Hindi News »Rajasthan »Kota» न्यू मेडिकल अस्पताल के कैदी वार्ड में बंदी की मौत के बाद हुआ हंगामा

न्यू मेडिकल अस्पताल के कैदी वार्ड में बंदी की मौत के बाद हुआ हंगामा

न्यू मेडिकल अस्पताल के कैदी वार्ड में शनिवार शाम एक बंदी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। जिसके बाद परिजनों...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 04:05 AM IST

न्यू मेडिकल अस्पताल के कैदी वार्ड में बंदी की मौत के बाद हुआ हंगामा
न्यू मेडिकल अस्पताल के कैदी वार्ड में शनिवार शाम एक बंदी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। जिसके बाद परिजनों ने उसकी मौत में जेल प्रशासन और पुलिस का हाथ होने का आरोप लगाते हुए हंगामा कर दिया। परिजनों का आरोप है कि पुलिस कस्टडी में मौत कैसे हो सकती हैं? जिसके बाद परिजन शव नहीं ले जाने को लेकर अड़ गए और नारेबाजी शुरू कर दी। जिला प्रशासन और पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और करीब 3 घंटे चली समझाइश से मामला शांत हुआ।

जानकारी के मुताबिक संजय नगर निवासी नवाब उर्फ बंटी पुत्र अहमद अली को चेक अनादरण के मामले में 3 साल की जेल हुई थी। 5 दिन पहले उसकी तबीयत बिगड़ी तो जेल प्रशासन ने उसे न्यू मेडिकल अस्पताल के कैदी वार्ड में भर्ती करवाया। वार्ड के बाहर पुलिस लाइन का एक हैड कांस्टेबल और 4 कांस्टेबल तैनात रहते हैं। महावीर नगर सीआई ताराचंद ने बताया कि हैड कांस्टेबल ने जेल प्रशासन को दी रिपोर्ट में बताया है कि शनिवार दोपहर करीब 3.45 बजे नवाब वार्ड से अटैच बाथरूम में गया था। वो बहुत देर तक बाहर नहीं निकला तो पुलिसकर्मियों ने देखा तो नवाब घुटने के बल पड़ा हुआ था। डॉक्टर ने चैक करके उसे मृत घोषित कर दिया।

हंगामा करते परिजनों को समझाती पुलिस।

मामले की जांच और मुआवजे की मांग कर रहे थे परिजन

नवाब की मौत की जानकारी मिलने पर आए परिजनों ने अस्पताल परिसर में हंगामा किया। पुलिस व जेल प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। थोड़ी-थोड़ी देर में परिजन उग्र होते और अस्पताल के गेट तक पहुंच जाते, जिसे वहां तैनात पुलिसकर्मी काबू करते। हंगामा बढ़ते देख पुलिस को लाइन से अतिरिक्त जाब्ता बुलाना पड़ा, जिसके बाद परिजन शांत हुए। मौके पर पहुंचे वक्फ बोर्ड के चेयरमैन साबिर भाटी ने पुलिस प्रशासन से मामले की उचित जांच करवाने और मुआवजा दिलवाने की मांग की। राजस्थान हज कमेटी के चेयरमैन अमीन पठान ने भी वहां पहुंचकर मामले की जानकारी ली।

मृतक नवाब

परेशान करती थी पुलिस :मृतक नवाब की प|ी बिलकिस व पिता अहमद ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि नवाब की कैदी वार्ड में मौत होना संदिग्ध है और इसमें पुलिसकर्मियों का हाथ है। उन्होंने कहा कि नवाब ने हमें बताया था कि जेल में अन्य कैदी व प्रशासन की ओर से उसे परेशान किया जाता है।

मेडिकल बोर्ड से होगा पोस्टमार्टम :एएसपी समीर कुमार दुबे का कहना है कि मामले को 176 की मर्ग में दर्ज किया है, जिसकी जांच एडीएम सिटी करेंगे। शव का रविवार को मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम होगा, जिसके बाद मौत के कारणों का पता चलेगा। जिला प्रशासन के प्रतिनिधियों ने कहा है कि उचित मांग को पूरा किया जाएगा। इधर, न्यू मेडिकल अस्पताल के अधीक्षक डॉ. देवेन्द्र विजयवर्गीय का कहना है कि मरीज की जांच में उसे हैपेटाइटिस-बी नामक बीमारी का पता चला था। नींद नहीं आने की शिकायत पर मनोचिकित्सकों ने भी देखा था।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kota

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×