Hindi News »Rajasthan »Kota» बंजारा बस्ती स्कूल की कक्षाएं अरियाली में लगाने का विरोध, बच्चों ने लगाया जाम

बंजारा बस्ती स्कूल की कक्षाएं अरियाली में लगाने का विरोध, बच्चों ने लगाया जाम

करवर| पंचायत के बंजारा बस्ती स्कूल का संचालन अरियाली मिडिल स्कूल में करने से खफा विद्यार्थियों व ग्रामीणों ने...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 02:25 AM IST

करवर| पंचायत के बंजारा बस्ती स्कूल का संचालन अरियाली मिडिल स्कूल में करने से खफा विद्यार्थियों व ग्रामीणों ने गुरुवार को करवर-इंद्रगढ़ मार्ग पर कल्याणीखेड़ा के पास रास्ता जाम कर दिया। आक्रोशित विद्यार्थी व ग्रामीण ने सुबह 11 बजे कल्याणीखेडा स्कूल के समीप करवर-इंद्रगढ़ मार्ग पर अवरोध डालकर जाम लगा दिया। जिससे आवागमन बाधित हो गया। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। जहां हेड कांस्टेबल ताराचंद ने ग्रामीणों से समझाइश कर आधे घंटे में ही जाम हटवा दिया।

बाद में ग्रामीण व विद्यार्थी उपतहसील भवन पहुंचे और नायब तहसीलदार हरिनारायण गुर्जर को ज्ञापन सौंपकर वापस बस्ती में स्कूल संचालन की मांग रखी। जानकारी के अनुसार दो साल पहले राज्य सरकार द्वारा करवर पंचायत के बंजारा बस्ती के प्राइमरी स्कूल को अरियाली मिडिल स्कूल में मर्ज कर दिया था। अरियाली स्कूल की दूरी अधिक होने से बच्चे स्कूल में नहीं पहुंचे। स्कूल में बस्ती के 45 छात्र-छात्राएं अध्ययनरत थे। ग्रामीणों गजानंद बंजारा, इंद्र, सुरेश आदि ने बताया कि अरियाली मिडिल स्कूल जो बंजारा बस्ती से 7 किमी दूर स्थित है। आवागमन का साधन नहीं है। मार्ग कच्चा होने से छोटे बच्चों को स्कूल जाने में परेशानी रहना लाजिमी है। इसलिए स्कूल का संचालन बस्ती में ही होना चाहिए। अन्यथा वापस मासूम बच्चों को पढ़ाई छोड़ने को मजबूर होना पड़ेगा।

बंजारा बस्ती स्कूल की वस्तुस्थिति व ग्रामीणों की समस्या से शिक्षा विभाग के अफसरों को अवगत करा रखा है। फिलहाल बंजारा बस्ती में अध्ययनरत विद्यार्थियों के वैकल्पिक शिक्षण व्यवस्थार्थ अरियाली मिडिल स्कूल से दो शिक्षकों को लगाया गया है। - बृजगोपाल दीक्षित, पीईओ व प्रधानाचार्य सीसै. स्कूल, करवर

करवर। नायब तहसीलदार को ज्ञापन देने पहुंचे बंजारा बस्ती के बच्चे व ग्रामीण।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kota

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×