• Hindi News
  • Rajasthan
  • Kishangarh
  • छत के रोशनदान को तोड़कर सूने मकान से दिनदहाड़े लाखों की चोरी
--Advertisement--

छत के रोशनदान को तोड़कर सूने मकान से दिनदहाड़े लाखों की चोरी

Kishangarh News - भास्कर न्यूज | मदनगंज-किशनगढ़ शास्त्री नगर क्षेत्र में गुरुवार को दिनदहाड़े अज्ञात चोरों ने सूने मकान को निशाना...

Dainik Bhaskar

Jun 16, 2018, 05:05 AM IST
छत के रोशनदान को तोड़कर सूने मकान से दिनदहाड़े लाखों की चोरी
भास्कर न्यूज | मदनगंज-किशनगढ़

शास्त्री नगर क्षेत्र में गुरुवार को दिनदहाड़े अज्ञात चोरों ने सूने मकान को निशाना बनाते हुए लाखों रुपए का सामान चुरा लिया। चौंकाने वाली बात ये रही कि चोरों ने मकान की छत पर चढ़कर रोशनदान को तोड़ा और भीतर प्रवेश किया। चोरों ने दो मकानों को निशाना बनाया लेकिन जल्दबाजी में एक ही मकान से सामान चुराने में कामयाब हो सके। घटना का पता देर रात को मकान में सोने आए परिचित को सामान बिखरा होने पर चला। परिवार के लोग वैष्णो देवी माता के दर्शनों के लिए गए हुए थे इसलिए मकान सूना था। पुलिस ने चोरी का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

जानकारी के अनुसार मिर्जा बावड़ी रोड शास्त्री नगर में अनिल पारीक और उनके भाई संपत पारीक का मकान है। दोनों भाई परिवार के साथ 9 जून को वैष्णो देवी के लिए रवाना हुए थे। इस कारण पीछे से मकान सूना था। हालांकि परिवार के मुखियाओं ने अपने रिश्तेदारों के रात में रुकने की व्यवस्था कर रखी थी लेकिन दिन में मकान सूना रहता था। इसका फायदा उठाते हुए गुरुवार दोपहर को अज्ञात चोर दिनदहाड़े मकान की छतों पर चढ़े। चोरों ने मकान में घुसने के लिए छत पर बने रोशनदान का सहारा लिया और उसके जंगले को तोड़कर भीतर उतर गए। वहां अनिल पारीक के मकान के कमरों के ताले तोड़कर चोरों ने लाखों का सामान चुरा लिया। चोरों ने कमरों की अलमारी, बक्से को तोड़कर नकदी व जेवरात चुरा लिए। परिवार के लोगों के अनुसार चोरों ने मकान से 92 हजार की नकदी, चार-पांच तोला सोने के आभूषण, एक किलो चांदी सहित अन्य सामान चुरा लिया।

एक मकान से साफ किया लाखों का माल, देरी होने पर दूसरे मकान के ताले तोड़कर हुए रवाना, दोनों मकान मालिक वैष्णोदेवी दर्शन के लिए गए हुए थे

देर रात मकान में सोने के आए परिचित को बिखरा मिला सामान

मदनगंज-किशनगढ़. सूने मकान में चोरी की घटना के बाद मौका मुआयना करती पुलिस। इधर चोरों ने छत पर तोड़ा रोशनदान।

संपत के मकान में भी किया प्रयास, लेकिन नहीं चुराया माल

चोरों ने अनिल के मकान को निशाना बनाने के बाद संपत के मकान में भी प्रवेश किया। वहां कमरों से अलमारी का लॉक तोड़ने का प्रयास किया लेकिन लॉक तोड़ने में सफल नहीं हो पाए। संभवत: अनिल पारीक के मकान में सामान चुराने के दौरान चोरों को काफी वक्त हो गया। इस कारण चोर संपत के मकान के ताले तोड़कर ही फरार हो गए। इसलिए संपत के मकान का सामान बच गया।

मकान के भीतर से ली चाबियां और खोलकर मुख्य रास्ते से गए

अनिल पारीक के मकान के भीतर सीढ़ियों की चाबियां टंगी हुई थी। चोरों ने आराम से चाबी से सीढ़ियों व अन्य जगह लगे तालों को खोला। इसके बाद चोरी का सामान मुख्य रास्ते से ले गए। यानि चोर जानकार थे जिन्हें दिन में मकान सूना होने, मकान के भीतर रोशनदान के रास्ते से प्रवेश करने और भीतर चाबियां टंगी होने की पूरी जानकारी दी। हालांकि दरवाजे बाहर से बंद थे लेकिन चोरों ने खिड़की से निकलने का सहारा लिया। पूरी घटना की भनक किसी को नहीं लगी। चोरों ने दोपहर 2 से 4 यानी तेज दोपहरी के समय चोरी की घटना को अंजाम दिया। जब हर कोई अपने-अपने घरों में रहता है।

चौंकाने वाली बात..... 10 फीट ऊंचे रोशनदान से कूदकर घर में घुसे चोर लेकिन आस-पड़ौस में किसी को पता नहीं चला

चोरी के लिए चोरों ने मकान की छत पर बने रोशनदान की खिड़की को तोड़ा। उसके बाद रोशनदान से कूदकर भीतर प्रवेश किया। चौंकाने वाली बात ये है कि रोशनदान दस फीट ऊंचाई पर है। ऐसे में दस फीट की ऊंचाई से कूदना हर किसी के बस की बात नहीं। ऐसे में चोरों के 18 से 25 साल की उम्र के थे। इससे ज्यादा उम्र का इंसान इतनी ऊंचाई से नहीं कूद सकता। पूरी घटना की मोहल्लेवासियों को भनक तक नहीं लगी। जबकि सभी मकान सटे हुए हैं। पुलिस भी इतनी ऊंचाई को देखकर दंग रह गई। घटना की जानकारी घर पर परिचित के आने पर मिली। इसके बाद मौके पर भीड़ जमा हो गई। घटना का पता चलते ही पारीक बंधु अपने परिवार के साथ किशनगढ़ रवाना हो गए। मदनगंज थाना प्रभारी राजेंद्र खंडेलवाल मय जाप्ता मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली।

छत के रोशनदान को तोड़कर सूने मकान से दिनदहाड़े लाखों की चोरी
X
छत के रोशनदान को तोड़कर सूने मकान से दिनदहाड़े लाखों की चोरी
छत के रोशनदान को तोड़कर सूने मकान से दिनदहाड़े लाखों की चोरी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..