Hindi News »Rajasthan »Kishangarh» रात आठ बजे बाद बिक रही थी शराब, डीएसपी ने वीडियो क्लिपिंग भेजी तो आबकारी इंसपेक्टर ने फोन बंद कर दिया

रात आठ बजे बाद बिक रही थी शराब, डीएसपी ने वीडियो क्लिपिंग भेजी तो आबकारी इंसपेक्टर ने फोन बंद कर दिया

विकास टिंकर| मदनगंज-किशनगढ़ रामनेर चौराहे पर सोमवार रात को 8.20 बजे शराब की दुकान का शटर खोलकर नीचे से शराब बेची जा...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 18, 2018, 05:05 AM IST

रात आठ बजे बाद बिक रही थी शराब, डीएसपी ने वीडियो क्लिपिंग भेजी तो आबकारी इंसपेक्टर ने फोन बंद कर दिया
विकास टिंकर| मदनगंज-किशनगढ़

रामनेर चौराहे पर सोमवार रात को 8.20 बजे शराब की दुकान का शटर खोलकर नीचे से शराब बेची जा रही थी। पुलिस उपाधीक्षक ओमप्रकाश किलानिया ने शराब की अवैध बिक्री की फोटो खींचकर वीडियो बना ली और आबकारी इंस्पेक्टर को फोन कर मौके पर आने को कहा। इंस्पेक्टर ने आने की कहकर फोन की स्विच ऑफ कर लिया। लेकिन मौके पर कोई आबकारी अधिकारी, इंस्पेक्टर, कर्मचारी नहीं आए। इंतजार में डीवाईएसपी शराब की दुकान के सामने खड़े रहे लेकिन कोई नहीं आया। इस पर डीवाईएसपी ने पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखकर शिकायत की है। शिकायत में वीडियो और फोटो भी साथ अटैच की गई है।

जानकारी के अनुसार सोमवार रात को पुलिस उपाधीक्षक आेमप्रकाश किलानिया रात्रि गश्त के हिसाब से शहर का राउंड कर रहे थे। रात 8.20 बजे डीवाईएसपी को रामनेर चौराहे पर शराब की दुकान खुली मिली। दुकान का शटर खुला था और नीचे से अवैध रूप से शराब बेची जा रही थी। इस पर काफी देर तक डीवाईएसपी ने अवैध बिक्री देखी और उतरकर उसका वीडियो बनाने लगे। वीडियो बनाने के साथ ही फोटो खींची। इस पर सेल्समेन मौके से रवाना हो गया।

डीवाईएसपी ने तुरंत किशनगढ़ आबकारी इंस्पेक्टर को मोबाइल पर कॉल लगाया और रामनेर चौराहे पर रात 8 बजे बाद दुकान का शटर खोलकर नीचे से अवैध रूप से शराब बेची जाने की जानकारी देते हुए कार्रवाई के लिए मौके पर बुलाया। इस पर इंस्पेक्टर ने आने की बात कही। डीवाईएसपी काफी देर तक इंस्पेक्टर के आने का इंतजार करते रहे। लेकिन कोई नहीं आया। इस पर डीवाईएसपी ने इंस्पेक्टर के मोबाइल पर फोन लगाया तो फोन स्विच ऑफ आया। यानि इंस्पेक्टर ने आने की बजाय फोन बंद कर लिया।

डीवाईएसपी ने पुलिस अधीक्षक को लिखित में भेजी शिकायत, रात 8.20 बजे शटर खोलकर नीचे से बेच रहे थे शराब, डीवाईएसपी ने फोटो खींची और वीडियो बनाई, लेकिन आबकारी विभाग ने नहीं की कार्रवाई

