Hindi News »Rajasthan News »Kota News» Petrol Costlier Upto 9 Rupees In Seven Months

7 महीने में 9 रुपए महंगा हो गया पेट्रोल, लोगों पर रोज पड़ रहा है 1.52 करोड़ का भार

पंकज मित्तल | Last Modified - Feb 12, 2018, 07:15 AM IST

15 दिसंबर से लगातार बढ़ रहे हैं पेट्रोल-डीजल के दाम, रोज 6 लाख लीटर पेट्रोल और 12 लाख लीटर डीजल की खपत होती है शहर में
  • 7 महीने में 9 रुपए महंगा हो गया पेट्रोल, लोगों पर रोज पड़ रहा है 1.52 करोड़ का भार
    +1और स्लाइड देखें

    कोटा. इन दिनों पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार बढ़ रहे हैं। रविवार को पेट्रोल का रेट 78.78 रुपए लीटर था और डीजल 68.02 रुपए लीटर था। 15 दिसंबर बाद से लगातार दाम बढ़ रहे हैं। हालांकि इस दौरान दो या तीन बार दाम गिरे भी हैं, लेकिन केवल 2 या 5 पैसे। डेढ़ महीने में पेट्रोल करीब 4 रुपए और डीजल 5 रुपए महंगा हो गया है। इससे आम लोगों की जेब पर रोज लगभग 1 करोड़ 52 लाख रुपए का खर्च बढ़ गया है। शहर में लगभग 7 लाख उपभोक्ता हैं। यह अब तक के सबसे ज्यादा रेट हैं। 7 महीने पहले शुरू हुई रोज रेट बदलने वाली व्यवस्था में कुछेक दिनों को छोड़कर बाकी दिनों में लगातार भाव बढ़े ही हैं।

    - कोटा पेट्रोलियम डीलर्स के सचिव अशोक गुप्ता ने बताया कि रेट रोज बदलने की व्यवस्था 16 जून से शुरू हुई थी। उस दिन पेट्रोल की कीमत 69.70 रुपए और डीजल की 59.86 रुपए थी। उसके बाद कुछ दिन तक लगातार दाम कम हुए। 15 दिन में केवल एक दिन दाम बढ़े और जून के अंतिम दिन पेट्रोल 65.92 रुपए और डीजल 57.10 रुपए लीटर रह गया था। जुलाई में 15 दिन में पेट्रोल और डीजल के दाम में ज्यादा उतार चढ़ाव नहीं हुआ। लेकिन, 16 जुलाई के बाद पेट्रोल के दाम ज्यादा बढ़े। 31 जुलाई को पेट्रोल 67.68 रुपए पहुंचा और डीजल 59.25 रुपए पर पहुंचा। अगस्त शुरू होते ही पेट्रोल-डीजल के दाम काफी तेजी से बढ़ने लगे। एक महीने में पेट्रोल में 5 रुपए से अधिक की तेजी आई और डीजल में भी 4 रुपए की तेजी रही।

    पंप संचालक विनय तुलसियान ने बताया कि नवंबर में पेट्रोल 71 और 72 रुपए के आसपास रहा। इसी प्रकार डीजल भी 61 और 62 रुपए के बीच रहा। 15 दिसंबर के बाद से ही रेट लगातार बढ़ रहा है। 31 दिसंबर को 72.39 रुपए पेट्रोल और 63.50 रुपए डीजल प्रति लीटर था। 15 जनवरी को पेट्रोल 73.70 और डीजल 65.77 रुपए लीटर तक पहुंच गया था। 11 फरवरी को पेट्रोल 75.78 रुपए प्रति लीटर और डीजल 68.02 रुपए प्रति लीटर पहुंच गया।


    7 महीने में इतना बढ़ा रेट
    रेट रोज बदलने की व्यवस्था 16 जून से शुरू हुई थी। उस दिन पेट्रोल की कीमत 69.70 रुपए और डीजल की 59.86 रुपए थी। अब पेट्रोल 75.78 रुपए और डीजल 68.02 रुपए में है। यानि 7 महीने में पेट्रोल पर 6 रुपए और डीजल पर करीब 8.16 रुपए लीटर दाम बढ़ गए हैं।

    कार वालों की जेब पर आ रहा है 1 हजार रुपए महीने का असर
    एक कार वाले आदमी की बात करें तो रेट बढ़ने की उसकी जेब पर हर महीने 1000 से 1500 रुपए का फर्क आ रहा है। दिनभर कार चलाने वाले व्यक्ति का औसतन पहले 12000 पेट्रोल और 7000 रुपए डीजल का खर्च आ रहा था। रेट बढ़ने से इसमें 1000 से 1500 रुपए बढ़ोतरी हो गई।

    1.52 करोड़ रुपए का पड़ रहा अतिरिक्त भार
    पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष तरुमीत सिंह ने बताया कि शहर में प्रतिदिन 6 लाख लीटर पेट्रोल और 12 लाख लीटर डीजल की खपत है। यानि 7 माह में पेट्रोल पर 9.08 और डीजल पर करीब 8.16 रुपए बढ़ने से शहर के लोगों पर 1 करोड़ 52 लाख 40 हजार रुपए का अतिरिक्त भार पड़ रहा है। जबकि राजस्थान के पड़ोसी राज्यों में टैक्स कम होने से वहां रेट कम है।

  • 7 महीने में 9 रुपए महंगा हो गया पेट्रोल, लोगों पर रोज पड़ रहा है 1.52 करोड़ का भार
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Kota News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Petrol Costlier Upto 9 Rupees In Seven Months
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From Kota

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×