Hindi News »Rajasthan »Kishangarh» बीसलपुर बांध के पानी से हो रही है फार्म हाउस पर खेती

बीसलपुर बांध के पानी से हो रही है फार्म हाउस पर खेती

भास्कर न्यूज | किशनगढ़/अरांई जलदाय विभाग के सहायक अभियंता ग्रामीण (एईएन) ने अपने चहेते को चौसला के हरड़ा में बने...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 17, 2018, 05:25 AM IST

  • बीसलपुर बांध के पानी से हो रही है फार्म हाउस पर खेती
    +1और स्लाइड देखें
    भास्कर न्यूज | किशनगढ़/अरांई

    जलदाय विभाग के सहायक अभियंता ग्रामीण (एईएन) ने अपने चहेते को चौसला के हरड़ा में बने डेयरी फार्महाउस पर अरांई से किशनगढ़ आ रही बीसलपुर की मुख्य पाइपलाइन से डेढ़ इंच का कनेक्शन दे दिया है। इससे डेयरीफार्म हाउस के सभी कार्य व फार्महाउस पर खेती हो रही है। हालत ये है कि हैंडपंप लगाने के लिए आए पाइप भी फार्महाउस पर पड़े हुए है। जलदाय विभाग के पाइप से बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन सहित कैटल फार्म बनाने में काम लिया जा रहा है। जलदाय विभाग के सौ से अधिक पाइप मौके पर पड़े है।

    जलदाय विभाग ग्रामीण के सहायक अभियंता सतीश सैनी की सरपरस्ती में फार्महाउस पर सारे नियमों को धत्ता बता अवैध कनेक्शन से फसलों को पानी पिलाने का कार्य किया जा रहा है। जलदाय विभाग द्वारा आमजन के कार्य के लिए लाई सामग्रियों का दुरुपयोग खुलेआम किया जा रहा है। जब इस संबंध में जलदाय विभाग ग्रामीण के सहायक अभियंता सतीश सैनी से जानकारी चाही गई तो उनका कहना था कि वह फार्म हाउस मेरे नाम से नहीं है। सैनी यह स्वीकार कर रहे है फार्महाउस मेरे मिलने वाले गिरिराज शर्मा का है।

    फार्महाउस पर पड़े हैं विभाग के हैंडपंप के पाइप

    किशनगढ़ अरांई मार्ग पर चौंसला हरडा में डेयरी फार्महाऊस पर पड़े जलदाय विभाग के पाइप।

    फार्महाउस पर जलदाय विभाग के हैंडपंप के कार्य में लिए जाने वाले पाइप अवैध रूप से पड़े हुए हैं। ग्रामवासियों ने बताया कि कंस्ट्रक्शन के अंदर इनसे ही कार्य लिया गया है। पाइप जगह जगह फार्महाउस में गढ़े हुए हैं। सौ से अधिक पाइप फार्म हाउस में पड़े हुए हैं।

    फार्म हाउस पर संशय |सूत्रों का कहना है कि चोसला हरड़ा में बन रहा डेयरी फार्म हाउस का सारा कार्य सहायक अभियंता सैनी की देखरेख में ही हो रहा है। फार्महाउस भी सैनी का ही है। इस संबंध में जब सहायक अभियंता सैनी से जानकारी चाही गई तो उनका कहना था कि मेरे नाम से कोई फार्महाउस नहीं है। यह मेरे मिलने वाले गिरिराज शर्मा के नाम से है। प्रश्न उठता है कि जब इनका फार्म हाउस ही नहीं तो सहायक अभियंता सैनी को कैसे मालूम की यह फार्म हाउस नहीं डेयरी फार्म हाउस तैयार किया जा रहा है। दूसरा सैनी खुद खड़े रहकर फार्म हाउस क्यों तैयार करा रहे हैं। तीसरा फार्महाउस पर जलदाय विभाग के हैंडपंप लगाने के पाइप क्यों पड़े हैं।

    मुख्य पाइपलाइन से कनेक्शन देना अवैध

    किशनगढ़-अरांई मार्ग पर ग्राम चौसला के पास मुख्य रोड से आधा किमी दूर चौसला हरडा जंगलात में डेयरी फार्महाउस निर्माण चल रहा है। डेयरी भवन बना दिया गया है। डेयरी फार्महाउस पर दो सौ नींबू के पौधे तैयार किए जा रहे हैं। सीजन के अनुसार फसल की बुवाई की जा रही है। फसल व पौधो को बीसलपुर का पानी अवैध कनेक्शन कर विगत 6 माह से पिलाया जा रहा है। अरांई से किशनगढ़ आ रही बीसलपुर पाइपलाइन से चौसला हरड़ा में बने फार्म हाउस के लिए मुख्य पाइपलाइन पर डेढ़ इंच का अवैध कनेक्शन किया गया है। आधा किमी दूर फाइवर पाइपलाइन से पानी फार्म हाउस तक ले जाया गया है। बिसलपुर पानी से नीबू के पौधो सहित वर्तमान में ज्वार फसल की पिलाई की जा रही है।

    सहायक अभियंता से बातचीत

    Q. आपके यहां कोई फार्महाउस का निर्माण चल रहा है?

    A. फार्महाउस नहीं बन रहा है डेयरी फार्महाउस बनाया जा रहा है।

    Q. फार्महाउस पर सरकारी पाइप पड़े हैं?

    A. आश्चर्य से सरकारी पाइप पड़े हैं।

    Q. क्यों?

    A. हां सरकारी पाइप पड़े है। एक्चुअली पाड़ बांधने के लिए लाए थे। इन्हें कल उठा लिया जाएगा।

    Q. सरकारी पाइप का इस्तेमाल निजी कार्य के लिए हो सकता है?

    A. नहीं नहीं ऐसा नहीं है। हमारे पाइप आ जाएंगे।

    Q. आपने सरकारी पाइप को सीमेंट लगा गाढ़ दिया, टीन शेड तैयार कर रहे हैं।

    A. नहीं उनके हटवा दिया जाएगा।

    Q. आपने अवैध रूप से बीसलपुर पाइपलाइन से कनेक्शन दिया है।

    A. नहीं नहीं ऐसा नहीं है।

    मुख्य लाइन से लिया अवैध कनेक्शन।

  • बीसलपुर बांध के पानी से हो रही है फार्म हाउस पर खेती
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kishangarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×