• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Kishangarh News
  • परिचित निकले फायरिंग करने वाले, दुकानदार की शराफत देखकर बदमाशी पर उतर आए
--Advertisement--

परिचित निकले फायरिंग करने वाले, दुकानदार की शराफत देखकर बदमाशी पर उतर आए

भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़ अजमेर रोड पर दुकानदार को रंगदारी के लिए धमकाने और दुकान पर फायरिंग करने के मामले...

Dainik Bhaskar

Jun 06, 2018, 04:45 AM IST
परिचित निकले फायरिंग करने वाले, दुकानदार की शराफत देखकर बदमाशी पर उतर आए
भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़

अजमेर रोड पर दुकानदार को रंगदारी के लिए धमकाने और दुकान पर फायरिंग करने के मामले में मदनगंज थाना पुलिस ने कार्रवाई करते हुए मंगलवार को दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आराेपियों से देसी कट्टा बरामद किया है। आरोपी स्थानीय हैं और दुकान संचालक के जानकार भी लेकिन दुकानदार के सीधे होने का फायदा उठाने की मंशा से आरोपियों ने वसूली का षड़यंत्र रचा।

पुलिस उपाधीक्षक ओमप्रकाश किलानिया के अनुसार गिफ्ट कार्नर संचालक संजय गिदवानी की दुकान पर फायरिंग के आरोपियों की धरपकड़ के लिए टीमों का गठन किया गया। मदनगंज थाने के एएसआई भंवरलाल, कांस्टेबल सीताराम, रामस्वरूप व साइक्लोन सेल के आशीष को टीम में शामिल किया गया। टीम ने कार्रवाई शुरू कर दी। पुलिस ने आरोपियाें द्वारा किए गए नंबरों की कॉल डिटेल निकालना शुरू कर दिया। जांच आगे बढ़ाते हुए पुलिस ने शिवाजी नगर निवासी तरूण सिंघल उर्फ जेएमडी (22) पुत्र हिमेश सिंघल तथा मालियों की ढ़ाणी निवासी सूरज राव (23) पुत्र रमेश चंद को साक्ष्य मिलने और संदेह के आधार पर हिरासत में लिया गया। आरोपियों से पूछताछ की गई तो आरोप ने वारदात कबूल कर ली। पुलिस ने आरोपियों से वारदात में प्रयुक्त देसी कट्‌टा बरामद कर लिया। दोनों को पुलिस बुधवार को कोर्ट में पेश करेगी।

सीधा समझकर फिरौती मांगने का रचा षड़यंत्र : पुलिस उपाधीक्षक ओमप्रकाश किलानिया ने बताया कि दोनों आरोपी स्थानीय है। गिफ्ट संचालक संजय के पड़ोसी भी हैं। दीपावली के समय पटाखों की दुकान लगाते हैं। ऐसे में आरोपी गिफ्ट संचालक के अच्छे परिचित थे। संजय सीधा इंसान है। दोनों आरोपी उसके सीधे होने का फायदा उठाते हुए उसे धमकाकर फिरौती लेना चाह रहे थे। आरोपियाें ने जो सिम का उपयोग किया वह भी फर्जी थी। काॅल डिटेल के आधार पर पकड़े गए।

ये है मामला

मयूर गिफ्ट संचालक के मालिक हाऊसिंग बोर्ड निवासी संजय गिदवानी पुत्र प्रकाश गिदवानी ने मदनगंज थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। रिपोर्ट में बताया था पिछले विगत दो दिनो से उसे फोन पर दस लाख रुपए देने के लिए घमकियां मिल रही थी। संजय ने इग्नोर कर दिया। 30 मई को शाम 6.26 बजे अज्ञात व्यक्ति ने फोन नंबर 8051722137 से फोन कर गोली मारने की धमकी दी। रात 9 बजे करीब दो अज्ञात युवक मुह बांधे बाइक से दुकान पर आए और नीचे की ओर फायर कर धमकी देते हुए भाग गए। फायर करने वाले को संजय के भाई अजय ने देखा था। फायर की आवाज पर आस पास के दुकानदार एकत्रित हो गए। फायरिंग से दहशत का माहौल बन गया। इस कारण आरोपियों का पीछा नहीं कर पाए। देर रात 11 बजे मुकदमा दर्ज कराया गया।

मदनगंज-किशनगढ़. दुकानदार से रंगदारी मांगने और धमकाने के आरोपी पुलिस की गिरफ्त में।

X
परिचित निकले फायरिंग करने वाले, दुकानदार की शराफत देखकर बदमाशी पर उतर आए
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..