• Hindi News
  • Rajasthan
  • Kota
  • कोर्ट में पेशी के दौरान हंसते हुए बातें करता रहा डॉ. कोकास
--Advertisement--

कोर्ट में पेशी के दौरान हंसते हुए बातें करता रहा डॉ. कोकास

Kota News - राज्य पीसीपीएनडीटी सेल की स्पेशल टीम द्वारा मंगलवार को कोटा के नयापुरा स्थित सुविधा डायग्नोस्टिक से भ्रूण लिंग...

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2018, 04:05 AM IST
कोर्ट में पेशी के दौरान हंसते हुए बातें करता रहा डॉ. कोकास
राज्य पीसीपीएनडीटी सेल की स्पेशल टीम द्वारा मंगलवार को कोटा के नयापुरा स्थित सुविधा डायग्नोस्टिक से भ्रूण लिंग जांच मामले में गिरफ्तार सीनियर रेडियोलॉजिस्ट डॉ. मुकुल कोकास और दलाल आमीन मोहम्मद को बुधवार को बूंदी सीजेएम कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने उनकी जमानत अर्जी खारिज करते हुए दोनों को 13 मार्च तक जेल भेज दिया। दोपहर करीब 1 बजे डॉक्टर व दलाल को कोर्ट लाया गया। डॉक्टर की प|ी व परिजन कई वकीलों के साथ पहले से कोर्ट में मौजूद थे। ठीक 1 बजे उन्हें कोर्ट में पेश किया गया, 5 मिनट बाद बाहर आ गए और कोर्ट आदेश का इंतजार करते रहे। कोर्ट में पेशी के लिए लाए गए डॉक्टर के चेहरे पर अपने किए की कोई शिकन नजर नहीं आ रही थी। वे हंसकर बातें कर रहे थे। जबकि दलाल आमीन मोहम्मद काफी घबराया हुआ नजर आ रहा था। इस दौरान कोर्ट में काफी भीड़ जमा हो गई। डॉ. कोकास का कहना था कि वे दलाल को जानते ही नहीं। उनका कहना था कि उन्होंने कुछ गलत किया ही नहीं, उन्हें फंसाया गया है।

दलाल महावीर

मैं अकेला थोड़े ही हूं, कई सारे कर रहे हैं

पीसीपीएनडीटी बूंदी के समन्वयक राजीव लोचन गौतम ने बुधवार को यह भी दावा किया कि पूछताछ में डॉ. कोकास ने हर माह कई लिंग परीक्षण करने की बात स्वीकार की है तथा यह भी कहा कि कोटा में अकेला मैं ही थोड़े कर रहा हूं, कोटा में और भी कई लोग यह सब कर रहे हैं। सिर्फ मुझे ही क्यों फंसाया गया? डॉ. कोकास ने कुछ अन्य डॉक्टरों के नाम भी बताए हैं। डॉ. कोकास ने इस सोनोग्राफी में कागजी कार्रवाई पूरी की। गौतम के अनुसार, लगातार हो रही कार्रवाइयों की वजह से आम तौर पर आजकल कोई भी डॉक्टर ऐसे मामलों में सीधे ग्राहक से संपर्क नहीं करता, दलाल के माध्यम से ही बातचीत की जाती है। साथ ही संबंधित सोनोग्राफी करने के लिए सभी डॉक्यूमेंट्स पूरे लिए जाते हैं, जो इस मामले में भी लिए गए।

डॉ. कोकास

मुख्य दलाल महावीर, उसने बना रखे कई दलाल

गौतम ने बताया कि मुख्य दलाल महावीर वर्मा नाम का युवक है, जो कोटा में बोरखेड़ा स्थित एक हॉस्पिटल में केयर टेकर है। डॉ. कोकास की सिर्फ महावीर से बातचीत होती थी, इसके अलावा किसी अन्य दलाल से वह सीधे बात नहीं करता था। इस घटना के बाद महावीर फरार हुआ तो बोरखेड़ा में उसके हॉस्पिटल पर जाकर भी पता किया, लेकिन वहां मौजूद अस्पताल के निदेशक ने बताया कि वह शाम से ही गायब है और यह कहकर गया था कि मेरे कोई अर्जेंट काम आ गया, मैं बाहर जा रहा हूं। मूलतः: अयाना का रहने वाला महावीर फरार है, जिसकी तलाश की जा रही है।

दलाल बोला-सारा काम फोन पर होता है, आप भरोसा करो

इस मामले में पीसीपीएनडीटी दल की ओर से डिकॉय महिला के साथ भेजी गई सहयोगी महिला ने सुविधा सोनोग्राफी सेंटर पर हुई बातचीत का एक वीडियो भी बनाकर टीम को सौंपा है। इसमें वह दलाल से बातचीत कर रही है तो दलाल आमीन कह रहा है कि सारी बात हो चुकी। जब महिला कहती है कि बात किससे और कैसे हुई? मैंने पूरा पैसा दिया है, कहीं ऐसा न हो... हमारा काम नहीं हो? इस पर आमीन कहता है कि अभी जो लड़का (महावीर) हमें मिला था, वह यहां सारी बात कर चुका। जब महिला ने पूछा कि वह कहां है? तो आमीन ने कहा कि सब बात हो चुकी, यह सारा काम फोन पर होता है। आपको भरोसा करना ही पड़ेगा, मैंने पहले ही आपको बता दिया था कि यह सारा काम विश्वास का है। इसके बाद दलाल उस मीडियेटर को लेकर बात करने लग जाता है, जिसका हवाला देते हुए महिला उस तक पहुंची थी।

X
कोर्ट में पेशी के दौरान हंसते हुए बातें करता रहा डॉ. कोकास
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..