Hindi News »Rajasthan »Kishangarh» जोबनेर से अगवा युवक हरमाड़ा रोड पर हाथ मुंह बंधे हालत में मिला

जोबनेर से अगवा युवक हरमाड़ा रोड पर हाथ मुंह बंधे हालत में मिला

भास्कर न्यूज | मदनगंज-किशनगढ़ जयपुर के जोबनेर क्षेत्र से अपहरण का शिकार हुआ युवक मंगलवार सुबह बांदरसिंदरी थाना...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 06, 2018, 04:45 AM IST

जोबनेर से अगवा युवक हरमाड़ा रोड पर हाथ मुंह बंधे हालत में मिला
भास्कर न्यूज | मदनगंज-किशनगढ़

जयपुर के जोबनेर क्षेत्र से अपहरण का शिकार हुआ युवक मंगलवार सुबह बांदरसिंदरी थाना क्षेत्र के हरमाड़ा रोड पर सड़क किनारे बंधक हालत में मिला। युवक सड़क किनारे लेटा था और उसकी आंखों पर पट्‌टी और हाथ में रस्सी बंधी हुई थी। बांदरसिंदरी थाना पुलिस ने पहुंचकर युवक काे राजकीय यज्ञनारायण अस्पताल में भर्ती कराया। बांदरसिंदरी पुलिस ने बयान दर्ज किए। बाद में जोबनेर पुलिस अस्पताल पहुंच गई। बांदरसिंदरी पुलिस ने युवक को जोबनेर पुलिस के सुपुर्द किया। पुलिस पीड़ित को लेकर जाेबनेर के लिए रवाना हो गई। युवक को जोबनेर थाने में मुकदमा दर्ज है।

बांदरसिंदरी थाना पुलिस के अनुसार सुबह 8-9 बजे के आसपास हरमाड़ा रोड पर आने जाने वाले लोगों को सड़क किनारे एक युवक लेटा हुआ मिला। युवक के चेहरे पर पट्‌टी बंधी हुई थी और पीछे की ओर हाथ रस्सी से बंधे हुए थे। देखने में युवक अपहरण का शिकार लग रहा था। लोगों ने तुरंत घटना की सूचना बांदरसिंदरी थाना पुलिस को दी।

सूचना पर पुलिस ने पहुंचकर युवक के आंखों से पट्‌टी और हाथाें पर बंधी रस्सी को खोलकर बंधक मुक्त कराया। युवक को राजकीय यज्ञनारायण अस्पताल मे भर्ती कराया। युवक की पहचान भंवरियों की ढ़ाणी, महेशवास, थाना जोबनेर निवासी कमलेश भटेश्वर (22) पुत्र हीरालाल जाट के रूप में हुई। अस्पताल में भर्ती कर उपचार शुरू कर दिया। बाद में जोबनेर थाना पुलिस अस्पताल पहुंच गई। युवक को साथ लेकर पुलिस जोबनेर के लिए रवाना हो गई।

युवक का जोबनेर थाने में दर्ज है मुकदमा

अपहरण का शिकार कमलेश का मुकदमा जोबनेर थाने में दर्ज है। मुकदमे में पीड़ित ने बताया कि 25 मई 2018 को वह तथा उसका भाई विशन चौधरी चाचा का लड़का शंकर केम्पर आरजे 14 यूबी 6500 से महेशवास स्थित नर्सरी जिसे मेरे चाचा अशोक चौधरी संभालते हैं, वहां से आ रहे थे। शाम को करीब 5 बजे कुछ व्यक्तियों ने पत्थर डालकर रास्ते को रोक रखा था। जब हम वहां पहुंचे तो उन लोगों ने हमें घेर लिया। घेरने वालों में हमारे गांव के गुर्जरों के लड़के गोपाल, सोनू गुर्जर, भागचंद, कालू तथा ओम सिंह पुत्र भगवती सिंह जाति राजपूत तथा उसका साथी बलबीर भडवा तथा अन्य दो व्यक्ति शामिल थे। जिनके नाम पीड़ित नहीं जानता। लेकिन उनको सामने आने पर पहचान लूंगा। फिर मेरे भाई ने उनसे बचने के लिए केम्पर को पत्थरों के ऊपर से भगाया तो मैं केम्पर में पीछे बैठा हुआ था। जिससे में उछल कर नीचे गिर गया तो उन लोगों ने मुझे पकड़ लिया तथा अपनी स्कोर्पियों गाड़ी में डालकर महेशवास के गढ़ में उठा कर ले गए। जहां मुझे उन्होंने एक अंधेरे कमरे में कैद करके रखा तथा कल मुझे खाने में कोई नशीली वस्तु खिला दी। जिससे में बेहोश हो गया फिर आज अब मुझे यहां अस्पताल में होश आया है। कैद के दौरान बाबोसा भगवती सिंह ने मेरा मोबाइल तथा मेरे पास रखें रुपए भी छीन लिए। घटना के संबंध में पुलिस थाना जोबनेर पर प्रकरण संख्या 170/18 धारा 143,307,365,427 आईपीसी तथा 3/25 आर्म्स एक्ट में दर्ज है।

किशनगढ़. राजकीय अस्पताल में अपहरण के शिकार युवक से जानकारी लेते पुलिसकर्मी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kishangarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×