--Advertisement--

एंट्रेंस एग्जाम के लिए खुद ट्रेनिंग भी देगा एम्स, 431 संस्थानों से टाइअप

हर साल करीब साढ़े तीन लाख स्टूडेंट्स एम्स का एंट्रेंस एग्जाम देते हैं।

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 05:02 AM IST
AIIMS will train itself for the entrance exam

कोटा. एम्स अब अपने एंट्रेंस एग्जाम की ट्रेनिंग भी खुद देगा। देश का सबसे बड़ा मेडिकल संस्थान इसके लिए वर्चुअल ट्रेनिंग प्रोग्राम लाॅन्च करने जा रहा है। इसमें एम्स से जुड़े सिलेबस को वर्चुअल रूप में तैयार कर स्टूडेंट्स को ट्रेनिंग दी जाएगी। इसके लिए एम्स ने देश के 431 मेडिकल संस्थानों से टाइअप किया है। हर साल करीब साढ़े तीन लाख स्टूडेंट्स एम्स का एंट्रेंस एग्जाम देते हैं। इसमें से दिल्ली एम्स में मुश्किल से करीब 72 स्टूडेंट्स को ही प्रवेश मिलता है। अन्य स्टूडेंट्स को नीट की रैंक के आधार पर दूसरे मेडिकल कॉलेजों में दाखिला लेना पड़ता है। अभी नार्थ इस्ट में इसको पायलट प्रोजेक्ट के रूप में चलाया जा रहा है। इसके बाद पूरे देश में ही इसको लागू किया जाएगा।

कई बड़े संस्थानों से किया टाइअप
- एम्स ने इस वर्चुअल कोर्स के लिए राम मनोहर लोहिया, मनीपाल मेडिकल कॉलेज सहित अन्य देश के नामी मेडिकल कॉलेज के प्रोफेसर्स को बतौर एक्सपर्ट शामिल किया गया है। यह एक्सपर्ट इस कोर्स में बदलाव व सुधार का काम देखेंगे। नॉर्थ ईस्ट के फायदे को देखने के बाद फिर से इसको रिव्यू किया जाएगा।

- इससे उन स्टूडेंट्स को फायदा मिलेगा, जो किसी कारण से ट्रेनिंग नहीं ले पाते हैं। वहीं, एम्स में एडमिशन लेने वालों की क्वालिटी भी बेहतर होगा। जल्द ही 3 नए एम्स खुल जाने से सीटों की संख्या बढ़ेगी जिससे अधिक स्टूडेंट्स को एडमिशन मिलेगा।

AIIMS will train itself for the entrance exam
X
AIIMS will train itself for the entrance exam
AIIMS will train itself for the entrance exam
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..