--Advertisement--

मासूम को जंगल में बंधक बना 5 दिन तक किया था रेप, आरोपी को उम्रकैद

बालिका से दुष्कर्म के आरोपी को शेष जीवन काल तक के लिए उम्रकैद

Danik Bhaskar | Jan 16, 2018, 06:15 AM IST

कोटा. मासूम बालिका का अपहरण कर उसके साथ दुष्कर्म करने के मामले में कोर्ट ने आरोपी को शेष जीवनकाल तक के लिए उम्रकैद की सजा सुनाई है। साथ ही उस पर 60 हजार का जुर्माना किया है। कोर्ट ने चालान पेश होने के बाद केवल 3 माह में फैसला सुना दिया।


बालिका के पिता ने 3 जुलाई 2017 को रेलवे कॉलोनी थाने में रिपोर्ट कराई थी कि उसकी 6 साल की बेटी सुबह घर के बाहर खेलते समय गायब हो गई। कोई अज्ञात व्यक्ति उसे बहला फुसलाकर ले गया। पुलिस ने आईपीसी की धारा 366, 363, 376 व पोक्सो एक्ट में केस दर्ज किया था। 8 जुलाई को बालिका बदहाल अवस्था में चंबल नदी के किनारे मिली। बालिका को अस्पताल ले जाया गया।


पुलिस को दिए बयान में बालिका ने बताया कि एक लड़का उसके पास आया और कहा कि तुम्हें तुम्हारी मम्मी बुला रही है। इस बहाने उसे जंगल में लेकर गया। 5 दिन तक आरोपी ने उसको चाकू से डरा धमकाकर मारपीट और दुष्कर्म करता रहा। इसके बाद वह बच्ची को पेड़ से बांधकर जंगल में ही छोड़ आता था। पुलिस ने इस मामले में आरोपी प्रताप कॉलोनी निवासी जाफिर उर्फ हांडी को 14 जुलाई को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने 13 अक्टूबर को आरोपी के विरुद्ध चालान पेश किया था।

चालान पेश होने के 3 माह में सुना दिया फैसला

मामले को केस ऑफिसर स्कीम में लेकर गवाहों के बयान कराए। कोर्ट ने मामले में सुनवाई कर आरोपी को शेष जीवन काल तक के लिए उम्रकैद की सजा सुना दी। विशिष्ट लोक अभियोजक कमलकांत शर्मा ने बताया कि कोर्ट ने इस मामले में जल्दी सुनवाई कर 3 माह में अपना फैसला सुना दिया। इससे पूर्व भी मोडक थाने में दर्ज केस का फैसला 14 दिन और बोरखेड़ा थाने में दर्ज केस का फैसला 24 दिन में सुनाया गया है।