--Advertisement--

महिला व बच्चों को जान का खतरा पुलिस नहीं कर रही सुनवाई

भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़ राजारेडी क्षेत्र में 6 जून को देर रात बागरिया समाज के लोगों की ओर से रैगर समाज की...

Dainik Bhaskar

Jun 20, 2018, 04:50 AM IST
भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़

राजारेडी क्षेत्र में 6 जून को देर रात बागरिया समाज के लोगों की ओर से रैगर समाज की महिला व उसके परिवार के लोगों के साथ मारपीट की घटना के बाद से अब तक मदनगंज थाना पुलिस की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की गई। इससे आहत होकर पीड़िता ने मंगलवार को पुलिस उपाधीक्षक ओमप्रकाश किलानिया को ज्ञापन देकर कार्रवाई की मांग की है।

पीड़िता ने आरोप लगाया कि अब तक आरोपी उसे धमका रहे हैं। वह घर पर अपने पुत्र के साथ रहती है। आरोपी नशे में धुत्त होकर घर में आकर मारपीट पर उतारू रहते है, बदसुलूकी करते हैं। महिला और उसके बच्चों को जान का खतरा है। लेकिन अब तक मुकदमा दर्ज होने के बावजूद पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। मदनगंज थाने के चक्कर लगा लगाकर पीड़िता परेशान हो गई। उसकी जान और इज्ज्त को खतरा है। पीड़िता ने सुरक्षा की भी गुहार लगाई है। मालूम हो कि राजारेड़ी में रामचरण रैगर का मकान है। 6 जून की देर रात 10.30 बजे के बीच बागरिया समाज के गोवर्द्धन, कालू पुत्र छीतर, हीरा, घासीराम, राजू, कालू पुत्र लक्ष्मण, सीतू सहित गाली गलौच करते हुए लकड़ियां लेकर आए और रामचरण के मकान में घुसकर उसके परिवार के सदस्यों से, उसकी प|ी, पुत्र मारपीट शुरू कर दी। घर में तोड़फोड़ कर दी। महिला के कपड़े फाड़ दिए और मारपीट की। मारपीट में महिला, दादी कमला, भतीजा लोकेश, लड़का लेखराज घायल हो गए। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया। मुकदमे के बावजूद अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। पीड़िता ने पुलिस उपाधीक्षक से मिलकर कार्रवाई की मांग कर रही है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..