--Advertisement--

शिकारी के शिकार को तैयार शिकारी, सीगल इनके पसंदीदा शिकार हैं

मछली का शिकार किया बाज ने उसपर झपट्‌टा मारा और पलक झपकते ही मछली समेत सीगल को लेकर उड़ गया।

Danik Bhaskar | Jan 16, 2018, 05:57 AM IST

कोटा. शहर के बीच स्थित किशोरसागर में सर्दी के दिनों में समुद्री सीगल आते हैं। ये पक्षी छोटी मछलियों का शिकार करते हैं। वहीं, बाज भी शिकार के लिए यहां आते हैं। सीगल इनके पसंदीदा शिकार हैं। सोमवार को इस दौरान एक रोचक नजारा देखने को मिला। एक सीगल ने जैसे ही मछली का शिकार किया बाज ने उसपर झपट्‌टा मारा और पलक झपकते ही मछली समेत सीगल को लेकर उड़ गया।

49 साल तक होती है सीगल की उम्र

सीगल पक्षी हर साल सर्दियों में कोटा आते हैं। ये विशेष तौर पर ठंडी जगह और समुद्री इलाकों में पाए जाते हैं। सर्दियों के प्रवास के दौरान सीगल औसतन लगभग 2 हजार किलोमीटर का सफर तय करते हैं। इनका जीवनकाल काफी लंबा होता है। प्राकृतिक आवास में सीगल लगभग 49 साल तक जिंदा रहते हैं।