Hindi News »Rajasthan »Kishangarh» शूटरों को होटल में ठहराने वाला आरोपी गिरफ्तार

शूटरों को होटल में ठहराने वाला आरोपी गिरफ्तार

भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़ प्रॉपर्टी डीलर प्रदीप चौधरी पर फायरिंग के मामले में पुलिस ने शूटरों को ठहराने वाले...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 06, 2018, 04:55 AM IST

शूटरों को होटल में ठहराने वाला आरोपी गिरफ्तार
भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़

प्रॉपर्टी डीलर प्रदीप चौधरी पर फायरिंग के मामले में पुलिस ने शूटरों को ठहराने वाले आरोपी ऊंटड़ा निवासी आबिद (23) को उसके गांव से गिरफ्तार कर लिया। आरोपी अब तक पुलिस को गच्चा दे रहा था। उसे शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा। प्रकरण में पुलिस शूटरों का सहयोग करने वाले दो आरोपियों को पूर्व में ही गिरफ्तार कर चुकी है। वहीं यूपी से आए शार्प शूटर अभी भी फरार चल रहे हैं।

हमीर कॉलोनी में 9 अप्रैल की रात को भू कारोबारी प्रदीप चौधरी के मकान पर फायरिंग की घटना हुई थी। भू-कारोबारी प्रदीप चौधरी से लंबे समय से रामकेश मीणा हत्याकांड में शामिल रामस्वरूप गजनी जमीन के सौदे के एवज में पैसे मांग रहा था। चौधरी के पैसे नहीं देने पर गजनी को ये बात नागवार गुजरी। गजनी ने जेल में श्रवण सांसी हत्याकांड के मुख्य आरोपी दीपक मलिक का सहयोग लिया। दीपक मलिक और गजनी अजमेर सेंट्रल जेल में एक ही बैरक में बंद हैं। गजनी के कहने पर मलिक ने यूपी के आजमगढ़ से दो शार्प शूटर बुलवाए। शार्प शूटर मलिक की गैंग के ही है। पुलिस ने प्रकरण में सांवतसर निवासी रामस्वरूप उर्फ शूटर, मझेला रोड निवासी शुभम चौधरी को सबसे पहले गिरफ्तार किया था। आरोपियों ने शूटरों की रैकी करवाई थी और वारदात के समय दूरी पर खड़े थे। दोनों से दो देसी पिस्टल, जिंदा कारतूस बरामद 3 जिंदा कारतूस बरामद किए थे। पुलिस ने प्रोडक्शन वारंट के जरिये रामस्वरूप गजनी व गैंगस्टर दीपक मलिक को गिरफ्तार किया था। प्रकरण के बाद से ही शूटरों को जयपुर हाइवे पर होटल में ठहरवाने वाला आरोपी आबिद फरार चल रहा था। आबिद की तलाश में पुलिस ने जगह-जगह दबिश दी। कईं बार सीओ ओमप्रकाश किलानिया के नेतृत्व में ऊंटड़ा व गेगल क्षेत्र में दबिश दी। लेकिन आरोपी नहीं मिला। गांधीनगर थाना एसएचओ भागसिंह के नेतृत्व में कांस्टेबल सोनवीर व बीरबल ने ऊंटड़ा में दबिश दी और आराेपी आबिद को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी को शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा। प्रकरण में शार्प शूटर अब भी फरार है।

जमीन थी विवाद का कारण

गजनी ने अजमेर रोड फरासिया गांव के निकट स्थित 92 बीघा जमीन के सौदे को लेकर पैसे बाकी होना बताया है। गजनी भू कारोबारी प्रदीप चौधरी से पैसे मांगता है। ये वही जमीन है जिसको लेकर हिस्ट्रीशीटर धर्मेंद्र चौधरी और रामकेश मीणा के बीच विवाद चल रहा था। 2014 में जमीन को लेकर रामकेश मीणा ग्रुप के लोगांे के बीच विवाद हुआ था।

आरोपी आबिद

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kishangarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×