कोटा

  • Hindi News
  • Rajasthan
  • Kota
  • रिकाॅर्ड नहीं मिलने से 343 किसानों को नहीं मिली 14.50 लाख की सहायता
--Advertisement--

रिकाॅर्ड नहीं मिलने से 343 किसानों को नहीं मिली 14.50 लाख की सहायता

343 किसानों का रिकाॅर्ड नहीं मिलने से उनकी खराब हुई फसलों का मुआवजा उनके खातों में जमा नहीं हो पाया। इस राशि को...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 04:05 AM IST
रिकाॅर्ड नहीं मिलने से 343 किसानों को नहीं मिली 14.50 लाख की सहायता
343 किसानों का रिकाॅर्ड नहीं मिलने से उनकी खराब हुई फसलों का मुआवजा उनके खातों में जमा नहीं हो पाया। इस राशि को कलेक्टर ने पुन: अप्रैल में आवंटित करने का अनुशंसा के साथ सरकार को लौटा दिया।

पिछले साल शीतलहर के कारण जिले के गावों में धनिए की फसल खराब हो गई थी। राज्य सरकार ने इसके लिए मुआवजा राशि जारी की। इस राशि को किसानों को देने की जगह यह नियम कर दिया कि राशि उनके खातों में सीधी जमा करवाई जाए। इसके लिए लाडपुरा तहसीलदार व उनकी टीम को पाबंद किया कि वे किसानों का रिकाॅर्ड तैयार करके राशि उनके खातों में डलवाएं। उनकी टीम पिछले आठ दिन से इसी काम में जुटी हुई थी। इसमें अर्जुनपुरा व चंद्रेसल में किसानों को 46 लाख रुपए का मुआवजा बांटकर उनके खाते में जमा कर दी गई। काल्याखेड़ी और भंवरिया क्षेत्र 1243 किसानों को 59 लाख रुपए की राशि का बंटवारा करना था। तहसीलदार की टीम लगातार उन्हें ढूंढती रही, उनका रिकॉर्ड देखती रही। इसमें से केवल 900 का ही रिकाॅर्ड तैयार कर पाए। उनके खाते में 44 लाख 50 हजार रुपए जमा करवाए गए। बाकी 342 का रिकाॅर्ड नहीं मिलने से उनके पैसे खातों में नहीं डाले जा सके। यह 14.50 लाख रुपए की राशि मार्च का अंतिम दिन होने से सरेंडर कर दी गई है।

तहसीलदार गजेंद्र सिंह ने बताया कि जिन किसानों के नाम पते सही नहीं थे, जो मौके पर नहीं मिले, जिनके खाते बैंक में नहीं थे, उनकी राशि देने से रह गई है।

X
रिकाॅर्ड नहीं मिलने से 343 किसानों को नहीं मिली 14.50 लाख की सहायता
Click to listen..