• Home
  • Rajasthan
  • Kota
  • गढ़ पैलेस में परंपरागत तरीके से मनाया गया फागोत्सव, होली के गीतों पर झूमीं महिलाएं
--Advertisement--

गढ़ पैलेस में परंपरागत तरीके से मनाया गया फागोत्सव, होली के गीतों पर झूमीं महिलाएं

गढ़ पैलेस स्थित बृजनाथ जी महाराज के मंदिर में रियासतकालीन परंपरा के तहत फागोत्सव मनाया गया। यहां पूर्व राजपरिवार...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 04:05 AM IST
गढ़ पैलेस स्थित बृजनाथ जी महाराज के मंदिर में रियासतकालीन परंपरा के तहत फागोत्सव मनाया गया। यहां पूर्व राजपरिवार की पूर्व युवरानी कल्पना देवी ने उपस्थित महिलाओं के सम्मुख उत्सव में भाग लिया। उन्होंने फागोत्सव में कृष्ण की गीतों पर भाव-विभोर होकर नृत्य किया और महिलाओं को होली की बधाई दी। फागोत्सव में ... आज मेरा सपना में आग्यो बांके बिहारी..., नर्बदा रंग से भरी होली..., आजा ने मेरी अटारी में बांके बिहारी..., बांसुरिया लेकर आजा..., सरीखे भजनों पर एक से बढ़कर एक गीतों की प्रस्तुतियां पर महिलाओं ने फूलों की बारिश के साथ नृत्य किया। यहां 90 वर्षीय चाहन्याबाई ने भी पुराने समय की यादें ताजा करते हुए भाव-विभोर होकर नृत्य किया। यहां कृष्ण और राधा स्वांग में बच्चों ने भी नृत्य किया। राव माधोसिंह म्यूजियम ट्रस्ट के क्यूरेटर आशुतोष दाधीच ने बताया कि रियासतकालीन परंपरा के तहत पूर्व युवरानी ने बृजनाथ महाराज के दर्शन कर आशीष लिया।

पूर्व युवरानी कल्पना देवी ने बताया कि होली से लेकर अन्य धार्मिक आयोजन की शृंखला में कोटा का नाम रियासतकाल से प्रसिद्ध रहा है। 17 वीं शताब्दी में जब पूर्व महाराव भीम सिंह प्रथम ने वल्लभकुल की दीक्षा ली और कृष्ण के परम भक्त हो गए तभी से कोटा में भगवान कृष्ण की लीलाओं से जुड़े विभिन्न उत्सवों को भव्य मनाया जाने लगा। उनकी कृष्ण भक्ति का ही उदाहरण रहा कि कोटा को नंदग्राम तक कहलाने लगा है। उनके समय की ये परंपराएं आज भी हम निर्वहन कर रहे हैं।

नयापुरा आदर्श होली पर बनी झांकी जिसमें बेटों ने अपनी मां को एक मकान में बंद करके रखा था और मण्णीपुरम गोल्ड लोन की झांकी।

गढ़ पैलेस स्थित बृजनाथजी मंदिर में फागोत्सव में महिलाओं के साथ फागोत्सव मनाती पूर्व युवरानी कल्पना देवी।

विज्ञान नगर में मनाया फागोत्सव

यहां भी हुए आयोजन

गौड़ ब्राह्मण महासभा की ओर से रामधाम आश्रम में फागोत्सव मनाया गया। इस अवसर पर समाज की रितु शर्मा, मंजू हरित, चंद्रेश शर्मा, अर्चना, स्नेहलता शर्मा, मोहनकांत, शीला शर्मा, सुदेश शर्मा, मंजु गौड़ आदि ने फागोत्सव पर कीर्तन कर लोकगीत गाए तथा ठाकुरजी से फूलों की होली खेल आपस में एक-दूसरे का रंग व गुलाल लगाया। अध्यक्षता मोहनकांत शर्मा ने की। इधर, भारतीय योग संस्थान वल्लभ नगर केंद्र के प्रकाश तापड़िया ने बताया कि होली मिलन समारोह मनाया गया। साधकों ने योग के पश्चात उत्सव का आनंद लिया। इस अवसर पर जिला प्रधान उमेश कपूर, प्रीतम खटवानी, अशोक जैन, पीडी जैन मौजूद थे। मानव मंदिर समिति की ओर से टीलेश्वर महादेव मंदिर में दो दिवसीय फागोत्सव मनाया जाएगा। महासचिव राजेंद्र अग्रवाल ने बताया कि 1 मार्च को शाम 7:43 बजे होलिका दहन होगा। अध्यक्ष रोशनलाल गर्ग ने बताया कि 2 मार्च को सुबह 10 बजे से होली स्नेह मिलन व रात 7 बजे से भजन संध्या होगी।

नयापुरा में आज जलेगी आदर्श होली : नयापुरा आदर्श होली संस्थान में आज होलिका दहन किया जाएगा। यहां चार प्रकार की झांकियां बनाई गई हैं। संस्थान के राकेश शर्मा ने बताया कि इसमें रामसेतु, मण्णपुरम गोल्ड की लूट, द्रोणाचार्य एकलव्य अौर कनवास में दो साल तक मां बंधक बनाने वाली झांकी बनाई गई है। झांकी के दर्शन बुधवार सुबह से खोल दिए थे। गुरुवार रात 8 बजे होली की पूजा होगी और सारेगामा के फेम नितिन कुमार व संचारी बोस प्रस्तुतियां देंगे।