हौंसले इतने बुलंद की डीवाईएसपी रैंक के अधिकारी की भी नहीं सुनी

शहर में इन जगहों पर रात 8 बजे बाद ही होती है असली कमाई

शहर में पुरानी मिल चौराहा, सुमेर टॉकिज तिराहा, कृष्णापुरी पावरहाऊस के सामने, होटल बणी ठणी के पास दोनांे तरफ, हाऊसिंग बोर्ड के पास, पुराने बस स्टेंड, रामनेर चौराहा, मकराना चौराहा, नया शहर, पुराना शहर, मझेला लिंक रोड, राजारेडी सहित अधिकांश शराब की दुकानों पर असली बिक्री रात 8 बजे बाद ही होती है। बिक्री की आड़ में गैरकानूनी कार्य तक किए जाते है। इसके बावजूद कोई कार्रवाई नहीं होती।

शहर में शराब माफियाआंे के हौंसले इतने बुलंद है कि आम जन की शिकायतें तो अधिकारियांे तक ही नहीं पहुंचती। शिकायत करने वालांे को सेल्समेन ही धमकाकर भगा देते है। रात 8 बजे बाद महंगे दामों पर शराब बेची जाती है। सबसे बड़ा सवाल ये है कि डीवाईएसपी रैंक के अधिकारी खुद मौके पर जाकर रात 8 बजे बाद अवैध शराब बिक्री का वीडियो बना रहे है और आबकारी इंस्पेक्टर को सूचना दे रहे है। इसके बावजूद आबकारी विभाग कोई कार्रवाई नहीं कर रहा। बल्कि फोन स्वीच ऑफ करके अपनी ड्यूटी से फ्री हो गया। ऐसे में आमजन पर कैसा संदेश पहुंचेगा।

डीवाईएसपी ने एसपी से की शिकायत, एक कॉपी आबकारी अधिकारी को भिजवाई

पुलिस उपाधीक्षक आेमप्रकाश किलानिया ने आबकारी विभाग की ओर से शिकायत के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं करने पर पुलिस अधीक्षक को शिकायती पत्र लिखा है। उसमें रामनेर चौराहे पर रात 8 बजे बाद अवैध रूप से शराब बेचने की शिकायत करते हुए आबकारी इंस्पेक्टर को सूचना देने के बावजूद नहीं आने और फोन स्वीच ऑफ करने की बात लिखी है। डिप्टी ने वीडियो और फोटो साथ अटैच करके भेजी है। एक कॉपी जिला आबकारी ड्यूटी ऑफिसर को भी भेजी है। भास्कर ने किशनगढ़ आबकारी सीआई प्रेम कुमार को फोन लगाकर संपर्क करने का प्रयास किया लेकिन उन्हांेने फोन रिसीव नहीं किया।

कार्रवाई करवाकर मानेंगे

मैं रात 8.20 बजे रामनेर चौराहे की ओर से गुजर रहा था। वहां शराब की दुकान का शटर खुला था और नीचे से शराब बेची जा रही थी। मैने अवैध बिक्री का वीडियो बनाया और फोटो खींची। इसके बाद अाबकारी इंस्पेक्टर को फोन कर मौके पर आने के लिए कहा। इंस्पेक्टर ने आने के लिए कहा लेकिन मौके पर नहीं पहुंचा। वापस फोन लगाया तो इंस्पेक्टर ने फोन स्विच ऑफ कर लिया। मौके पर कोई नहीं आया। मैनें रिपोर्ट बनाकर पुलिस अधीक्षक और आबकारी अधिकारी को भेजी है। साथ ही फोटो और वीडियो भी भेजा है। कार्रवाई करवा कर रहेेंगे। ओमप्रकाश किलानिया, पुलिस उपाधीक्षक, किशनगढ़

अपडेट शिकायत नहीं मिली

मेरे पास रात को कॉल आया था। मैने संबंधित को भेजा भी और पाबंद करने के लिए कहा है। उसके बाद मेेरे पास कोई अपडेट शिकायत नहीं आई है। अगर मेेरे पास पुलिस की ओर से तहरीर आती है तो मैं मुकदमा दर्ज कराकर कार्रवाई करूंगा। एनएल राठी, जिला आबकारी अधिकारी अजमेर

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kishangarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×