Hindi News »Rajasthan »Kishangarh» नए एसपी राज्य स्तर पर सम्मानित हो चुके हैं

नए एसपी राज्य स्तर पर सम्मानित हो चुके हैं

अजमेर के नए एसपी राजेश सिंह धौलपुर में अपने पौने चार साल के कार्यकाल में कुख्यात अपराधियों में पुलिस का खौफ पैदा...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 21, 2018, 05:20 AM IST

नए एसपी राज्य स्तर पर सम्मानित हो चुके हैं
अजमेर के नए एसपी राजेश सिंह धौलपुर में अपने पौने चार साल के कार्यकाल में कुख्यात अपराधियों में पुलिस का खौफ पैदा कर चुके हैं। 2008 बैच के आरपीएस सिंह 2014 में पदोन्नत होकर आईपीएस बने। एसपी के तौर पर पहली पोस्टिंग धौलपुर मिली। सिंह व टीम ने वहां 100 से अधिक कुख्यात बदमाशों आैर 40 इनामी डकैतों को सलाखों के पीछे पहुंचाया है। इसके लिए एसपी सिंह राज्य स्तर पर वर्ष 2016 में सम्मानित हो चुके हैं। अजमेर में भी इनकी प्राथमिकता अपराध व अपराधियों पर पूरी तरह से नियंत्रण करना होगा। मूलत: झुंझनूं के रहने वाले आईपीएस सिंह वर्ष 2004 में अजमेर में केकड़ी सीआे के पद पर तैनात रहे थे, यही कारण है वे जिले की भौगोलिक, सामाजिक आैर आपराधिक स्थितियों से भलीभांति वाकिफ हैं। वे जयपुर, जोधपुर आैर धौलपुर में सेवाएं दे चुके हैं। राज्य सरकार ने हाल ही में आईपीएस की तबादला सूची जारी की है। अजमेर के एसपी राजेंद्र सिंह के स्थान पर आईपीएस राजेश सिंह को लगाया गया है। राजेंद्र सिंह को अलवर एसपी की कमान सौंपी गई है। वहीं सीआे नॉर्थ आईपीएस मोनिका सेन को जोधपुर आयुक्तालय में पुलिस उपायुक्त पश्चिम के पद पर लगाया गया है। वहीं हाड़ी रानी बटालियन की कमांडेंट आईपीएस पूजा अवाना के स्थान पर आईपीएस श्वेता धनकड़ को लगाया गया है। किशनगढ़ के पुलिस ट्रेनिंग सेंटर के प्रधानाचार्य आईपीएस राममूर्ति जोशी को एसपी चूरू की कमान सौंपी। उनके स्थान पर आईपीएस अनिल कुमार टांक को लगाया गया है। वहीं एएसपी सिटी भोलाराम को अलवर आैर जीआरपी एसपी सुनील विश्नोई की जगह आईपीएस श्वेता धनखड़ को एसपी जीआरपी का अतिरिक्त चार्ज सौंपा गया है।

40 इनामी डकैतों को सलाखों के पीछे पहुंचा चुके हैं आईपीएस राजेश सिंह, वर्ष 2014 में पदोन्नत होकर बने आईपीएस

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kishangarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×