Hindi News »Rajasthan »Kishangarh» किशनगढ़ में मदरसे से निकली अजमेर की दो बालिकाएं लापता, मामला दर्ज

किशनगढ़ में मदरसे से निकली अजमेर की दो बालिकाएं लापता, मामला दर्ज

भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़ गांधीनगर क्षेत्र में स्थित मदरसे में पढ़ने वाली दो बच्चियां मिठाई लेने की कहकर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 02, 2018, 05:56 AM IST

  • किशनगढ़ में मदरसे से निकली अजमेर की दो बालिकाएं लापता, मामला दर्ज
    +1और स्लाइड देखें
    भास्कर न्यूज|मदनगंज-किशनगढ़

    गांधीनगर क्षेत्र में स्थित मदरसे में पढ़ने वाली दो बच्चियां मिठाई लेने की कहकर निकली और वापस नहीं लाैटी। दोनाे बहिनें हैं जिसमें एक की उम्र 12 साल है और दूसरी महज 4 साल की है। बच्ची के नहीं मिलने पर मदरसा संचालक ने गांधीनगर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई।

    गांधीनगर थाने में सराना रोड, चमड़ाघर निवासी मोहम्मद यासीन (36) पुत्र असगर हुसैन ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि वह चार साल से वह जामिया आशा निस्वा कॉलेज चलाता है और सराना रोड पर मदरसा चलता है। मदरसे में करीब 25 बालिकाएं पढ़ती है। मदरसे में होटल चार खंभा दरगाह अजमेर निवासी मुबारक मोहम्मदी अपनी बहन मदीया (12) व लाइबा (4) का 26 जुलाई को मदरसे में प्रवेश दिलवा कर गया था। 31 जुलाई को दोपहर 3 बजे दिन में बच्ची मदीया व लाइबा मदरसे से दुकान पर मिठाई लेने की कहकर निकली थी और वापस नहीं लौटी। सभी जगह बच्चियाें की तलाश कर ली लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला। अजमेर रिश्तेदार परिचितों के यहां भी पता लगाया लेकिन बच्चियों का पता नहीं लगा। मदीया ने काली ड्रेस पहन रखी है और लाईबा सफेद रंग का सूट पहने हुए है। दोनों हिंदी बाेलती है। पुलिस ने मुुकदमा दर्ज कर बच्चियों की तलाश शुरू कर दी।

    रेलवे स्टेशन पर जाते देखा गया बच्चियों को : मदरसा संचालक मोहम्मद यासीन ने बताया कि उन्हाेंने बच्चियाें के लापता होने के बाद आसपास में तलाश की। रेलवे स्टेशन रोड पर दुकानों व आसपास में देखा तो सीसीटीवी कैमरे में दोनों बच्चियां पैदल जाते हुए नजर आई। इसका मतलब दोनों रेलवे स्टेशन पर जाकर ट्रेन में बैठी होंगी। मोहम्मद यासीन और उनके परिजनाें को इस बात की चिंता सता रही है कि कहीं दोनों बच्चियां गलत ट्रेन में तो नहीं बैठ गईं। यासीन ने अजमेर, जयपुर भी पता कर लिया लेकिन बच्चियों का कहीं सुराग नहीं मिला।

    मदरसा पसंद नहीं आया, बच्चोें को कहा था कि छोड़कर जाऊंगी : यासीन ने बताया कि उन्होंने मदरसे में पढ़ने वाले बच्चों से जानकारी ली तो बच्चों ने बताया कि शायद मदीया को मदरसा पसंद नहीं आया। यहां रहना और पढ़ना ठीक नहीं लगा। इसलिए वह अपने साथी लड़कियांे को मदरसा छोड़कर जाने की कह रही थी। ये बात बच्चियों ने बाद में यासीन काे बताई। घटना वाले दिन यासीन अपनी साथी बच्चियाें को दुकान से मिठाई लाने की कहकर निकली थी। उसके पास महज 30-40 रुपए ही है। अब पुलिस बच्चियाें का पता लगाने में जुटी है। सोशल साइट्स के जरिये भी बच्चियों का पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है। घटना से गांधीनगर क्षेत्र में हड़कंप मचा हुआ है।

    लापता मदीया।

    लापता लाइबा।

  • किशनगढ़ में मदरसे से निकली अजमेर की दो बालिकाएं लापता, मामला दर्ज
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kishangarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×