• Home
  • Rajasthan
  • Kota
  • छीपाबड़ौद में महिला को जलाया, किशनगंज में युवक और बारां में वृद्धा की जान ली
--Advertisement--

छीपाबड़ौद में महिला को जलाया, किशनगंज में युवक और बारां में वृद्धा की जान ली

भास्कर न्यूज | बारां/ किशनगंज होली पर शुक्रवार को बारां जिले में हत्या की दो वारदात हुई। तीसरी वारदात शनिवार को...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 03:30 AM IST
भास्कर न्यूज | बारां/ किशनगंज

होली पर शुक्रवार को बारां जिले में हत्या की दो वारदात हुई। तीसरी वारदात शनिवार को हुई। छीपाबड़ौद कस्बे में शुक्रवार सुबह करीब 7 बजे किराए पर रहने वाले युवक ने पड़ोस की महिला को केरोसीन डालकर इसलिए जला दिया, क्योंकि उसने संबंध बनाने से इनकार कर दिया था। बुरी तरह झुलसी महिला की कोटा में उपचार के दौरान मौत हो गई। दूसरी घटना किशनगंज क्षेत्र में शाम करीब 5 बजे हुई। यहां के अर्जुनपुरा गांव में रंजिशन बाइक सवार युवक को पहले ट्रैक्टर से कुचला, फिर लाठियों से पीट-पीटकर जान ले ली। तीसरी घटना शनिवार को हुई। बारां के सदर क्षेत्र में रंजिश में वृद्धा की कुल्हाड़ी मारकर हत्या कर दी गई। तीनों ही मामलों में आरोपी अभी तक नहीं पकड़े गए हैं।

पुलिस के मुताबिक छीपाबड़ौद के कोली मोहल्ला निवासी महिला और उसका पति 10 साल से कस्बे के ही सती मोहल्ला निवासी मतीउद्दीन के मकान में किराए पर रहते थे। उसी मकान में मार्बल कारीगर यूपी निवासी रामभरण यादव भी 8 साल से किराए पर रह रहा था। शुक्रवार सुबह रामभरण ने विवाहिता को अपने कमरे में बुलाया। उसके कमरे का दरवाजा बाहर से बंद कर दिया, ताकि पति नहीं आए। इसी दौरान रामभरण ने महिला पर संबंध बनाने के लिए दबाव बनाया। महिला ने इनकार कर दिया तो आरोपी ने केरोसीन डालकर आग लगा दी। कोटा में इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। वहीं, किशनगंज थाना क्षेत्र के अर्जुनपुरा गांव के मुकुट मीणा व घनश्याम मीणा के परिवार में रंजिश के चलते शुक्रवार शाम को घनश्याम (30) पुत्र रामदयाल मीणा को मुकुट मीणा पक्ष के लोगों ने पहले ट्रैक्टर से कुचला, फिर लाठियों से हमला कर बुरी तरह घायल कर दिया। इलाज के दौरान घनश्याम की मौत हो गई।

वहीं, सदर थाना क्षेत्र के तिसाया गांव में पुरानी रंजिश को लेकर शनिवार दोपहर करीब ढाई बजे कुल्हाड़ियों के वार से खेत पर काम कर रही नटीबाई (55) प|ी मदनलाल बैरवा की हत्या कर दी गई। सीआई आशिष भार्गव ने बताया कि नटीबाई का पति मदनलाल दूसरे पक्ष के व्यक्ति की हत्या के मामले में जेल में है।