--Advertisement--

चित्तौड़ से अफीम लाए थे तस्कर दोस्तों को सप्लाई करता था अारोपी

भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़ किशनगढ़ के निकट चूंदड़ी गांव के खेतों में 19 जून की रात को अफीम की सप्लाई के दौरान पकड़े...

Dainik Bhaskar

Jun 22, 2018, 04:55 AM IST
भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़

किशनगढ़ के निकट चूंदड़ी गांव के खेतों में 19 जून की रात को अफीम की सप्लाई के दौरान पकड़े गए चारों आरोपियों से पुलिस ने रिमांड अवधि के दूसरे दिन पूछताछ की। पकड़े गए मंदसौर, मध्यप्रदेश के तीनों आरोपी चित्तौड़ से अफीम लेकर किशनगढ़ पहुंचे। किशनगढ़ में वे शाहपुरा, जयपुर निवासीा मुकेश यादव को सप्लाई कर रहे थे। मुकेश यादव अपने दाेस्ताें के लिए अफीम मंगवाता है। पूर्व में भी कई बार अफीम मंगवा चुका है। अफीम मंगवाकर वह अफीम का सेवन करने वाले परिचितों, दोस्ताके को बेचने का काम करता है। पुलिस की रिमांड अविध के दौरान सामने आया कि इन चारों आरोपियाें के खिलाफ पूर्व में कोई आपराधिक मुकदमे दर्ज नहीं है। यानि ये बड़ी सफाई से अपराध कारित करते थे।

मामले की जांच कर रही रूपनगढ़ थाना प्रभारी सुमन चौधरी ने बताया कि पकड़े गए मंदसौर निवासी तीनों आरोपियाें ने चित्तौड़ से अफीम लाना कबूला है। लेकिन चित्तौड़ में कहां से अफीम लाए है इसके बारें में नहीं बताया। एसएचओ खुद मौके पर जाकर तस्दीक करेगी तब सच्चाई का पता चलेगा। इसके अलावा चारों आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। मालूम हो कि एटीएम और किशनगढ़ थाना पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए 19 जून की देर रात चूंदड़ी गांव के खेतों में दबिश देकर चार लोगों को अफीम सहित दबोचा था। पुलिस ने मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले के गुराडिया भावुगढ़ निवासी प्रकाश लाल (42) पुत्र रामलाल पाटीदार, रामकरण पाटीदार (50) पुत्र नानूराम तथा सुंदरलाल (26) पुत्र गोवर्द्धनलाल पाटीदार को पकड़ा था। जो अफीम सप्लाई करने आए थे। जबकि दूसरी कार में सवार शाहपुरा, जयपुर निवासी मुकेश (26) पुत्र हनुमान सहाय यादव अफीम खरीद रहा था। मुकेश के साथ एक 16 साल की नाबालिग लड़की भी मिली है जो कार में आगे बैठी थी।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..