• Hindi News
  • Rajasthan
  • Kishangarh
  • पौने दो किलो अफीम के साथ चार लोगों को किया गिरफ्तार
--Advertisement--

पौने दो किलो अफीम के साथ चार लोगों को किया गिरफ्तार

एमपी से शहर में लाई गई थी खेप भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़ एटीएस और किशनगढ़ थाना पुलिस ने देर रात मध्यप्रदेश...

Dainik Bhaskar

Jun 21, 2018, 04:40 AM IST
पौने दो किलो अफीम के साथ चार लोगों को किया गिरफ्तार
एमपी से शहर में लाई गई थी खेप

भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़

एटीएस और किशनगढ़ थाना पुलिस ने देर रात मध्यप्रदेश से किशनगढ़ लाई गई 1 किलो 800 ग्राम अफीम सहित चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस टीम द्वारा जब्त की गई अफीम की कीमत करीब ढाई लाख रुपए बताई जा रही है। आरोपी हाइवे के निकट चूंदड़ी गांव के खेतों में अफीम का लेनदेन कर रहे थे। गिरफ्तार किए गए तीन युवक मध्यप्रदेश के रहने वाले हैं। वे अफीम लेकर आए थे वहीं चौथा आरोपी जयपुर के शाहपुरा का रहने वाला है जो अफीम खरीद रहा था। स्थानीय युवक के साथ एक 16 वर्षीय लड़की भी कार में सवार थी। पुलिस ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया और कार तथा अफीम जब्त कर ली। आरोपियों को पुलिस ने बुधवार को कोर्ट में पेश किया जहां से चारों को चार दिन के पुलिस रिमांड पर सौंपा गया है।

किशनगढ़ थाना पुलिस के अनुसार एटीएस को मध्यप्रदेश से राजस्थान में कार के जरिए अफीम पहुंचाने की सूचना मिली थी। इस पर देर शाम एटीएस की टीम और किशनगढ़ थाना पुलिस की संयुक्त टीम हाइवे पर पहुंच गई और वाहनों पर नजर रखने लगी। देर रात पुलिस को दो कारें आती नजर आई। दोनों कारें आगे पीछे चल रही थी। पुलिस की टीम ने कारों का पीछा किया। कार नसीराबाद हाइवे से जयपुर हाइवे, बांदरसिंदरी घूमकर चूंदड़ी गांव की ओर रवाना हुई। चूंदड़ी गांव में सुनसान खेतों में कार रुक गई। पीछा कर रही पुलिस की टीम कुछ ही दूरी पर रुक गई। पहली कार में सवार आरोपियों ने दूसरी कार में सवार युवक को अफीम से भरा एक पैकेट दिया। इसी बीच पुलिस की टीम ने घेराबंदी कर दबिश दी। दबिश के दौरान पुलिस को रंगेहाथों दो अफीम के पैकेट मिल गए। दोनों पैकेट को मिलाकर करीब एक किलो 800 ग्राम अफीम थी। अफीम की कीमत करीब ढाई लाख रुपए बताई जा रही है।

पुलिस ने पहली कार में सवार मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले के गुराडिया भावुगढ़ निवासी प्रकाश लाल (42) पुत्र रामलाल पाटीदार, रामकरण पाटीदार (50) पुत्र नानूराम तथा सुंदरलाल (26) पुत्र गोवर्धनलाल पाटीदार को पकड़ लिया। वहीं दूसरी कार में सवार शाहपुरा, जयपुर निवासी मुकेश (26) पुत्र हनुमान सहाय यादव को गिरफ्तार कर लिया। मुकेश के साथ एक 16 साल की नाबालिग लड़की भी मिली है जो कार में आगे बैठी थी। पुलिस ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर थाने पहुंचाया। अफीम और कार बरामद कर ली। आरोपियों को पकड़ने वाली टीम में थाना प्रभारी बंशीलाल पांडर, एएसआई श्योजीलाल, कांस्टेबल सुरेश, रामप्रसाद, अखेराम तथा एटीएस टीम की भूमिका रही। आरोपियों को बुधवार को कोर्ट में पेश किया गया जहां से चारों को चार दिन के पुलिस रिमांड पर सौंपा गया है।

