• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Kishangarh News
  • उपचुनाव से पहले शुरू हुआ था एयरपोर्ट, विस चुनाव से पहले शुरू होंगी विमान सेवाएं
--Advertisement--

उपचुनाव से पहले शुरू हुआ था एयरपोर्ट, विस चुनाव से पहले शुरू होंगी विमान सेवाएं

हर सरकार चुनाव से कुछ माह पहले उपलब्धियां गिनाकर नए-नए प्रोजेक्ट के लोकार्पण आैर शुभारंभ कर वोटबैंक मजबूत करने की...

Dainik Bhaskar

Jul 04, 2018, 05:25 AM IST
हर सरकार चुनाव से कुछ माह पहले उपलब्धियां गिनाकर नए-नए प्रोजेक्ट के लोकार्पण आैर शुभारंभ कर वोटबैंक मजबूत करने की ख्वाहिश में अपने पक्ष में चुनावी माहौल बनाती है। अजमेर में किशनगढ़ एयरपोर्ट को लेकर भी ऐसा ही देखने को मिल रहा है। लोकसभा उपचुनाव से कुछ माह पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे आैर केंद्रीय नागरिक एवं उड्डयन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा ने एयरपोर्ट का शुभारंभ किया था। अजमेर-उदयपुर-अजमेर विमान सेवा शुरू होकर बंद हो गई लेकिन अब तक दिल्ली के लिए फ्लाइट शुरू नहीं हो सकी। पिछले तीन-चार माह से एयरपोर्ट प्रशासन अलग-अलग कारणों से दिल्ली की फ्लाइट शुरू होने में हो रही देरी के कारण गिना रहा है। अब कहा जा रहा है कि दिल्ली के लिए संबंधित एयरलाइंस के लिए पास यात्री विमान नहीं है, नया यात्री विमान अगस्त के अंतिम सप्ताह तक मिलेगा। इस वजह से सितंबर-अक्टूबर तक ही यह सेवा प्रारंभ हो सकेगी। एयरपोर्ट को लेकर ठीक वैसी ही कवायद नजर आ रही है जैसी उपचुनाव से पहले हुई थी। इस बार दिसंबर माह में राजस्थान में चुनाव होने हैं आैर दिल्ली की फ्लाइट भी ठीक इससे एक दो माह पहले से शुरू करने के लिए कहा जा रहा है।

पब्लिक है, यह सब जानती है

तब : 29 जनवरी को थे उपचुनाव, 11 अक्टूबर को

एयरपोर्ट का शुभारंभ : अजमेर व अलवर में लोकसभा उपचुनाव आैर भीलवाड़ की एक विधानसभा सीट पर उपचुनाव विगत 29 जनवरी को हुए थे, जबकि एयरपोर्ट का शुभारंभ 11 अक्टूबर को हुआ था।

अब : दिसंबर में राज्य के मुख्य चुनाव, सितंबर-अक्टूबर में प्रस्तावित है दिल्ली के लिए विमान सेवा : राज्य में दिसंबर माह में चुनाव होने है, आचार संहिता लगने से पहले किशनगढ़ से दिल्ली आैर दिल्ली से किशनगढ़ के लिए यात्री विमान सेवा प्रारंभ की जानी है। एयरपोर्ट प्रशासन द्वारा सितंबर-अक्टूबर में सेवाएं प्रारंभ करने के लिए कहा जा रहा है। यह भी एक तरह से बड़ी सौगात होगी।

यह बहाने बनाकर उपचुनाव तक खींचा था एयरपोर्ट का शुभारंभ

बहाना नंबर-1 : एयरपोर्ट बनकर तैयार हो गया लेकिन विमान सेवा प्रारंभ नहीं हुई। कहा गया कि - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे शुभारंभ, लेकिन पीएमआे से समय नहीं मिल पा रहा है। चार बार शुभारंभ की संभावित तारीखें बदली गईं, कभी लाइसेंस नहीं मिलने तो कभी मौसम के संयंत्र नहीं लगने के लिए कहकर शुभारंभ कार्यक्रम उपचुनाव से पहले तक खींचा गया।

बहाना नंबर-2 : एयरपोर्ट प्रशासन ने 15 अगस्त को एयरपोर्ट शुभारंभ की जानकारी दी थी, लेकिन हाई-वे से रोड कनेक्टिविटी, डीजीसीए से लाइसेंस प्रक्रिया, बिजली-पानी की उपलब्धता सहित अन्य कई मूलभूत व तकनीकी कार्य अधूरे थे। इस वजह से उद्घाटन की तिथि आगे बढ़ती गई। इन अड़चनों के चलते प्रधानमंत्री कार्यालय से भी पीएम के आने का कंफर्मेशन नहीं मिल पा रहा था।

उपचुनाव से पहले सभी अटकलें दूर हो गईं : डायरेक्ट्रेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन (डीजीसीए) ने रातोंरात लाइसेंस जारी कर दिया आैर फिर आचार संहिता लगने से पहले आनन-फानन में सीएम वसुंधरा राजे आैर केंद्रीय नागरिक एवं उड्डयन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा ने एयरपोर्ट का शुभारंभ कर दिया। यह देश का पहला एयरपोर्ट ही है, जिसका शुभारंभ होने के बावजूद अब कर कोई नियमित फ्लाइट नहीं है।

शुभारंभ पर बतौर मुख्य अतिथि यह थे सीएम आैर केंद्रीय नागरिक एवं उड्डयन राज्यमंत्री के दावे : सीएम वसुंधरा राजे ने कहा था कि तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने इस हवाई अड्डे का शिलान्यास करवा दिया,लेकिन काम कुछ नहीं किया,भाजपा के सत्ता में आने के बाद निर्माण कार्य में तेजी लाई गई और अब आज दिल्ली से किशनगढ़ तक की हवाई सेवा शुरू की गई है।

दावा निकला खोखला : 11 अक्टूबर से आज तक किशनगढ़ से दिल्ली आैर दिल्ली से किशनगढ़ के लिए कोई फ्लाइट नहीं है।

केंद्रीय नागरिक एवं उड्डयन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा ने कहा था कि - मोदी सरकार का सपना है कि हवाई चप्पल पहनने वाला व्यक्ति भी हवाई सफर करे और यह सपना हर हाल में पूरा किया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा था कि देश में 30 नए हवाई अड्डे एक वर्ष में देशभर में खोले गए है।

सपना तो अब तक अधूरा : अजमेर से उदयपुर आैर उदयपुर से अजमेर के लिए 9 सीटर विमान सेवा शुरू होकर बंद हो गई, दिल्ली के लिए अब तक कोई विमान सेवा प्रारंभ नहीं। ऐसे में अजमेरवासियों का सपना तो अधूरा ही नजर आ रहा है।

दिल्ली के लिए विमान सेवा सितंबर-अक्टूबर में संभावित


X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..