--Advertisement--

ऑटो चालकों को वर्दी व नेमप्लेट के लिए सात दिन की दी मोहलत

भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़ शहर की बिगड़ती यातायात व्यवस्था को सुधारने के लिए किशनगढ़ ट्रैफिक थाने की ओर से...

Dainik Bhaskar

Jun 22, 2018, 04:55 AM IST
भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़

शहर की बिगड़ती यातायात व्यवस्था को सुधारने के लिए किशनगढ़ ट्रैफिक थाने की ओर से आल्टो चालकों के खिलाफ विशेष अभियान चलाया जाएगा। शहर के सभी ऑटो चालकों को सात दिन में अपने नेम प्लेट लगी खाकी वर्दी पहनने के निर्देश जारी किए है। सात दिन बाद यातायात पुलिस की ओर से टेम्पो जब्त करने, चालान बनाने की कार्रवाई की जाएगी। मालूम हो कि बदहाल यातायात व्यवस्था के बीच अवैध रूप से संचालित ऑटो भी जिम्मेदार है। शहर में ऑटो की संख्या 500 से ज्यादा है। जाम लगने वाले वाहनों में ऑटो की संख्या ज्यादा नजर आ जाएगी।

किशनगढ़ यातायात पुलिस थाने के प्रभारी टीएसआई रामदेव विश्नोई ने बताया कि उच्चाधिकारियों के निर्देशानुसार शहर में बिगड़ती यातायात व्यवस्था को सुधारने के लिए ऑटो चालकों के लिए वर्दी का निर्धारण किया है। ऑटो चालक को खाकी रंग की वर्दी पहननी होगी। उस वर्दी पर नेम प्लेट भी लगानी होगी। इसके लिए 21 से 27 जून तक यानि सात दिन ऑटो चालकों को नेम प्लेट लगी खाकी वर्दी पहनने का समय दिया गया है। इन सात दिन में सभी ऑटो चालक को वर्दी पहननी होगी। सात दिन बाद यानि 28 जून से पुलिस अभियान चलाएगी और नेम प्लेट लगी वर्दी नहीं पहनने वाले ऑटो चालकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगी। ऑटो चालकों को जब्त कर चालान बनाया जाएगा।

ऑटो पर मोबाइल नंबर और ना भी लिखे होने चाहिए

यातायात पुलिस के अनुसार ऑटो चालक को अपने ऑटो पर नाम व मोबाइल नंबर भी लिखवाने होंगे। ताकि उसके मोबाइल नंबर के जरिये उनसे संपर्क किया जा सके। नाम से पता लगाया जा सके कि ऑटो किसका है। ऑटो पर नाम और मोबाइल नंबर लिखा होना चाहिए। ऑटो चालकों ने लापरवाही बरती तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

ऑटो की शहर में भरमार, जाम से हो चुकी है अवाम परेशान : शहर की बदहाल यातायात व्यवस्था सिरदर्द बन चुकी है। सुबह से ही जाम लगना शुरू होता है जाम रात तक लगता है। अजमेर रोड स्थित पुरानी मिल चौराहा, कटला बाजार के बाहर, मुख्य चौराहा, सिटी रोड पुरानी मिल तिराहा, टांक पेट्रोल पंप के तिराहा, पुराना बस स्टेंड के पास जाम के हालात बने रहते है। इस जाम में ऑटो की संख्या ज्यादा रहती है। मुख्य चौराहे पर सवारी बैठाने के लिए तीन से चार ऑटो खड़े रहते है। राजकीय यज्ञनारायण अस्पताल के मुख्य द्वार पर चार से पांच की संख्या में ऑटो खड़े रहते है। कुल मिलाकर जाम में अवैध ऑटो की संख्या ज्यादा है। कई बार उपखंड अधिकारी, सीएलजी बैठक, परिवहन विभाग की बैठक में भी ये मुद्दे उठ चुके है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..