एटीएस की किशनगढ़ थाना पुलिस के साथ संयुक्त कार्रवाई, कार भी बरामद, चौथे आरोपी के साथ कार में मिली 16 साल की लड़की, कीमत करीब ढाई लाख रुपए

मदनगंज-किशनगढ़. पुलिस की गिरफ्त में अफीम तस्कर तथा आरोपियों से बरामद दोनों कार।

ढाई लाख में हुआ सौदा, पहले ही अकाउंट में जमा करा दिए थे पैसे

पुलिस सूत्रों के अनुसार शाहपुरा निवासी मुकेश और मंदसौर निवासी प्रकाशलाल, रामकरण और सुंदरलाल लंबे समय से एक दूसरे के संपर्क में थे। मुकेश ने अफीम की डिमांड की है। आरोपियों के बीच सौदा ढाई लाख में हुआ। मुकेश ने आरोपियों के अकाउंट में ढाई लाख रुपए जमा करवा दिए। सौदा फिक्स होने के बाद आरोपियों ने माल सप्लाई करने का निर्णय किया। तीनों आरोपी कार में सवार होकर मुकेश को अफीम सप्लाई करने के लिए रवाना हुए।

पुलिस को पकड़ने में आए पसीने, रिमांड अवधि में खुलेगा राज

आरोपी नसीराबाद हाइवे से लेकर अजमेर-जयपुर हाइवे पर पुलिस और एटीएम टीम को घुमाते रहे। गांवों में गली-गली में घूम रहे थे। करीब डेढ़ से दो घंटे तक घूमने के बाद आरोपियों ने चूंदड़ी के खेतों में कार रोककर सौदे का माल सप्लाई किया और पकड़े गए। इस बीच एटीएम और पुलिस को आरोपियों को दबोचने में पसीने आ गए। अब चारों आरोपी से रिमांड अवधि में पूछताछ के बाद पता लगेगा कि कहां से माल आ रहा था और तस्करी के तार कहां-कहां जुड़े हुए हैं।

चितौड़ के बाद निम्बाहेड़ा, नीमच, मंदसौर हंै अफीम के गढ़

किशनगढ़ थाना पुलिस के अनुसार भीलवाड़ा रूट पर चित्तौड़ के बाद से राजस्थान का निंबाहेड़ा, मध्यप्रदेश का नीमच, मंदसौर जिले में चारों ओर अफीम की खेती है। यहां लाइसेंस लेकर भी अफीम की खेती की जाती है और चोरी छिपे अफीम की पैदावार से देशभर में तस्करी के लिए भेजी जाती है। पकड़े गए मध्यप्रदेश के तीनों तस्कर भी अफीम लेकर किशनगढ़ पहुंच गए। पुलिस आरोपियों से भेद जानने की कोशिश करेगी कि इससे पूर्व भी कहां-कहां अफीम पहुंचाई गई।

पुलिस का ध्यान भटकाने के लिए नाबालिग रिश्तेदार को लिया साथ

किशनगढ़ थाना प्रभारी बंशीलाल पांडर ने बताया कि तीनों आरोपी मंदसौर से किशनगढ़ के लिए रवाना हो गए। शाहपुरा निवासी मुकेश स्कॉर्पियों लेकर किशनगढ़ के निकट पहुंच गया। मुकेश अपने साथ अपनी रिश्तेदार 16 वर्षीय लड़की को लेकर आया। लड़की को कार में आगे इसलिए बैठा रखा था कि पुलिस पकड़े या कोई भी व्यक्ति इन पर संदेह ना करें। संभवत: पुलिस पकड़े तो परिवार के सदस्य के साथ कहीं जाने का बताकर पुलिस का ध्यान भटका सके। लेकिन एटीएस के पास पुख्ता जानकारी होने के कारण आरोपी पकड़े गए।

पौने दो किलो अफीम के साथ चार लोगों को किया गिरफ्तार
X
पौने दो किलो अफीम के साथ चार लोगों को किया गिरफ्तार
पौने दो किलो अफीम के साथ चार लोगों को किया गिरफ्तार
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..