Hindi News »Rajasthan »Kota» Now Patient Family Hoping For Help From City Dwellers

इलाज में सबकुछ बर्बाद हो गया, अब शहरवासियों से उम्मीद कर रहा परिवार

3 साल से डायलिसिस पर है विज्ञान नगर का राज

Bhaskar News | Last Modified - Jan 19, 2018, 06:19 AM IST

इलाज में सबकुछ बर्बाद हो गया, अब शहरवासियों से उम्मीद कर रहा परिवार

कोटा. “मेरी दोनों किडनियां खराब हो गई है। 3 साल से डायलिसिस पर हूं। मेरे तीन छोटे-छोटे बच्चे हैं। ईश्वर ने मुझे ऐसे मोड़ पर लाकर खड़ा कर दिया कि मेरा परिवार बेसहारा हो गया। आर्थिक स्थिति खराब हो गई और परिवार का पालन-पोषण करने में असमर्थ हूं। पैसों की कमी की वजह से अब तो इलाज भी समय पर नहीं ले पा रहा। आप सभी से अनुरोध है कि हालात को देखते हुए मेरी मदद करें।’ यह मार्मिक अपील है विज्ञान नगर के रहने वाले राज शर्मा की, जिनका पैसों के अभाव में इलाज अटका हुआ है।


45 वर्षीय राज के इलाज में परिवार 5-6 लाख रुपए लगा चुका। स्थिति यह है कि अब तो बच्चों की स्कूल फीस भी जमा नहीं हो पा रही। परिजनों का कहना है कि जयपुर में किडनी ट्रांसप्लांट हो जाएगा, इससे पहले जांचों पर करीब डेढ़ लाख रुपए खर्च होंगे। नियमित डायलिसिस अलग चल रही है। वर्तमान में वह पाई-पाई को मोहताज है। राज के बड़े भाई कुबेर शर्मा डाकघर में नौकरी करते हैं।

कुबेर के मुताबिक, मेरे सामर्थ्य से ज्यादा पैसा उसके इलाज पर खर्च कर चुका। राज की 85 वर्षीय वृद्ध मां शांति देवी रात-दिन उसकी सेवा में लगी हैं। आंखों से आंसू जैसे थमते नहीं। वह भगवान से यही दुआ करती है कि शहरवासी मदद करें और उसके बेटे को बचा लें।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Kota News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: ilaaj mein sabkuchh brbaad ho gaya, ab shharvaasiyon se ummid kar raha parivaar
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Kota

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×