Hindi News »Rajasthan »Kota» Treatment Of Heart Patient Now In New Hospital

नए हॉस्पिटल में अब हार्ट पेशेंट का इलाज सातों दिन, हर माह 1.50 करोड़ बचेंगे

2डी ईको जांच के साथ ही पूरा हुआ कार्डियोलॉजी विभाग, 24 घंटे मिलेगा इलाज, हर माह निजी अस्पतालों में खर्च होते हैं 3 करोड़

Bhaskar News | Last Modified - Jan 10, 2018, 04:34 AM IST

नए हॉस्पिटल में अब हार्ट पेशेंट का इलाज सातों दिन, हर माह 1.50 करोड़ बचेंगे

कोटा. नए अस्पताल में अब कार्डियोलॉजी विभाग पूरी क्षमता से शुरू हो चुका है। अब यदि किसी को हार्ट अटैक आए तो पैसों की चिंता करने की जरूरत नहीं है, क्योंकि सरकारी क्षेत्र में यह सुविधा शुरू हो चुकी है, जहां बीपीएल-भामाशाह मरीजों को फ्री और आम मरीजों को भी मामूली शुल्क पर इलाज मिलेगा। पहले 1 कार्डियोलॉजिस्ट थे, अब 2 कार्डियोलॉजिस्ट हो गए हैं। अस्पताल अधीक्षक डॉ. देवेंद्र विजयवर्गीय का दावा है कि अस्पताल में हार्ट के मरीजों को 24X7 इमरजेंसी सेवाएं भी मिलेंगी। गौरतलब है कि विभाग में पिछले साल ही 6 करोड़ की कैथ लैब लगी है।

#कार्डियोलॉजी विभाग के बारे में वह सबकुछ जो जानना जरूरी है, पढ़िए सिर्फ भास्कर में

नोट:- सरकारी अस्पताल में भामाशाह-बीपीएल व अन्य फ्री कैटेगरी के मरीजों के उक्त सारे प्रोसीजर पूरी तरह फ्री हैं।

- निजी हॉस्पिटलों में 500 से ज्यादा एंजियोग्राफी हर माह होती है। 100 मरीजों की एंजियोप्लास्टी व 100 अलग-अलग प्रोसीजर होते हैं।

- ये मरीज 2.50 से 3 करोड़ रुपए खर्च करते हैं। सरकारी अस्पताल में 1-1.50 करोड़ लगेंगे।

1. आउटडोर एनएमसीएच (कमरा नं.-15)
डॉ. हंसराज मीणा : सोमवार, शुक्रवार
डॉ. भंवर रणवां : मंगलवार, गुरुवार

2. आउटडोर एमबीएस (कमरा नंबर-125)
डॉ. हंसराज मीणा : पहला, तीसरा और 5वां शनिवार
डॉ. भंवर रणवां : दूसरा व चौथा शनिवार

3. एंजियोग्राफी-एंजियोप्लास्टी, एनएमसीएच
डॉ. हंसराज मीणा : मंगलवार, गुरुवार
डॉ. भंवर रणवां : बुधवार, शुक्रवार

2डी ईको जांच, एनएमसीएच (कमरा नं. 15)

डॉ. हंसराज मीणा : बुधवार
डॉ. भंवर रणवां : सोमवार
(कमरा नंबर-20)
डॉ. मीनाक्षी शारदा : गुरुवार
डॉ. अमृता मयंगर : सोमवार
एमबीएस अस्पताल
प्रत्येक शनिवार, 12 बजे के बाद

...और ऑन कॉल ड्यूटी

डॉ. हंसराज मीणा : सोमवार, बुधवार, शुक्रवार
डॉ. भंवर रणवां : मंगलवार, गुरुवार, शनिवार

रविवार को दोनों में से एक की अल्टरनेट ड्यूटी रहेगी

रोज होगी 2डी ईको कार्डियोग्राफी जांच
अब एक और नई 2डी ईको मशीन शुरू हो चुकी है। इससे लगभग सातों दिन यह जांच हो सकेगी। वर्तमान में मेडिसिन विभाग के पास एक मशीन है, जहां 2 से 3 माह की वेटिंग दी जाती है। यह मशीन 2 दिन ही चलती है। कार्डियोलॉजी विभाग में सातों दिन मशीन चलेगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Kota News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: ne hospitl mein ab haart peshent ka ilaaj saaton din, har maah 1.50 karoड़ bchengae
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Kota

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×