--Advertisement--

घर-घर बीमारियों काे रोकने के लिए चिकित्सा विभाग का सर्वे आज से

भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़ मानसून के दौरान डेंगू, चिकनगुनिया, मलेरिया और अन्य बीमारियों की रोकथाम के लिए...

Dainik Bhaskar

Aug 07, 2018, 05:35 AM IST
घर-घर बीमारियों काे रोकने के लिए चिकित्सा विभाग का सर्वे आज से
भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़

मानसून के दौरान डेंगू, चिकनगुनिया, मलेरिया और अन्य बीमारियों की रोकथाम के लिए चिकित्सा विभाग मंगलवार से घर-घर सर्वे करेगा। माइक्रो प्लान के तहत शहरी क्षेत्रों के प्रत्येक वार्ड में तीन-तीन सदस्यों की टीम इनमें एक एएनएम, एमपीडब्ल्यू और आशा सहयोगिनी होंगी। इसमें बुखार के रोगियों की पहचान की जाएगी। इसके अलावा ब्लड स्लाइड संग्रहण, मलेरिया पॉजिटिव रोगियों के पूर्ण उपचार के काम होंगे।

जानकारी के अनुसार डेंगू, मलेरिया और मौसमी बीमारियों ने अपना प्रकोप दिखाना शुरू कर दिया है। इससे निपटने के लिए विभाग ने सर्वे कार्य शुरू करने का निर्णय लिया है। इस सर्वे में सबसे खास बात एंटीलार्वा गतिविधियां चलेंगी। सर्वे में देखा जाएगा कि जहां भी कूलर में पानी भरा हुआ है, टंकियों में पानी रुका हुआ है। सड़कों के गड्‌ढों में पानी भरा या नालियों में जमा पानी में लार्वा की जांच होगी। इन लार्वा को खत्म किया जाएगा। पहले चरण में शहर में यह गतिविधियां संचालित की जाएंगी। उसके बाद ग्रामीण क्षेत्रों में यह सर्वे होगा। स्वास्थ्य विभाग 30 सितंबर तक यह सर्वे कार्यक्रम चलाएगा। दरअसल, अब तक यह होता आया है कि मौसमी बीमारियां फैलने के बाद चिकित्सा विभाग सतर्क होता था। इस दौरान हर क्षेत्र में लार्वा बीमारियों को तेजी से फैलाते थे। अब मानसून के दौरान ही चिकित्सा विभाग ने यह तैयारी शुरू कर दी है, ताकि बीमारियां फैलने से बचे।

मानसून में सक्रिय होते हैं लार्वा

चिकित्सा विभाग का मानना है कि मानसून में लार्वा सक्रिय हो जाते हैं। इन लार्वा को यदि समय पर खत्म कर दिया जाए तो उसके बाद बीमारियां फैलने का खतरा नगण्य हो जाता है। इसमें आम लोगों की भागीदारी और जागरुकता भी जरूरी है, ताकि जहां भी पानी भरा दिखाई दे उसमें जला हुआ तेल, पेट्रोल डाला जाए, कूलरों में लंबे समय तक पानी नहीं भरा रखने दिया जाए।

प्रत्येक वार्ड में होगी फोगिंग, जागरुकता अभियान चलेगा

इस सर्वे के दौरान ही नगर परिषद और नगरपालिका क्षेत्र के प्रत्येक वार्ड में फोगिंग भी होगी। इसके पहले लोगों को मौसमी बीमारियों के प्रति सचेत रहने के लिए जागरुकता अभियान भी चलाया जाएगा। अतिसंवेदनशील क्षेत्रों में फोगिंग और पायरेथ्रम स्प्रे करवाया जाएगा।

स्कूलों में लगाएंगे पोस्टर : सर्वे के दौरान मिलने वाले संदिग्ध रोगियों की ब्लड स्लाइड बनाई जाएगी। संदिग्ध रोगियों के उपचार के लिए रैफर किया जाएगा। स्कूलों में कमांडो खुशी और हर्ष के पोस्टर चिपकाए जाएंगे, बच्चे मौसमी बीमारियों के प्रति जागरूक हो सकें।

बीमारियों से लड़ने की तैयारी


X
घर-घर बीमारियों काे रोकने के लिए चिकित्सा विभाग का सर्वे आज से
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..