Hindi News »Rajasthan »Kishangarh» नए नियमों से अनजान ट्रैफिक पुलिस मनमर्जी से कर रही है वाहनों के चालान

नए नियमों से अनजान ट्रैफिक पुलिस मनमर्जी से कर रही है वाहनों के चालान

कोर्ट के आदेश पर बदले नियम भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़ यातायात पुलिस को नए परिवहन नियमों की जानकारी नहीं...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 19, 2018, 05:20 AM IST

नए नियमों से अनजान ट्रैफिक पुलिस मनमर्जी से कर रही है वाहनों के चालान
कोर्ट के आदेश पर बदले नियम

भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़

यातायात पुलिस को नए परिवहन नियमों की जानकारी नहीं है। यही वजह है कि पुलिसकर्मी ऑटो व अन्य वाहन चालकों के गलत चालान काट रहे हैं। दरअसल सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद वाहनों के लिए केंद्रीय परिवहन मंत्रालय ने तीन प्रकार के लाइसेंस निर्धारित किए हैं। विभाग के अफसरों की मानें तो यातायात पुलिसकर्मियों को इस बात की जानकारी नहीं है।

सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के बाद परिवहन मंत्रालय भारत सरकार ने इस में बदलाव कर गजट नोटिफिकेशन जारी कर दिया है कि देश में अब सड़क पर वाहन चलाने के लिए केवल तीन ही प्रकार के लाइसेंस बनाए जाएंगे। इस आदेश को आए तीन माह का समय गुजर चुका है। पहले टू-व्हीलर, हल्के वाहनों में निजी कार, टैक्सी, ऑटो, हल्के लोडिंग वाहन (साढ़े सात टन वजन से कम), भारी वाहन ट्रक, बस, ट्रोला (साढ़े सात टन वजन से अधिक)।

चालान काटने पर जब ऑटो चालक ने किया विरोध : किशनगढ़ में ऑटो रिक्शा लेकर जाने वाले ऑटो चालकों ने नाम ना छापने की शर्त पर बताया कि वह ऑटो लेकर जा रहे थे। इसी दौरान यातायात पुलिसकर्मियों ने उनका ऑटो को रोका। उसने अपना एलएमवी (लाइट मोटर व्हीकल) लाइसेंस दिखा दिया। इस पर एओ ने कहा ऑटो रिक्शा चलाने के लिए यह लाइसेंस मान्य नहीं है। ऑटो चालक ने बताया कि अब सरकार ने इसे ही मान्य कर दिया है, लेकिन वो नहीं मानें और चालान काट दिया। ऑटो चालकों की मानें तो करीब 25 से ज्यादा गलत चालान कुछ दिनों में काटे गए हैं।

परिवहन मंत्रालय ने नियमों में बदलावा कर गजट नोटिफिकेशन जारी किया, पुलिसकर्मियों को नए नियमों की जानकारी नहीं, सभी हल्के वाहनों के लिए एलएमवी लाइसेंस ही मान्य

हम केवल तीन प्रकार के ही लाइसेंस जारी करते हैं : परिवहन अधिकारी

जिला परिवहन अधिकारी देवेंद्र आकोदिया ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद परिवहन मंत्रालय द्वारा तीन माह पहले अधिसूचना जारी कर लाइसेंसों की केवल तीन किस्म का निर्धारण कर दिया गया था। इसके अलावा कोई चौथा लाइसेंस अब परिवहन विभाग द्वारा वाहन चलाने के लिए जारी नहीं किया जा सकता है।

इस बारे में जानकारी नहीं है, अगर ऐसा है तो दिखवाते हैं : ट्रैफिक प्रभारी

यातायात प्रभारी यातायात प्रभारी रामदेव विश्नोई ने इस मामले में पहले तो नए आदेशों की जानकारी होने से मना कर दिया। इसके बाद उन्होंने कहा कि अगर ऐसा है तो मैं दिखवाता हूं। जिन लोगों के चालान लाइसेंसों के कारण काटे गए हैं, उनको दिखवाकर पुलिसकर्मियों को समझाया जाएगा।

ट्रांसफर होकर आए नए जवान अपडेट नहीं हैं, अब ऐसा नहीं होगा : डीएसपी

पुलिस उपाधीक्षक ओमप्रकाश किलानिया ने बताया कि ऐसा उनकी जानकारी में नहीं है। फिर भी इस मामले को दिखवाया जाएगा। विभागीय बदलाव के बाद यातायात पुलिस में नए आए अधिकारी व जवान अभी इस बारे में अपडेट नहीं हुए हैं तो इसमें सुधार किया जाएगा।

ये तीन प्रकार के लाइसेंस ही मान्य

1. टू व्हीलर

2.लाइट मोटर व्हीकल लाइसेंस (साढ़े सात टन वजन तक के वाहन)

3.हैवी मोटर व्हीकल लाइसेंस (साढ़े सात टन वजन से अधिक वाले वाहन)

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kishangarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×