--Advertisement--

वाहनों की पीयूसी बनी चालकों के लिए सिरदर्द

भास्कर न्यूज| मदनगंज-किशनगढ़ सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (इरडा) ने इंश्योरेंस...

Dainik Bhaskar

Jul 23, 2018, 04:55 AM IST
वाहनों की पीयूसी बनी चालकों के लिए सिरदर्द
भास्कर न्यूज| मदनगंज-किशनगढ़

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (इरडा) ने इंश्योरेंस कंपनियों को किसी भी वाहन के बिना पीयूसी (पॉल्यूशन अंडर कंट्रोल) सर्टिफिकेट होने पर उसका बीमा नहीं करने के निर्देश दिए हैं। वाहनों के बीमा का हर साल नवीनीकरण होता है। इरडा के निर्देश के बाद सड़कों पर बिना पीयूसी दौड़ रहे वाहनों पर पेनल्टी लगाने का काम भी शुरू हो गया है। हाल यह है कि टू व्हीलर की पीयूसी अवधि निकले एक महीना बीता हो तो 200 रुपए पेनल्टी भरनी होगी। एक महीने से अधिक अवधि होने पर यह पेनल्टी 500 रुपए होगी। इसी प्रकार फोर व्हीलर को एक महीने एक्सपायरी पर 500 रुपए पेनल्टी चुकानी होगी। एक माह से अधिक होने पर यह जुर्माना पूरे 1000 रुपए होगा। पीयूसी की अंतिम तारीख के सात दिन में बिना पेनल्टी फिर यह जांच करवाई जा सकेगी। पीयूसी में फेल हुए वाहन की जांच भी 7 दिन में फिर करवाई जा सकेगी। मालूम हाे कि किशनगढ़ में रजिस्टर्ड करीब 1 लाख वाहन सड़कों पर दौड़ रहे हैं। इनमें से महज 19 हजार 851 वाहनों के ही पीयूसी सर्टिफिकेट जारी हुए हैं। यानि 20 हजार वाहनों के भी पीयूसी नहीं है। अभी शहर में कुल आठ स्थानों पर पीयूसी जांच कर सर्टिफिकेट जारी करने का काम हो रहा है। औसतन 139 गाड़ियों की जांच हो रही है। पिछले तीन माह में 3 हजार 747 टू व्हीलर्स की पीयूसी हुई। वहीं इसी अवधि में 5, हजार से ज्यादा फोर व्हीलर्स ने भी पीयूसी जांच करवाई।

ऑनलाइन पीयूसी में जुर्माने की रसीद ई-मित्र से कटवानी होगी

अगर वाहन का पीयूसी लेने जाते हैं और डेट निकल चुकी है तो आपको पहले जुर्माने की रसीद कटवाने ई-मित्र पर जाना होगा। यहां चार पहिया वाहन के लिए 1000 रुपए और दुपहिया वाहन के लिए 500 रुपए की रसीद कटवानी होगी। ई-मित्र इसके लिए 6 रुपए शुल्क लेंगे। यह रसीद दिखाकर चार पहिया पेट्रोल वाहन 50 रुपए, चार पहिया डीजल वाहन 100 रुपए और दुपहिया वाहन 50 रुपए में पीयूसी करवा सकेगा। लेकिन ई-मित्र संचालकों द्वारा ज्यादा पैसे वसूलने की भी शिकायतें सामने आ रही है। उनके खिलाफ उपखंड अधिकारी को शिकायत की जा सकती है। ई-मित्र संचालकों से रसीद प्राप्त जरूर करें।

कब करानी होगी जांच

 मुझे कब पीयूसी जांच करवानी होगी?

 हर 6 माह में वाहनों को पीयूसी जांच करवानी होगी।

 बिना पीयूसी वाहन चलाने में क्या दिक्कत होगी?

 ट्रैफिक पुलिस चालान काटेगी। वाहन को सीज करने तक की कार्रवाई हो सकती है।

 मेरे टू व्हीलर अथवा फोर व्हीलर की एक महीने से पीयूसी नहीं है, कितनी राशि देनी होगी?

 टू व्हीलर का 256 रुपए का चालान कटेगा। इसमें 200 रु. फाइन, 50 रु. पीयूसी चार्जेस व 6 रु. ईमित्र चार्ज होंगे। इसी प्रकार फोर व्हीलर पर 500 रुपए फाइन लगेगा। पेट्रोल वाहन की पीयूसी 50 रु. व डीजल की 100 रु. में होगी। 6 रु. ई मित्र चार्ज होंगे। पेनल्टी राशि 1 महीने से ज्यादा होने पर बढ़ जाएगी।

 मेरे वाहन का पीयूसी एक्सपायर हो चुका, क्या कोई रियायत मिलेगी?

 आरटीओ से कोई रियायत नहीं मिलेगी।

 पीयूसी नहीं है तो क्या इंश्योरेंस क्लेम में भी कोई दिक्कत?

 इंश्योरेंस क्लेम रुक जाएगा।

 क्या मोबाइल एप से भी चुका सकते हैं जुर्माना?

 मोबाइल पर ई मित्र एप डाउनलोड कर उस पर भी जुर्माने की राशि भरी जा सकती है।

इनका कहना है




X
वाहनों की पीयूसी बनी चालकों के लिए सिरदर्द
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..