--Advertisement--

8 मिनट बाद 8 करोड़ का सोना लेकर शहर छोड़ दिया था डकैतों ने

वारदात के लिए बारां होते हुए आए थे डकैत, प्लानिंग ऐसी कि पुलिस के एक्टिव होने सेे पहले ही छोड़ दिए 2 जिले

Dainik Bhaskar

Jan 25, 2018, 08:11 AM IST
kota manappuram gold loot incident follow up story

कोटा. गोल्ड के बदले लोन देने वाली मणप्पुरम फाइनेंस कंपनी की नयापुरा शाखा से 27 किलो सोना लूटने वाली गैंग वारदात के 8 मिनट के अंदर कोटा से फरार हो गई थी। दोपहर 1.08 बजे बदमाश थेगड़ा पुलिया के पास सीसीटीवी में दिखे हैं। यहां से रायपुरा पहुंचने में 2 मिनट लगते हैं। दोपहर 2.30 से 3 बजे के बीच बदमाश 85 किलोमीटर दूर स्थित बारां के किशनगंज स्थित टोल नाका पार कर चुके थे। पुलिस टीमों को कोटा से 239 किमी दूर शिवपुरी, मध्यप्रदेश तक बदमाशों की लोकेशन मिली है। पुलिस की टीमें किशनगंज और शिवपुरी में बदमाशों के बारे में जानकारियां जुटा रही हंै। वहीं, पुलिस की टीमें बिहार व यूपी भेज दी गई हैं।


22 जनवरी को नयापुरा थाने से महज 161 कदम दूरी पर स्थित मणप्पुरम फाइनेंस में चार बदमाशों ने डकैती को अंजाम दिया था। 4 लुटेरे दोपहर करीब 12.57 बजे पहली मंजिल पर स्थित ब्रांच में घुसे और 1.02 बजे 27 किलो सोना लूटकर फरार हो गए थे।

पुलिस के अाधिकारिक सूत्रों ने बताया कि बदमाशों ने जो रास्ता फरार होने के लिए चुना वो उसी रास्ते से कोटा आए भी थे। पुलिस के पास ऐसा वीडियो फुटेज आया है, जिसमें बदमाशों को सुबह करीब 6 बजे कोटा की तरफ आते हुए स्पष्ट देखा गया है। बदमाश सुबह करीब 10.30 बजे से रैकी करने में जुट गए थे। सुबह 11 बजे रवि कुमार नाम का बदमाश ऑफिस में गया तो एक बदमाश नीचे बाइक पर चक्कर काट रहा था।

पकड़े न जाएं इसलिए कोटा-बारां के बीच गांव में रुके
बदमाशों ने मणप्पुरम फाइनेंस के ऑफिस की रैकी कुछ समय पहले भी कर गए थे। बदमाशों ने कोटा से आसानी से फरार होने वाले रास्तों की भी रैकी की थी। बदमाश इतने चालाक थे कि वो कोटा के किसी होटल, धर्मशाला, लॉज में आकर नहीं रुके। आने के लिए कार, बस या फिर ट्रेन का प्रयोग नहीं किया। बदमाश आए भी बाइक से ही थे। वो रैकी करने के दौरान कोटा में नहीं रुके। अब तक की जांच में सामने आया है कि बदमाश कोटा व बारां के रास्ते में आने वाले एक गांव में रुके थे। पुलिस इसकी पुष्टि कर रही है।

न्यू एंगल : कानपुर की गैंग पर भी शक

कोटा में हुई लूट की वारदात पर बिहार के दो गैंग पर शक है। ये गैंग देशभर में सोना लूट की वारदातें कर चुके हैं। कोटा में हुई डकैती की मॉडस ऑपरेंडी इन गैंगों से हूबहू मिलती है। लेकिन, पुलिस कोई रिस्क नहीं लेना चाहती। इसलिए बुधवार को कोटा पुलिस की एक टीम को यूपी के लिए रवाना किया गया है। पुलिस को कानपुर की एक गैंग पर भी शक है।

दरअसल, गुरुग्राम में फरवरी 2017 में मणप्पुरम फाइनेंस से 33 किलो सोना लूटा था। कोटा की तरह वहां भी सीसीटीवी कैमरों पर स्प्रे किया गया था। बदमाश बाइक पर ही आए थे। कोटा में मैनेजर को चांटा मारा, लेकिन वहां गार्ड को चाकू मारा था। इस गैंग का मुखिया देवेंद्र है। गुरुग्राम पुलिस ने मामले में फरवरी में देवेन्द्र सहित होशियार सिंह, विकास गुप्ता और बिजेंद्र को गिरफ्तार किया था। इधर, पुलिस ने बदमाशों को पकड़ने के लिए यूपी एसटीएफ से भी संपर्क किया है।


कोटा से ही खरीदा बैग : पुलिस सूत्रों ने बताया कि बदमाशों ने एक दिन पहले कोटा के एक मुख्य बाजार स्थित एक शॉप से बैग खरीदा था। इसी बैग में साेना भरकर बदमाश फरार हुए थे। यह पॉलिथीननुमा बैग हैं।

नयापुरा शाखा में आज से फिर मिलने लगेगा सोने पर लोन
नयापुरा स्थित मणप्पुरम फाइनेंस की शाखा से ग्राहकों को गुरुवार से वापस लोन मिलने की प्रोसेस शुरू हो जाएगा। बुधवार को भी पूरे दिन ऑफिस के बाहर ग्राहकों का मेला लगा रहा। कंपनी के कोटा एरिया मैनेजर अमित जैन ने बताया कि दो दिनों से कंपनी चोरी गए सोने के मूल्य का अलग-अलग तरीकों से एनालिसिस कर रही हैं। मणप्पुरम फाइनेंस के जयपुर तथा केरल स्थित मुख्यालय से उच्चाधिकारियों ने भी कोटा ब्रांच का दौरा किया और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

जैन ने बताया कि ग्राहकों के सोने का सेटलमेंट कंपनी बहुत जल्द शुरू कर देगी। ग्राहकों से पूछा जाएगा कि वो सोने के बदले सोना ही लेंगे अथवा उन्हें इसका मूल्य दिया जाए। हम जल्द कस्टमर्स को सूचना देना शुरू कर देंगे ताकि वो एक-एक करके ऑफिस आएं और अपना सेटलमेंट कर लें। अभी इसकी तारीख तय नहीं हुई है, लेकिन जल्द इसकी आम सूचना नयापुरा ऑफिस के बाहर चस्पा कर दी जाएगी।

गुरुग्राम में भी इसी तरह लूट

कानपुर की गैंग ने भी पिछले साल इसी तरह से गुरुग्राम में वारदात की थी। हम ऐसे किसी भी बदमाश को छोड़ नहीं सकते, जो ऐसी लूट करता हो। यूपी के लिए भी एक टीम रवाना की है। बदमाशों को पकड़कर ही दम लेंगे।

-अंशुमन भौमिया, एसपी सिटी

kota manappuram gold loot incident follow up story
kota manappuram gold loot incident follow up story
X
kota manappuram gold loot incident follow up story
kota manappuram gold loot incident follow up story
kota manappuram gold loot incident follow up story
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..