Hindi News »Rajasthan »Kishangarh» डीएफसीसी:अधूरे निर्माण से दो भागों में बंटा शहर, आरयूबी में भरा पानी

डीएफसीसी:अधूरे निर्माण से दो भागों में बंटा शहर, आरयूबी में भरा पानी

भास्कर न्यूज| मदनगंज-किशनगढ़ प्री मानसून ने शहर को दो भागों में बांट दिया है। हालत ये है कि शहर में सात किलोमीटर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 12, 2018, 04:40 AM IST

  • डीएफसीसी:अधूरे निर्माण से दो भागों में बंटा शहर, आरयूबी में भरा पानी
    +1और स्लाइड देखें
    भास्कर न्यूज| मदनगंज-किशनगढ़

    प्री मानसून ने शहर को दो भागों में बांट दिया है। हालत ये है कि शहर में सात किलोमीटर रेलवे ट्रैक पार करने के लिए रास्ता ही नहीं है। हल्की बारिश से नए रेलवे स्टेशन पर बन रहे आधे अधूरे अंडरपास में पानी भर गया है।

    हालत ये है कि कृष्णापुरी ऊंटड़ा रेलवे फाटक व सांवतसर रेलवे फाटक पर बन रहे अंडरपास रेलवे व डीएफसीसी की धीमी गति के चलते लगभग बंद सा पड़ा है। ऐसे में करीब 1 लाख लोगों के सामने घर आने-जाने की परेशानी हो गई है। आने वाले मानसून में पचास से अधिक काॅलोनियों के 1 लाख से अधिक लोगों को इस कारण परेशानी का सामना करना पड़ेगा। क्षेत्रवासियों का कहना है कि अगर निर्माण को तेजी से नहीं किया गया तो विरोध प्रदर्शन करने को मजबूर होना पड़ेगा।

    अधूरा पड़ा सांवतसर अंडरपास

    रेलवे ट्रैक पर सांवतसर रेलवे फाटक पर निमार्णाधीन अंडरपास भी धीमी गति के कारण अधूरा पड़ा है। टेंडर शर्ताे के अनुसार फाटक का निर्माण 15 जून तक हो जाना चाहिए था। मगर इसकी धीमी गति को देखते हुए आगामी दो माह में भी निर्माण पूरा होना संभव नहीं है।

    मदनगंज किशनगढ़. नए रेलवे स्टेशन पर अधूरे अंडरपास में पानी भरने से शहर दो भागों में बंट गया है। इससे हजारों लोग परेशान हैं।

    हल्की बारिश में पानी से भरा

    नए रेलवे स्टेशन से कमिशनिंग लेकर आनन फानन में शुरू किया गया अंडरपास आठ माह बाद भी अधूरा पड़ा है। रेलवे स्टेशन पर कमिशनिंग 15 अक्टूबर 2017 को बिना किसी उचित मार्ग के शुरू कर दी गई थी। कमिशनिंग के दो दिन बाद डीएफसीसी ने अपनी ओर का कच्चा धूल भरा भाग खोल दिया। इससे आवागमन शुरू हो गया। आठ माह बाद भी हालात जस के तस है। रेलवे अधिकारियों तथा डीआरएम ने आश्वस्त किया था कि दो माह में अधूरे अंडरपास को पूरा बना दिया जाएगा लेकिन आठ माह निकल जाने के बाद भी अधूरा पड़ा है। हल्की बारिश में पानी भर जाता है इससे निकलना जिंदगी से खिलवाड़ करना है। रविवार शाम को आई बारिश में इस मार्ग से आने जाने वाले कई लोगों की बाइक स्लिप हो गई।

    अंडरपास निर्माण की धीमी गति से बढ़ी परेशानी

    कृष्णापुरी ऊंटड़ा रेलवे फाटक पर बन रहे अंडरपास बहुत ही धीमी गति से बन रहा है। यहां पर वर्तमान में हालत ये है कि काम न के बराबर हो रहा है। निर्माण कराने वाली कंपनी रामा कंस्ट्रक्शन को अंडरपास का निर्माण तीस जून तक पूरा करना है। मगर वर्तमान हालात को देखते हुए यह असंभव है। दूसरी ओर डीएफसीसी की ओर अंडरपास निर्माण को लेकर बड़े ब्लाॅक डाल दिए गए है। मगर इसके बाद 15 दिन से कार्य बंद पड़ा है। निर्माण कंपनी एल एन टी के प्रोजेक्ट प्रबंधक अरविंद शर्मा ने कहा कि निर्माण कार्य में तेजी लाई जाएगी। काम क्यों बंद पड़ा है इस बारे में जानकारी लेकर कुछ कह पाएंगे।

    तीन किमी की दूरी के लिए बारह किमी का चक्कर

    रेलवे ट्रैक पर कृष्णापुरी रेलवे फाटक व सांवतसर रेलवे फाटक पर अधूरा निर्माण, सात किमी दूर बने नए रेलवे स्टेशन पर अधूरे पड़े अंडरपास में पानी भरने के कारण इस ओर निवास करने वाले लोगाे को औसतन तीन किमी की दूरी काटने की जगह बारह किमी की दूरी काटकर हाइवे से आरओबी होकर आना जाना पड़ रहा है। आमजन ने बताया कि अगर एक भी तेज बारिश हो गई तो निर्माण कार्य प्रभावित होगा। ऐसे में मानसून के चार माह और इस ओर के निवासियों को आम रास्ते के अभाव में परेशानी उठानी पड़ेगी।

  • डीएफसीसी:अधूरे निर्माण से दो भागों में बंटा शहर, आरयूबी में भरा पानी
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kishangarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×