• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Kishangarh News
  • स्टेशन के पास युवकों ने महिला व उसके दो बेटों से की मारपीट, नकदी व मोबाइल छीनकर ले भागे
--Advertisement--

स्टेशन के पास युवकों ने महिला व उसके दो बेटों से की मारपीट, नकदी व मोबाइल छीनकर ले भागे

भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़ रेलवे स्टेशन के पास 27 जुलाई की रात को दिल्ली जाने के लिए अपने दो बेटों के साथ बाइक पर...

Dainik Bhaskar

Jul 30, 2018, 04:55 AM IST
भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़

रेलवे स्टेशन के पास 27 जुलाई की रात को दिल्ली जाने के लिए अपने दो बेटों के साथ बाइक पर जा रही महिला व उसके बेटों के साथ आठ-नौ युवकों ने रास्ता रोककर मारपीट कर दी। युवकों ने नकदी व मोबाइल छीन लिया।

घटना से घबराई महिला चिल्लाती हुई दौड़ी। मौका देख युवक माैके से फरार हो गए। घबराई हुई महिला अपने बेटों के साथ गांधीनगर थाने पहुंची और रिपोर्ट दर्ज कराई। घटना के बारे में बताने के बावजूद तत्काल पुलिस मौके पर बदमाशों को पकड़ने के लिए रवाना नहीं हुई। पंद्रह से बीस मिनट के बाद जब पुलिस रवाना हुई तब तक बदमाश फरार हो चुके थे। पुलिस ने बदमाशों के खिलाफ मामला दर्ज कर तलाश शुरू कर दी।

गांधीनगर थाने में गजानंद कॉलोनी रामनेर रोड निवासी तरुण झारोटिया पुत्र अनिल ने रिपोर्ट दर्ज कराई। रिपोर्ट में बताया कि 27 जुलाई की रात 10.30 से 11 बजे के बीच किशनगढ़ से दिल्ली जाने के लिए ट्रेन में सवार होने वह अपनी मम्मी प्रतिभा देवी और भाई अभिषेक के लिए रेलवे स्टेशन के लिए बाइक पर रवाना हुआ।

इसी दौरान सुंदर नगर के पास से अज्ञात लोग दो बाइक पर सवार होकर हमारी बाइक का पीछा करने लगे। एक बाइक पर आगे की नंबर प्लेट पर आरजे 42 एसडी 7886 और पीछे की नंबर प्लेट पर महाकाल लिखा हुआ था। दोनों गाड़ियों पर तीन-तीन लोग सवार थे। उन्होंने हमारी बाइक को स्टेशन रोड के पास रास्ता रोककर रुकवा लिया। युवकों ने गाली-गलौच करना शुरू कर दिया। युवक हम तीनों के साथ मारपीट करने लगे। तीनों को बुरी तरह मारा और मम्मी का मोबाइल और 15 हजार रुपए नकदी, 1500 रुपए अलग नकदी छीनकर भाग गए। घटना के बाद मां प्रतिभा घबराकर चिल्लाने लगी और सड़क पर दौड़ी। तभी एक राहगीर आता नजर आया तो युवक मौके से फरार हो गए।

घटना के बाद गांधीनगर थाने में युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया। पीड़ितोंं ने आरोप लगाया कि गांधीनगर थाने जाने के बाद पुलिस को आपबीती बताई गई। लेकिन पुलिस पंद्रह से बीस मिनट देरी से रवाना हुई। अगर तत्काल रवाना हो जाती तो बदमाश पकड़े जा सकते थे।

निगेटिव न्यूज सेक्शन

िसर्फ वही नकारात्मक खबर, जो आपको जानना जरूरी है

सुनसान होने के कारण बना है खतरा, आम यात्री असुरक्षित

तरुण झारोटिया ने बताया कि स्टेशन रोड वाला रास्ता रात को पूरी तरह सुनसान रहता है। वहां चाय की होटल पर असामाजिक तत्व, युवक बैठे रहते है। देर रात को इन युवकों का वहां क्या काम। सुनसान होने के बावजूद यहां ना तो सीसीटीवी है और ना ही पुलिस गश्त रहती है। चौकीदार तक नहीं है। ऐसे में यात्रियों के लिए ये जगह असुरक्षित है। रात को महिला का आना तो जानलेवा साबित हो सकता है। पुरुष यात्री के साथ भी मारपीट कर लूटपाट हो सकती है। तरुण ने बताया कि जब हम तीनों के साथ रात के 11 बजे मारपीट व लूटपाट कर सकते है तो अन्य यात्रियों की सुरक्षा की जिम्मेदारी कौन लेगा।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..