--Advertisement--

गर्लफ्रेंड को बेटे समेत मारी गोली, 4 सब्जेक्ट में मास्टर्स डिग्री होल्डर है प्रेमी

प्रेमी बोला-गहने व नकदी लेकर पति के पास आ गई थी सोहनी, इसलिए कर दी हत्या।

Danik Bhaskar

Jan 24, 2018, 02:04 AM IST

कोटा. 21 जनवरी को चोपड़ा फार्म में मां-बेटे की गोली मारकर हत्या करने वाले चंद्रकांत पाठक उर्फ दिलीप (38) को पुलिस ने मंगलवार को मप्र के श्योपुर से गिरफ्तार कर लिया है। वो मैथ्स, केमिस्ट्री, कंप्यूटर साइंस में एमएससी, पीजीडीसीए, मास्टर्स इन फाइन आर्ट्स, बेस्ट शूटर इन 2001, वर्ष 2000 में प्रेसीडेंट मेडल और एनसीसी सी सर्टिफिकेट होल्डर है।


- पूछताछ में उसकी एकेडमिक क्वालिफिकेशन सामने आई तो पुलिस अधिकारी भी हैरान रह गए।

-सवाल था कि इतना पढ़ा-लिखा व्यक्ति कैसे इस संगीन वारदात को अंजाम दे सकता है। फिर जब उसी से सवाल किया तो पूरी कहानी “मोहब्बत’ पर आकर सिमट गई।

- एसपी (सिटी) अंशुमन भौमिया ने मंगलवार को प्रेस काॅन्फ्रेंस करके इस डबल मर्डर केस का खुलासा किया।

- एसपी ने बताया कि आरोपी घटना के एक दिन पहले ही कोटा आ गया था। वो स्टेशन एरिया के एक होटल में ठहरा था।

#सोहनी के पीहर का रहने वाला है चंद्रकांत

- पुलिस की पूछताछ में सामने आया कि चंद्रकांत मूलतः मुरैना के दत्तपुरा का रहने वाला है। उसके ठीक सामने मृतका सोहनी का पीहर है।

- दोनों एक-दूसरे को बचपन से जानते थे और प्रेम करते थे। चंद्रकांत भी शादीशुदा है और उसके एक बच्चा है। वहीं, सोहनी भी दो बच्चों की मां थी।


#2 माह साथ रही थी सोहनी
- आरोपी ने पुलिस को बताया कि 2 माह पहले सोहनी खुद बिलासपुर में मेरे पास आ गई और दोनों साथ रहने लगे। 2 माह साथ रही। मैंने अपनी दुकान बेची थी, जिसका करीब 20 लाख रुपए आया था। सोहनी अपने पति के साथ कोटा आ गई। वह गहने और रुपए भी ले आई।

- जब नीरज के बाहर जाने के बाद चंद्रकांत घर गया तो सोहनी झगड़ने लगी। बच्चा पिस्टल छीनने लगा तो ट्रिगर दबा और उसकी मौत हो गई।

- इसके बाद सोहनी को भी गोली मार दी। पहले दिल्ली गया और फिर श्योपुर आया। नकदी और जेवर की कीमत का खुलासा नहीं हुआ है।

#तीन जगह भेजी थी पुलिस टीमें

- एसपी ने बताया कि वारदात सुलझाने के लिए एएसपी समीर कुमार के निर्देशन में डीएसपी शिव भगवान गोदारा, राजेश मेश्राम, थानाधिकारी भीमगंजमंडी, नयापुरा व रेलवे कॉलोनी की टीम गठित की गई थी।

- आरोपी की तलाश में शहर पुलिस ने देहरादून, बिलासपुर व श्योपुर में पुलिस टीमें भेजी थी। मुरैना में आरोपी के पिता का डीजे का व्यवसाय है, वह भी उसी में हाथ बंटाता है।

Click to listen..