--Advertisement--

जेईई मेन्स का एडमिट कार्ड जारी, प्रिंट के लिए जरूरी होगा पासवर्ड

अब तक डेट ऑफ बर्थ एंटर करने पर आता था प्रवेश पत्र, एडवांस के लिए 2.24 लाख स्टूडेंट्स होंगे क्वालीफाई

Danik Bhaskar | Mar 13, 2018, 07:41 AM IST

कोटा. सीबीएसई की ओर से आयोजित होने वाली जेईई मेन्स के एडमिट कार्ड सोमवार को जारी कर दिए गए हैं। इस साल सबसे बड़ा बदलाव यह हुआ है कि डेट ऑफ बर्थ की जगह स्टूडेंट्स को अपना पासवर्ड डालकर एडमिट कार्ड का प्रिंट लेना होगा।


पिछले 2 साल से स्टूडेंट्स को रजिस्ट्रेशन नंबर व डेट ऑफ बर्थ डालकर प्रिंट आउट लेना होता था। पासवर्ड वही होगा जो स्टूडेंट्स ने आवेदन भरते समय डाला था। जेईई मेन्स के माध्यम से देश के 31 एनआईटी, 23 ट्रिपलआईटी और 20 सेंट्रल फंडेड इंस्टीट्यूट्स में दाखिला मिलता है। जेईई मेन्स की कटऑफ पार करने वाले दो लाख 24 हजार स्टूडेंट्स एडवांस के लिए क्वालीफाई होंगे।


एग्जाम सेंटर पर ही मिलेगा पेन, घड़ी पर भी रहेगी रोक
विद्यार्थियों को जेईई मेन्स परीक्षा सेंटर पर ओएमआर शीट भरने के लिए ब्लैक बॉलपेन दिया जाएगा। उन्हें सलाह दी गई है कि अपने साथ पेन या पेंसिल लेकर नहीं आएं। साथ ही घड़ी या अन्य गैजेट लेकर भी एग्जाम हॉल में नहीं आ सकेंगे। कॅरियर काउंसलर अमित आहूजा ने बताया कि एडमिट कार्ड पर दिशा निर्देश स्टूडेंट्स सही तरीके से पढ़ लें। सही पासवर्ड देने पर ही प्रिंट आएगा।

नीट : 15 मार्च से मिलेगा करेक्शन का मौका

सीबीएसई की ओर से आयोजित होने वाली नीट की फाॅर्म फिलिंग की प्रक्रिया पूरी हो गई है। स्टूडेंट्स मंगलवार सुबह 11:50 बजे तक अपने फोटोग्राफ व साइन अपलोड कर सकेंगे। उधर, सीबीएसई नीट की वेबसाइट पर जारी सूचना के अनुसार फाॅर्म फिलिंग में हुई गलतियों को सुधारने का मौका स्टूडेंट्स को 15 मार्च सुबह 10 बजे से मिलेगा। स्टूडेंट्स 17 मार्च सुबह 11:50 तक फाॅर्म फिलिंग में हुई गलतियों को सुधार सकते हैं। सीबीएसई ने वन टाइम करेक्शन का मौका ही स्टूडेंट्स को दिया है। दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश के बाद ओपन स्कूलिंग के साथ अन्य कैटेगरी के स्टूडेंट्स को फाॅर्म फिलिंग में शामिल कर दिया था। इसके बाद आखिरी तारीख भी बढ़ाई गई थी।