समस्याओं का मौके पर ही निस्तारण करेंगे। ट्रेन कैप्टन यात्रियों के काम से जुड़े कर्मचारियों से समन्वय रखेगा।

जानकारी के अनुसार इसका शुभारंभ उत्तर पश्चिम रेलवे पर भारतीय रेलवे में सर्वप्रथम बीकानेर मंडल पर ट्रेनों में ट्रेन कैप्टन नामित करने का काम शुरू कर दिया गया है। धीरे धीरे सभी मंडल में इसे लागू कर दिया जाएगा।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..