--Advertisement--

बुजुर्ग ने बना दी 2 किमी की ग्रीन बेल्ट, अब स्थानीय लोग संभाल रहे जिम्मा

ये फोटो विदेश के किसी शहर का नहीं है, बल्कि ये खूबसूरत हरा-भरा रास्ता कोटा के माला रोड का है।

Dainik Bhaskar

Jan 29, 2018, 07:23 AM IST
elderly made 2 kilometer green belt

कोटा | ये फोटो विदेश के किसी शहर का नहीं है, बल्कि ये खूबसूरत हरा-भरा रास्ता कोटा के माला रोड का है। आज यहां जो बड़े-बड़े पेड़ नजर आ रहे हैं इसके पीछे अमरजीत सिंह माखीजा नामक शख्स की कई वर्षों की मेहनत है। माला रोड पर अजय आहूजा पार्क से लेकर मदर टेरेसा होम तक करीब 2 किलोमीटर लंबी और 20 फीट चौड़ी हरीतिमा पट्टी पहले उजाड़ पड़ी थी। पौधरोपण महोत्सव के दौरान लोग यहां पौधे रोपते थे, लेकिन सार संभाल के अभाव में वे सूख जाते थे। ऐसे में माखीजा ने इन पौधों को संभालना शुरू किया।

सिंचाई की कोई व्यवस्था नहीं थी। पास से बहने वाले नाले के पानी से लेकर, किराए पर टैंकर मंगवाकर उन्होंने एक-एक पौधे को सींचा। उनकी मेहनत हरियाली के रूप में रंग लाने लगी और पौधे ऊंचे-ऊंचे दरख्त में बदल गए। इसके दूसरी तरफ सेना का क्षेत्र है, जहां पहले से ही सघन हरियाली है। ऐसे में इस सड़क का नजारा ऐसा लगता है मानो प्रकृति ने पेड़ों का स्वागत द्वार बना दिया हो।

अब स्थानीय लोग संभाल रहे जिम्मा
इस क्षेत्र को हरा-भरा रखने में गुरुद्वारा कमेटी, जनकपुरी काॅलोनी, इंद्रा काॅलोनी, पास ही स्थित मल्टीस्टोरी में रहने वाले लोगों की मेहनत भी कम नहीं है। अब इस क्षेत्र के लोग इस हरीतिमा पट्टी को संभाल रहे हैं। इसकी देखभाल वे ही लोग करते हैं।

फोटो: जितेन्द्र जोशी

X
elderly made 2 kilometer green belt
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..