Hindi News »Rajasthan »Kishangarh» डिजिटल इंडिया! दो दिन बंद रहा इंटरनेट, 10 करोड़ का कारोबार प्रभावित

डिजिटल इंडिया! दो दिन बंद रहा इंटरनेट, 10 करोड़ का कारोबार प्रभावित

भास्कर न्यूज | मदनगंज-किशनगढ़ शहर में कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के कारण 48 घंटे तक डिजिटल आपातकाल की स्थिति रही।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 17, 2018, 05:25 AM IST

डिजिटल इंडिया! दो दिन बंद रहा इंटरनेट, 10 करोड़ का कारोबार प्रभावित
भास्कर न्यूज | मदनगंज-किशनगढ़

शहर में कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के कारण 48 घंटे तक डिजिटल आपातकाल की स्थिति रही। शुक्रवार शाम 5 बजे से रविवार शाम 6 बजे तक नेट बंद रहने के कारण टैक्सटाइल उद्योगों के कारोबार पर सर्वाधिक असर पड़ा।

बड़ी संख्या में व्यापारी इंटरनेट बंदी की वजह से जीएसटी साइट से ई-वे बिल जनरेट नहीं कर पाए। इस कारण से ट्रांसपोर्ट कंपनियों में तैयार कपड़ा नहीं पहुंचा। साथ ही बाहरी प्रदेशों से आने वाले ग्रे कपड़े की डिलीवरी नहीं हो पाई। उद्यमियों का दावा है कि माल डिस्पैच नहीं होने के कारण यहां के कारोबार पर करीब 10 करोड़ का असर पड़ा है।

अभी तक कानून व्यवस्था बनाए रखने, भड़काऊ मैसेज को रोकने और अफवाहों से बचने के लिए नेटबंदी कराई जाती थी, लेकिन अब परीक्षा करवाने के लिए प्रशासन ने 48 घंटे तक नेट बंद रखा। मोबाइल डोंगल और ब्राडबेंड सेवाएं भी आधी-अधूरी चली। वहीं, शहरभर में मोबाइल कॉल भी बड़ी मुश्किल से लगी। इनकी वजह से शनिवार व रविवार को शहर में करीब करोड़ों का व्यापार प्रभावित रहा।

परीक्षा के दौरान नेटबंद रहने के साथ-साथ केंद्रों पर जैमर भी लगाए गए थे।

शहर में नेटबंदी कहां, क्या असर

रेलवे ई-टिकट: शहर में रोज 24 घंटे में 500 ई-टिकट बुक होते हैं। एक टिकट की औसतन कीमत जानकार 600 रुपए मानते हैं। ऐसे में करीब 2 लाख रुपए का ट्रांजेक्शन अटका। बस स्टैंड पर एक भी टिकट ऑनलाइन बुक नहीं हुए।

ऑनलाइन शॉपिंग: किशनगढ़ में ऑनलाइन शॉपिंग का कारोबार करीब 20 से 25 लाख रुपए प्रतिदिन है। इसमें सभी नामी कंपनियां और बेवसाइट शामिल है। नेट बंदी से यह कारोबार प्रभावित रहा।

ई-बैंकिंग: आरटीजीएस और नेफ्ट द्वारा शहर में प्रतिदिन 120 से 130 करोड़ रुपए का ट्रांजेक्शन होता है। इसमें बड़ी कंपनियां, फैक्ट्रियां शामिल हैं। करीब 3000 लोग शनिवार को ऐसा नहीं कर सके।

कई सेवाएं पटरी से उतरीं: इंटरनेट बंद से मोबाइल बैंकिंग, शेयर-ट्रेडिंग, ऑनलाइन खरीदारी, फीस जमा करना, आरटीजीएस सहित कई अन्य आवश्यक व्यवस्थाएं बिगड़ पटरी से उतर गई।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kishangarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×