Hindi News »Rajasthan »Kishangarh» तीन दिन में खत्म नहीं हुई हड़ताल तो बढ़ेगी महंगाई

तीन दिन में खत्म नहीं हुई हड़ताल तो बढ़ेगी महंगाई

भास्कर न्यूज| मदनगंज किशनगढ़ शहर में आने वाले 3 दिन में ट्रांसपोर्टरों की हड़ताल नहीं टूटी है तो आटा 25, दालें 70 और...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 27, 2018, 05:05 AM IST

तीन दिन में खत्म नहीं हुई हड़ताल तो बढ़ेगी महंगाई
भास्कर न्यूज| मदनगंज किशनगढ़

शहर में आने वाले 3 दिन में ट्रांसपोर्टरों की हड़ताल नहीं टूटी है तो आटा 25, दालें 70 और शक्कर 45 रुपए किलो तक बिकेगी। मसालों में भी 10 से 15 रुपए की तेजी और तेल के टिन 20 और देशी घी के टिन भी 50 रुपए तक महंगे हो जाएंगे। शहर के किराणा व्यापारियों के पास अब मोटे तौर पर तीन दिन का ही स्टॉक पड़ा है। इसके बाद स्टॉक धीरे-धीरे साफ होने लगेगा। अब जुलाई महीना समाप्ति की ओर है, ऐसे में सर्विस पेशे से जुड़े लोग भी अगस्त के पहले सप्ताह से किराणा लेने के लिए बाजार में आ जाएंगे। अब तक किराणे पर बड़ा फर्क नहीं आने का मुख्य कारण देव सो जाने के कारण बड़े स्तर पर उठाव नहीं होना रहा है। मगर अब स्टॉक पर भी संकट आने लगा है।

आटा: बढ़ सकता है 100 से 150 रुपए क्विंटल का भाव

सामान्य तौर पर शहर में रोजाना करीब 750 कट्टे की खपत आटे की होती है। अभी तीन दिन तक का स्टॉक बाजार मेें है। आटा जयपुर, किशनगढ़ तथा आसपास के क्षेत्रों सहित अजमेर के आैद्योगिक एरिए से आता है। हालांकि आसपास की फैक्ट्रियों से अावक गुपचुप में जारी है, मगर यह आवक नाकाफी साबित होगी। आटा अभी होलसेल भाव में 20 ये 23 रुपए तक बिक रहा है, जो 25 रुपए तक पहुंच जाएगा।

मसाले:5 रुपए तेजी के आसार

शहर में रोजाना 7 क्विंटल तक मसाला खर्च हो जाता है। मुख्य तौर पर गुंटूर से आने वाली मिर्च, सेलम से आने वाली हल्दी तो बाजार में खत्म होने के कगार पर है। आसपास के इलाकों में लगे उद्योगों एवं फैक्ट्रियों से भी माल ट्रांसपोर्ट नहीं हो रहा। सभी प्रकार के मसालों पर 5 रुपए तक की तेजी के अासार है।

दाल: 10 से 12 रुपए प्रति किलो उछाल के आसार

शहर में रोजाना सभी प्रकार की दालों का करीब 75 क्विंटल तक खपत यानी बिक्री हो जाती है। थोक मार्केट में अभी 400 क्विटंल से ज्यादा माल है। यह तीन दिन बाद में कम पड़ने लगेगा। अभी सामान्य तौर पर दाल 60 रुपए किलो तक आ रही है, बाद में इनके भाव 70 या इससे ज्यादा तक जा सकते हैं। दाल की आवक यूपी, एमपी, गुजरात और राजस्थान के कुछ शहरों से होती है।

शक्कर: 5 रुपए तेज हो सकती है शक्कर की मिठास

शक्कर की खपत शहर में अनुमानित तौर पर 100 क्विंटल के आसपास है। बाजार में तीन से चार दिन का स्टॉक अभी तो है। यदि स्टॉक साफ होने लगा तो व्यापारी दाम बढ़ाने से गुरेज नहीं करेंगे। होलसेल मार्केट में औसतन 40 रुपए किलो आने वाली शक्कर 45 पार भी जा सकती है। शक्कर शहर में यूपी और महाराष्ट्र से आती है।

घी-तेल: तेल पर 20 और घी पर 50 रुपए टीन तक तेजी होगी

अनुमानित तौर पर शहर में एक हजार टीन तेल तथा 100 टीन देशी घी की खपत होती है। हालांकि तीन से चार दिनों का स्टॉक है। मगर यदि माल क आवक नहीं हुई तो इनमें भी तेजी संभव है। हालांंकि डेयरी का घी बाजार में लगातार आ रहा है। हड़ताल नहीं टूटने और स्टॉक समाप्ति की ओर से होने पर 20 रुपए तथा घी पर अधिकतम 50 रुपए की तेजी संभव है।

ट्रक ऑपरेटर की हड़ताल सातवें दिन भी जारी, अब तक 50 करोड़ से ज्यादा का नुकसान

ट्रक ऑपरेटर्स की देशव्यापी हड़ताल गुरुवार को सातवें दिन भी जारी रही। करीब 3 हजार ट्रकों के पहिये थमे रहे। बुकिंग, डिलिवरी और लदान पूरी तरह बंद रहने से ट्रांसपोर्ट कारोबार सहित अन्य व्यवसाय मिलाकर करीब 50 करोड़ से ज्यादा का कारोबार प्रभावित होने का अनुमान है। ट्रांसपोर्ट व्यापारी एकत्रित होकर बैठे रहे। किशनगढ़ के मार्बल उद्योग में प्रतिदिन करीब 350 ट्रकों से माल लदान होता है। ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट यूनियन के आह्वान पर गुरुवार को सातवें दिन भी ट्रांसपोर्टर्स हड़ताल पर रहे। किशनगढ़ ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन थोक सेक्शन तथा विकास समिति के बैनरतले ट्रांसपोर्टर्स सुबह रामनेर चौराहे के पास स्थित कार्यालय पर एकत्रित हुए। हड़ताल का असर जनजीवन पर पड़ने लगा है। अब खाद्य सामग्रियों के दाम बढ़ने लगे हैं। जानकारों की मानें तो वर्तमान समय तक सब्जियों से लेकर खाद्य पदार्थों के स्टॉक पूरे हैं लेकिन अब डिमांड बढ़ने के साथ ही खपत बढ़ रही है। जबकि उत्पादन का माल मंडियों में नहीं पहुंच रहा। ऐसे में आमजन को परेशानी का सामना करना पड़ेगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kishangarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×