Hindi News »Rajasthan »Kota» Son To Meet Elerly Mother Panabai

10 दिन बाद पानाबाई से मिलने पहुंचा बड़ा बेटा, बोला- हम शर्मिंदा हैं, अब मां को साथ रखेंगे

अपना घर और ह्यूमन हेल्पलाइन मेरी मां को नरक से स्वर्ग जैसी जगह ले आए।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 21, 2018, 07:03 AM IST

10 दिन बाद पानाबाई से मिलने पहुंचा बड़ा बेटा, बोला- हम शर्मिंदा हैं, अब मां को साथ रखेंगे

कोटा. 70 वर्षीय वृद्धा पानाबाई से मिलने 10 दिनों में पहली बार बड़ा बेटा बेनीराम अपने बेटों के साथ शनिवार को कोटा के अपना घर आश्रम पहुंचा। मनोज जैन आदिनाथ ने बताया कि बेनी प्रसाद ने आश्रम से कहा कि उसने कई वर्षों बाद अपनी मां का चेहरा देखा है और आज उसे देखकर बड़ी प्रसन्नता हुई। हम शर्मिंदा है और अब मां को जल्दी ही अपने साथ रखना चाहते हैं।

भाइयों के झगड़े में पिस गई मां

- बेनीप्रसाद ने पानाबाई से कहा कि मुझे अब सम्पत्ति भी बुरी लगने लगी है। मैं शीघ्र ही कोटा में ही मकान लेकर साथ रहूंगा। भाइयों की लड़ाई का शिकार मेरी मां हो गई।

- अपना घर और ह्यूमन हेल्पलाइन मेरी मां को नरक से स्वर्ग जैसी जगह ले आए। पानाबाई ने अपने जवान पोतों को देखा तो आशीर्वाद दिया। पोतों ने भी दादी के पैर छुए।

- अध्यक्ष राजकुमार शर्मा ने कहा कि सरकारी प्रोसेस की पालना करने के बाद ही पानाबाई को जाने देंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Kota News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: 10 din baad paanaabaaee se milne phunchaa bdeaa betaa, bolaa- hm shrmindaa hain, ab maan ko saath rakhenge
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Kota

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×