किशनगढ़

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Kishangarh News
  • राजकीय बालिका स्कूल राजारेड्डी में एमएचआरडी प्रतिनिधियों ने किया सर्वे, 6 घंटे तक किया निरीक्षण
--Advertisement--

राजकीय बालिका स्कूल राजारेड्डी में एमएचआरडी प्रतिनिधियों ने किया सर्वे, 6 घंटे तक किया निरीक्षण

भास्कर न्यूज| मदनगंज-किशनगढ़ जिले में स्वच्छ शाला पुरस्कार पाने वाली राजारेड्‌डी स्थित राजकीय बालिका उच्च...

Dainik Bhaskar

Jul 01, 2018, 04:50 AM IST
राजकीय बालिका स्कूल राजारेड्डी में एमएचआरडी प्रतिनिधियों ने किया सर्वे, 6 घंटे तक किया निरीक्षण
भास्कर न्यूज| मदनगंज-किशनगढ़

जिले में स्वच्छ शाला पुरस्कार पाने वाली राजारेड्‌डी स्थित राजकीय बालिका उच्च प्राथमिक स्कूल ने अब राष्ट्रीय स्तर पर सम्मानित होने की तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसके लिए शुक्रवार को एमएचआरडी के प्रतिनिधियों ने स्कूल का विजिट कर सर्वे किया। उन्होंने स्कूल की गतिविधियों का 6 घंटे तक निरीक्षण किया।

स्कूल का सर्वे करने आई की टीम के सदस्यों अशोक बंशीवाल व बृजकिशोर ने चैक लिस्ट व प्वाइंट के अनुसार सर्वे कार्य किया। राजकीय बलिका उच्च प्राथमिक स्कूल को 13 मार्च 2018 को एमएचआरडी विभाग ने स्वच्छ शाला पुरस्कार योजना 2017 के तहत जयपुर में राज्य स्तरीय सम्मेलन में सम्मानित किया था। इसका लाभ स्कूल को वर्तमान शिक्षा सत्र में मिला है। कच्ची बस्ती के बावजूद नामांकन में भारी वृद्धि हुई है। मालूम हो कि केंद्र सरकार केएमएचआरडी विभाग द्वारा इस योजना की घोषणा की गई और इसका संचालन एसएसए के जरिए स्वच्छ शाला पुरस्कार योजना 2017 के नाम से किया गया है। राजकीय उच्च प्राथमिक स्कूल की संस्थाप्रधान ममता वर्मा ने बताया कि हमारा लक्ष्य देश में प्रथम स्थान पर आना है ताकि किशनगढ़ का नाम पूरे देश में हो सके। वर्मा ने बताया कि सीमित संसाधनों से भी स्कूल में निजी स्कूल जैसी सुविधा व स्वच्छता बनाई गई है। इसे जारी रखा जाएगा।

देश के 40 स्कूलों में टॉप आने का लक्ष्य

संस्था प्रधान वर्मा ने बताया कि स्वच्छ शाला पुरस्कार योजना 2017 के तहत देश भर से 11 लाख स्कूलों ने आवेदन किया था। इसमें से 13 हजार स्कूलों का चयन ब्लाॅक व जिला स्तर पर किया गया। इसके बाद 280 स्कूलो का चयन राज्य स्तर के लिए किया गया। अब चालीस स्कूलों का चयन राष्ट्रीय स्तर के लिए किया गया है। इसमें किशनगढ़ शिक्षा ब्लाक की राजकीय बालिका उच्च प्राथमिक स्कूल राजारेड्‌डी भी शामिल है।

बाल संसद से पूछे प्रश्न

राष्ट्रीय स्तर पर स्वच्छता को लेकर जांच करने आए सर्वे टीम के अशोक बंशीवाल सहित बृजकिशोर ने बाल संसद की पदाधिकारियों व सदस्यों से कई प्रश्न पूछे जिनका उत्तर बालिकाओं ने बड़े ही रोचक तरीके से दिया। टीम ने संसद के अधिकार, विधान, विकास सहित अन्य प्रश्न पूछे जिसका बाल संसद के पदाधिकारियों ने बहुत ही सरलता से उत्तर दिया। सर्वे टीम के सदस्यों ने एक एक क्लास में जाकर सर्वे किया और बच्चों से प्रश्न पूछे।

इनका हुआ सर्वे

केंद्र सरकार का दल स्वच्छ शाला पुरस्कार योजना के तहत चयनित स्कूल का सर्वे करने के लिए स्वच्छता के तहत जल, शौचालय, साबुन के साथ हाथ धुलाई, क्रियाशील व रखरखाव, व्यवहारगत परिवर्तन, क्षमता विकास को ध्यान में रखा। इसके साथ स्वच्छता को लेकर विद्यार्थियों की मनोस्थिति को भी परखा। स्कूल की बाल संसद से कई प्रश्न पूछकर उनकी मनोस्थिति को समझा।

इस प्रकार मिली रैंकिंग

स्वच्छ शाला पुरस्कार योजना के तहत स्वच्छता को लेकर पहले संस्था प्रधान ने अपने स्तर पर रैंकिंग दी। इसके बाद पीईईओ सहित जिला अधिकारियों संस्था प्रधान की दी रैंकिंग को चैक कर रैंकिंग दी। इसके बाद राज्य स्तर पर चैकिंग की गई। अब राष्ट्रीय स्तर पर रैंकिंग दी जाएगी। इस योजना का उद्देश्य स्कूलों में स्वच्छता को बढ़ावा देना है। पुरस्कारों का ध्येय केंद्र व राज्य सरकार स्वच्छता अभियान को लेकर गति प्रदान करवाना है।

पुरस्कार की है तीन श्रेणी

स्वच्छ शाला पुरस्कार योजना के तहत पुरस्कार की तीन श्रेणी निर्धारित की गई है। जिला स्तर पर ग्रीन, ब्ल्यू तथा येलो, राज्य स्तर पर ग्रीन व ब्ल्यू, रेटेड स्कूल व राष्ट्रीय स्तर पर ग्रीन श्रेणी होगी। राजकीय बालिका उच्च प्राथमिक स्कूल ग्रीन श्रेणी में पहुंच गई है।

मेहनत का परिणाम मिलेगा

राजारेड्डी स्थित बालिका स्कूल कच्ची बस्ती क्षेत्र में स्थित है। पूरा क्षेत्र ही अति पिछड़ा है। मगर संस्थाप्रधान वर्मा व उनकी टीम ने अपनी मेहनत से स्कूल की दिशा व दशा ही बदल दी। साउथ एसिया की इक लाई एनजीओ से मिलकर स्कूल को निजी स्कूलों के समकक्ष खड़ा कर दिया है। स्कूल की स्वच्छता व वातावरण निजी स्कूलों से भी बेहतर है।

स्वच्छता के लिए जिले में रही अव्वल, अब राष्ट्रीय स्तर के लिए स्कूल का हो रहा सर्वे

मदनगंज-किशनगढ़. एमएचआरडी नेशनल सर्वे का दल राजकीय बालिका उच्च प्राथमिक स्कूल में स्वच्छता को लेकर बच्चो से बातचीत करते हुए।

X
राजकीय बालिका स्कूल राजारेड्डी में एमएचआरडी प्रतिनिधियों ने किया सर्वे, 6 घंटे तक किया निरीक्षण
Click to listen..