• Hindi News
  • Rajasthan
  • Kishangarh
  • वाहन चोरों को पकड़ने में मददगार बनेगी ट्रैफिक पुलिस
--Advertisement--

वाहन चोरों को पकड़ने में मददगार बनेगी ट्रैफिक पुलिस

Kishangarh News - भास्कर न्यूज| मदनगंज-किशनगढ़ शहर में ट्रैफिक पुलिसकर्मियों के हाथों में जल्द ही चालान बुक की जगह पर ई-मशीनें नजर...

Dainik Bhaskar

Jul 18, 2018, 05:05 AM IST
वाहन चोरों को पकड़ने में मददगार बनेगी ट्रैफिक पुलिस
भास्कर न्यूज| मदनगंज-किशनगढ़

शहर में ट्रैफिक पुलिसकर्मियों के हाथों में जल्द ही चालान बुक की जगह पर ई-मशीनें नजर आएंगी। अजमेर पुलिस लाइन में 23 ई-चालान मशीनें आ गई है। किशनगढ़ के लिए 4 ई-चालान मशीनें जुलाई माह में आ जाएगी। ट्रैफिक के नियम तोड़ने वालों से इन मशीनों के जरिए ही चालान कर जुर्माना वसूल किया जाएगा। यह मशीनें शहर में चोरी के वाहन पकड़ने में भी मददगार साबित होंगी। वाहन चोरी होने पर इसका डेटा मशीन में डाला जाएगा। ट्रैफिक नियम तोड़ने पर वाहन चालक के पकड़े जाने पर पुलिस इनकी गाड़ी के नंबर जैसे ही ई-चालान मशीन में डालेगी तो वाहन चोरी का खुलासा हो जाएगा। मशीन से गाड़ी चोरी की होने का पता चलते ही ट्रैफिक पुलिस ऐसे वाहन चालकों को तुरंत पकड़कर पुलिस के हवाले कर देगी।

पुलिस मुख्यालय ने ई-मशीनों को पायलट प्रोजेक्ट योजना के तहत शुरू किया है। ई-चालान मशीनों में डेबिट और क्रेडिट कार्ड से भी चालान का पेमेंट किया जा सकता है। ट्रैफिक थाना किशनगढ़ के इंचार्ज रामदेव विश्नोई ने बताया कि अजमेर में ई-चालान की मशीनें पहुंच गई है। इसी माह किशनगढ़ में भी मशीनें आ जाएंगी।

ई-चालान होने पर बार-बार ट्रैफिक पुलिस के पास नहीं जाना पड़ेगा

एएसपी राजेंद्र सिंह के मुताबिक आम लोगों को ई-चालान होने से बार-बार ट्रैफिक पुलिस के पास भी नहीं जाना पड़ेगा। मशीन में पहले से जुर्माने की राशि फीड होगी, जिससे पुलिस और वाहन चालक के बीच में कहासुनी भी नहीं होगी। रसीद के आधार पर जुर्माना भरा जा सकेगा।

जानिए, इस तरह काम करेगी ई-चालान मशीन

मशीनों में चिप लगी होगी, जिसके जरिए मशीन को सर्वर से जाेड़ा जाएगा। मशीन में ट्रैफिक के सभी नियमों को लेकर कोडिंग दी गई है। नियम तोड़ने पर कोड डालते ही वाहन चालक का नाम डालकर तुरंत ही चालान कर दिया जाएगा। इसके बाद से वाहन चालकों को ई-चालान होने के बाद से ट्रैफिक पुलिस के पास चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। नियम तोड़ने के बाद से वाहन चालकों से मौके पर ही जुर्माना वसूल कर लिया जाएगा। यदि वाहन चालक के पास दस्तावेज नहीं हैं तो वाहन को जब्त कर लिया जाएगा और वाहन के दस्तावेज दिखाने के बाद जुर्माना वसूल कर लिया जाएगा।

मशीन की स्क्रीन पर आ जाएगी वाहन से जुड़ी तमाम जानकारियां

वाहनों के नंबर डालने पर उसके बारे में तमाम जानकारी स्क्रीन पर आ जाती है। इसके अलावा लाइसेंस नंबर डालने पर भी नाम, पता और सभी जानकारी आ जाएगी। अगर वाहन चालक के पास चोरी की गाड़ी होगी तो उससे संबंधित जानकारी भी स्क्रीन पर आ जाएगी। मशीन में एक चिप लगी होगी जो सीधे सर्वर से जुड़ी होगी। उसमें वाहन नंबर, वाहन चालक के लाइसेंस इत्यादि सभी जानकारी होंगी।

X
वाहन चोरों को पकड़ने में मददगार बनेगी ट्रैफिक पुलिस
Astrology

Recommended

Click to listen..