किशनगढ़

--Advertisement--

दो दिन में 41 एमएम बारिश, खेतों में बरसी रहमत, शहर के लिए आफत

भास्कर न्यूज | मदनगंज-किशनगढ़ मानसून की पहली बरसात ने ही शहर के हालात बिगाड़ दिए। बुधवार दिन व रात्रि में रुक रुक कर...

Dainik Bhaskar

Jul 20, 2018, 12:00 PM IST
दो दिन में 41 एमएम बारिश, खेतों में बरसी रहमत, शहर के लिए आफत
भास्कर न्यूज | मदनगंज-किशनगढ़

मानसून की पहली बरसात ने ही शहर के हालात बिगाड़ दिए। बुधवार दिन व रात्रि में रुक रुक कर बारिश का दौर शुरु हुआ जो गुरुवार सुबह पौने दस बजे तक बना रहा। इस दौरान कभी हल्की तो कभी तेज बारिश हुई। तहसील सूत्रों के अनुसार दो दिन में 41 एमएम बरसात हुई है। गुरुवार को 15 एमएम बारिश हुई। इससे शहर के हालात बिगड़ गए। मार्बल एरिया सहित कच्ची बस्ती में पानी भर गया। आमजन को आने जाने में परेशानी का सामना करना पड़ा। वही किसानों को खेतों में देरी से ही सही बीज बोने लायक बारिश होने पर राहत मिली है।

बारिश से ही मकराना रोड पर रहीमपुरा मोड़ के आगे तक पानी ही पानी नजर आ रहा था। पानी निकास के अभाव में पानी सड़को पर नदियों सा दिख रहा था। पानी निकास के अभाव में पानी भर गया। जाम के हालात बन गए। वाहन चालक धीमी गति से अपने अपने वाहन निकाल रहे थे। मालूम हो कि विगत पांच वर्षो से मार्बल एरिया में मेगा हाइवे रोड पर यही हालात बने हुए हैं। प्रशासन को बार बार अवगत कराने के बाद भी प्रशासन का ध्यान इस ओर नहीं है।

कच्ची बस्तियों में भरा पानी बुधवार व गुरुवार को हुई बारिश से ही कच्ची बस्तियां तलैया बनी हुई थी। आने-जाने में परेशानी का सामना करना पड़ा। सुबह पौने दस बजे तक बारिश होने के कारण अधिकांश स्कूलों में बच्चे नहीं के बराबर पहुंचे। स्कूलो में बच्चो के न पहुंचने से छ़ुट्‌टी का माहौल रहा।

मदनगंज के मुख्य मार्ग व गलियां तलैया बनी नजर आई। मालूम हो कि वर्तमान में सीवरेज व जलदाय विभाग द्वारा सड़को को खोद दिया गया है। इस कारण हल्की बारिश ने ही इन गलियों व सड़को को तलैया बना दिया। तालाब में पानी की आवक बारिश होने से किशनगढ़ के सभी तालाबों में पानी की आवक हुई।

मदनगंज-किशनगढ़. मेगा हाइवे माबल क्षेत्र में रहीमपुरा मोड पर भरा पानी।

नाले को पार कर बच्चे स्कूल पहुंचे

ग्राम भोगादीत में मुख्य सड़क ने हल्की बारिश में ही नाला का रुप ले लिया। इससे इस मार्ग से आने जाने वालो को परेशानी का सामना करना पड़ा। जानकारी के अनुसार भोगादीत में भैरु जी की ढाणी में बारिश होने के कारण मुख्य सड़क विशाल नाले में बदल गयी। जिससे ग्रामवासियो को बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ा। विद्यार्थी भी अपनी जान जोखिम में डालकर स्कूल पहुंचे। ग्रामवासियो ने बताया कि यह सड़क गत वर्ष ही बनाई गई थी लेकिन इस सड़क के दोनों किनारो पर किसी प्रकार केे नाले का निर्माण नहीं करवाया गया। इस कारण यह समस्या बनी है। बारिश का मौसम आते ही मुख्य सड़क नाला का रुप ले लेती है। इस कारण ग्रामवासियो में भारी आक्रोश है।

X
दो दिन में 41 एमएम बारिश, खेतों में बरसी रहमत, शहर के लिए आफत
Click to listen..