Hindi News »Rajasthan »Kishangarh» कल्पवृक्ष जोड़ों की पूजा-अर्चना कर मांगी परिवार की सुख समृद्धि

कल्पवृक्ष जोड़ों की पूजा-अर्चना कर मांगी परिवार की सुख समृद्धि

भास्कर न्यूज| मदनगंज किशनगढ़ हरियाली व शनि अमावस्या पर तीखी धूप निकलने से हरियाली अमावस्या का उल्लास...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 12, 2018, 05:05 AM IST

कल्पवृक्ष जोड़ों की पूजा-अर्चना कर मांगी परिवार की सुख समृद्धि
भास्कर न्यूज| मदनगंज किशनगढ़

हरियाली व शनि अमावस्या पर तीखी धूप निकलने से हरियाली अमावस्या का उल्लास श्रद्धालुओं में कम ही रहा। शनि मंदिरों पर विशेष पूजा अर्चना के लिए भक्तों की भीड़ उमड़ी। आसमान में बादलों और सूर्य के बीच दिनभर लुका छिपी होती रही। तीखी धूप परेशान करती रही। सुबह से शाम तक कल्पवृक्ष जोड़ों की पूजा अर्चना करने के लिए बंधा बालाजी मंडावरिया, आसन टेकरी स्थिति माता काली के मंदिर, नारायणी माता मंदिर परिसर में कल्पवृक्षों की पूजा अर्चना करने के लिए भक्त आए। दूर-दूर से महिलाएं कल्पवृक्षों की पूजा अर्चना के लिए आई और विधि विधान से पूजा अर्चना कर परिवार के लिए सुख समृद्धि की कामना की। पीतांबर की गाल, उदयपुर कलां, धौलिया माता मंदिर क्षेत्र उदयपुर का बंदा तथा अन्य क्षेत्र में गत वर्ष की अपेक्षा इस बार बहुत कम संख्या में लोगों ने पिकनिक का आनंद लिया।

बंधा के बालाजी मंडावरिया में भरा कल्पवृक्ष का मेला : ग्राम मंडावरिया मार्ग स्थित बंधा के बालाजी मंदिर परिसर पर कल्पवृक्ष की पूजा अर्चना करने के लिए दिनभर श्रद्धालुओं की भीड़ रही। भक्तों ने श्रद्धा व उल्लास के साथ सपरिवार जोड़ों से पूजा अर्चना की। मंदिर परिसर में श्रावण के झूले झूले। शहर के सभी मंदिरों में भी दिन भर धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। श्रद्धालुओं ने अपनी श्रद्धानुसार दान पुण्य किया। मंदिर परिसर में दिन भर चहल पहल बनी रही।

काली माता मंदिर परिसर में भी भरा मेला : आसन टेकरी स्थित माता काली के मंदिर पर हरियाली अमावस पर मेला भरा। आस पास के गांवों से श्रद्धालु भक्त आए। महिलाओं ने रोली मोली कुमकुम से कल्पवृक्षों की पूजा अर्चना की। भांवर देकर अपने परिवार व समाज की मंगल कामना का आशीष मांगा। भगवान को घेवर का भोग लगाया। श्रद्धालु भक्तों ने अपने अपने आराध्य से सदा श्रावणी मास सी हरियाली परिवार व समाज में बनी रहे के लिए मंगल आशीष मांगा। कल्पवृक्ष की पूजा के साथ माता काली का भी विधि विधान से पूजन किया।

नारायणी माता मंदिर : इसी प्रकार नारायणी माता मंदिर में कल्पवृक्षों की पूजा अर्चना की गई। सैन समाज के लोग मंदिर परिसर में एकत्रित हुए और कल्पवृक्ष की सपरिवार पूजा अर्चना की। सैन समाज के अलावा आस पास के लोगों ने भी पूजा अर्चना की। इसी प्रकार चौसला गांव स्थित कल्पवृक्ष की पूजा अर्चना गांव वासियों ने विधि विधान से की।

बाग बगीचों में झूलों का आनंद : परिषद क्षेत्र के बाग बगीचों में भी भारी भीड़ रही। शहर में सुख सागर वन क्षेत्र में भी दिन भर चहल पहल बनी रही। लोग गुंदोलाव की पाल पर तथा अन्य हरितम स्थानों पर लोगो की भीड़ रही। हरियाली अमावस पर भक्त शहर के प्रमुख मंदिर में जाकर भगवान की विशेष पूजा अर्चना की। शाम को मंदिरों में भगवान शिव व अन्य देवी देवताओं का नयनाभिराम शृंगार किया। भगवान की आरती कर भक्तों को प्रसाद वितरण किया गया। चहुंओर कल्पवृक्ष की पूजा अर्चना करने के लिए भक्तों की भीड़ रही। सुभाष बाग, महावीर बाग, शिवाजी नगर स्थित नवनिर्मित पार्क, आजाद पार्क, गांधी पार्क, हाउसिंग बोर्ड स्थित बाग सहित अन्य बागों में शहरवासियों की भीड़ रही।

मंडावरिया बंधा बालाजी परिसर में कल्पवृक्ष की पूजा अर्चना करते श्रद्धालु।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kishangarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×