--Advertisement--

रेलवे स्टेशन पर सात ट्रेनों का कराएं स्टॉपेज

भास्कर न्यूज | मदनगंज-किशनगढ़ मार्बल एसोसिएशन ने सोमवार को रेल मंत्री पीयूष गोयल और सांसद रघु शर्मा को पत्र भेजकर...

Danik Bhaskar | Jun 12, 2018, 04:40 AM IST
भास्कर न्यूज | मदनगंज-किशनगढ़

मार्बल एसोसिएशन ने सोमवार को रेल मंत्री पीयूष गोयल और सांसद रघु शर्मा को पत्र भेजकर रेलवे स्टेशन पर सात ट्रेनों के ठहराव की मांग की। पत्र में एसोसिएशन अध्यक्ष सुरेश टांक ने बताया कि किशनगढ़ मार्बल मंडी के नाम से देश में प्रसिद्ध है। यहां से मार्बल का आयात व निर्यात बड़ी भारी मात्रा में किया जाता है। मार्बल व्यावसाइयों तथा ग्राहकों व देश के विभिन्न क्षेत्रों के यात्रियों का व्यापारिक कारणों से किशनगढ़ आना-जाना बना रहता है। किशनगढ़ में बिहार के कई हजार मजदूर कार्यरत हैं। मार्बल के अलावा यहां पर अन्य उद्योग धंधे विकास की ओर बढ़ रहे है। सांसद रघु शर्मा को दिए ज्ञापन में एसोसिएशन अध्यक्ष सुरेश टांक ने बताया कि किशनगढ़ अजमेर जिले व संभाग का एक महत्वपूर्ण उपखंड है। यहां पर विश्व प्रसिद्ध मार्बल मंडी, पावरलूम, टैक्सटाइल पार्क, केंद्रीय विश्वविद्यालय, हवाई अड्‌डा जैसे उपक्रम व संस्थान हैं। यहां से बाहर लोगों का आना जाना रहता है। ऐसे में हर तरह से किशनगढ़ रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों का ठहराव जरूरी है। एसोसिएशन ने आगरा फोर्ट-अजमेर सुपरफास्ट एक्सप्रेस, जयपुर हैदराबाद एक्सप्रेस, किशनगंज-अजमेर-किशनगंज, पोरबंदर-मुजफ्फरपुर-पोरबंदर, राजेंद्रनगर पटना-अजमेर-राजेंद्रनगर पटना, रांची-अजमेर-रांची तथा दिल्ली सरायरोहिल्ला-मुंबई-दिल्ली सरायरोहिल्ला गरीबरथ ट्रेन के ठहराव की मांग की।

किशनगढ़ एयरपोर्ट से शुरू हो फ्लाइट

मार्बल एसोसिएशन ने सोमवार को नगर विमानन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा को पत्र भेजकर किशनगढ़ एयरपोर्ट पर दिल्ली, मुंबई सहित अन्य शहरों के लिए हवाई यात्रा शुरू करने की मांग की। पत्र में एसेसिएशन अध्यक्ष सुरेश टांक ने बताया कि किशनगढ़ हवाई अड्‌डे का लोकार्पण 8 माह पहले किया गया था। इसके बावजूद अभी तक दिल्ली, मुंबई सहित अन्य शहरों के लिए नियमित उड़ान शुरू नहीं हो पाई। हवाई अड्‌डे के निर्माण में केंद्र व राज्य सरकार ने करोड़ों रुपए का निवेश किया है। नियमित उड़ानों के अभाव में इस भारी निवेश का कोई फायदा नहीं हो रहा हे। किशनगढ़ एक बड़ा औद्योगिक केंद्र है, जहां विदेशों से भारी मात्रा में मार्बल क्रय करने के लिए काफी संख्या में व्यवसायी व उद्यमी विदेश जाने के लिए दिल्ली व मुंबई हवाई अड्‌डों से उड़ान भरने के लिए यहां से जाते रहते है। केंद्र सरकार की अनूठी ‘उड़ान’ नामक याेजना के तहत महानगरों को छोटे-छोटे शहरों से हवाई सेवा शुरू कर दी जाए, तो सभी को फायदा होगा।