• Hindi News
  • Rajasthan
  • Kishangarh
  • गर्मियों में तरसते रहे, मानसून दस्तक देने वाला है तब होगी टैंकर से जलापूर्ति
--Advertisement--

गर्मियों में तरसते रहे, मानसून दस्तक देने वाला है तब होगी टैंकर से जलापूर्ति

Kishangarh News - श्याममनोहर पाठक | मदनगंज-किशनगढ़ शहर कितने ही स्मार्ट हो जाएं, सरकारें कितनी ही डिजिटल या ऑनलाइन हो जाएं और फैसले...

Dainik Bhaskar

Jun 09, 2018, 04:50 AM IST
गर्मियों में तरसते रहे, मानसून दस्तक देने वाला है तब होगी टैंकर से जलापूर्ति
श्याममनोहर पाठक | मदनगंज-किशनगढ़

शहर कितने ही स्मार्ट हो जाएं, सरकारें कितनी ही डिजिटल या ऑनलाइन हो जाएं और फैसले लेने वाले अफसर कितने ही संवेदनशील हो जाएं, फैसलों की रफ्तार वही पुरातनपंथी सरकारी तंत्र ही तय करेगा जो मामलों को लटकाए रखने में माहिर है। हर साल गर्मी तो दूर सर्दियों मे भी पेयजल के लिए तरसने वाले शहर किशनगढ़ के लिए जलदाय महकमे ने गर्मियां शुरू होने से पहले ही पाइपलाइन विहीन इलाकों में टैंकर से जलापूर्ति के लिए योजना बनाकर उच्च अधिकारियों को भिजवा दी थी। पूरी गर्मियां नागरिकों का धरना प्रदर्शन व आक्रोश का सामना करते रहे स्थानीय महकमे के प्रस्ताव को मंजूरी तब जाकर मिली है जब मानसून आने में बारह दिन बचे हैं और मंजूरी भी शर्ताें व कटौती के साथ मिली है।

मालूम हो कि जलदाय विभाग कार्यालय पर पानी की नियमित जलापूर्ति को लेकर किशनगढ़ परिषद क्षेत्र के पैंतालीस वार्डों के निवासियों ने कई बार प्रदर्शन किया। कांग्रेस ने भी धरना प्रदर्शन कर व मटका फोड़ कर विरोध जताया। परिषद क्षेत्र में तीस से अधिक कालोनियां है जिन्हें बसे हुए बीस वर्ष से अधिक हो गए। मगर उनमें पाइपलाइन नहीं है। इसके अलावा जहां पाइपलाइन है वहां भी पाइप लाइन में लीकेज व अन्य कारणों से नियमित रूप से जलापूर्ति नहीं हो पाती है। ऐसे में जलदाय महकमे ने गर्मी के तीन माह के लिए टैंकरों से जलापूर्ति का दस लाख का प्रस्ताव भेजा था मगर उसे उच्च अधिकारियों ने साल भर के लिए मंजूर कर टेंडर मंजूर किए हैं ।

जलदाय विभाग के अधिशासी अभियंता जगमाल सिंह राठौड़ ने बताया कि शहरी क्षेत्र के लिए टैंकर से जलापूर्ति वर्षपर्यंत करने के लिए दस लाख रुपए और ग्रामीण क्षेत्र के लिए 21 लाख रुपए का टेंडर किया गया है। पानी की आपूर्ति करने वाले टैंकर को पांच किमी की दूरी तक जलदाय विभाग द्वारा पानी देने पर अनुमानत: 300 रुपए और टैंकर द्वारा स्वयं जल की व्यवस्था करने पर 350 रुपए प्रति टैंकर दिए जाएंगे।

अधिशाषी अभियंता राठौड़ ने बताया कि पांच किमी की दूरी तक जलदाय विभाग द्वारा पानी उपलब्ध कराने पर 58 रुपए प्रति हजार लीटर व टैंकर द्वारा स्वयं जल उपलब्ध कराने पर 71 रुपए प्रति हजार लीटर देय होगा। पांच किमी से अधिक दूरी पर जलदाय विभाग द्वारा जल देने पर 72 रुपए प्रति हजार लीटर व टैंकर द्वारा स्वयं जल की व्यवस्था करने पर 90 रुपए प्रति हजार लीटर भुगतान किया जाएगा।

पांच माह बाद मिली मंजूरी

जलदाय विभाग से मिली जानकारी के अनुसार परिषद के तीस से अधिक काॅलोनियों में गर्मी के दिनों में टैंकर से जलापूर्ति की योजना फरवरी माह में ही बनाकर कलेक्टर कार्यालय सहित जलदाय विभाग के उच्च अधिकारियों तक भेज दी गई थी। मगर इन पर निर्णय जून माह में हुआ है।जलदाय विभाग ने शहरी क्षेत्र के लिए साढे बारह लाख रुपए की योजना टैंकर से जलापूर्ति के लिए तीन माह के लिए भेजी थी। इसमें भी कटौती कर शहरी क्षेत्र के लिए दस लाख रुपए की योजना बारह माह के लिए स्वीकृत हुई है।

जलदाय महकमे ने पांच माह पहले भेजा था प्रस्ताव, जून में मिली मंजूरी मगर कटौती व शर्तों के साथ, तीन की बजाय सालभर के लिए पास किए टेंडर

किशनगढ़. गर्मियों की शुरुआत से लेकर अब तक पानी के लिए तरसते रहे नागरिक।

पार्षद की सिफारिश पर भेजे जाएंगे टैंकर

सहायक अभियंता किशनलाल सैनी ने बताया कि टैंकर से जलापूर्ति उन इलाकोंं में की जाएगी जिन इलाकों में पाइपलाइन नहीं है तथा उस क्षेत्र के पार्षद ने लिखित में अनुशंसा की है। इसके अलावा किशनगढ़ नसीराबाद से पाइपलाइन के खराब होने पर उन इलाको में जलापूर्ति प्राथमिकता के आधार पर की जाएगी। जिन इलाकों में चार से पांच दिन बाद भी पानी नहीं आया है।

तीस से अधिक कालोनियों में है जरूरत

परिषद क्षेत्र में तीस से अधिक कालोनियां है जहां पाइपलाइन नहीं है। वर्तमान में महती जलीय योजना में पाइपलाइन बिछाई गई है। इनमें मुख्यत: लक्ष्मीनगर, दाधीच कालोनी, रघु विहार, केशव नगर, केशव विहार, श्याम नगर, जाजम नगर, राधा सर्वेश्वर कालोनी, गोकुल विला क्षेत्र, हनुमंत नगर, राजारेड्‌डी कच्ची क्षेत्र, बजरंग कालोनी कच्चा एरिया, लुहार बस्ती, भील बस्ती सहित तीस से अधिक कालोनियों में पानी की नितांत आवश्यकता है।

X
गर्मियों में तरसते रहे, मानसून दस्तक देने वाला है तब होगी टैंकर से जलापूर्ति
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..