• Home
  • Rajasthan
  • Kota
  • छात्रों को भा रहा है भास्कर और वाइब्रेंट एकेडमी का स्कॉलरशिप प्रोग्राम, रजिस्ट्रेशन जारी
--Advertisement--

छात्रों को भा रहा है भास्कर और वाइब्रेंट एकेडमी का स्कॉलरशिप प्रोग्राम, रजिस्ट्रेशन जारी

अभिभावकों पर महंगी शिक्षा का बोझ कम करेगा ‘स्पार्क‘ कोटा | भास्कर और वाइब्रेंट एकेडमी की ओर आयोजित स्कॉलरशिप...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 05:00 AM IST
अभिभावकों पर महंगी शिक्षा का बोझ कम करेगा ‘स्पार्क‘

कोटा | भास्कर और वाइब्रेंट एकेडमी की ओर आयोजित स्कॉलरशिप प्रोग्राम का दूसरे चरण का स्कॉलरशिप टेस्ट 1 अप्रैल और तीसरे चरण का टेस्ट 8 अप्रैल को आयोजित किया जाएगा। दोनों चरणों के लिए रजिस्ट्रेशन प्रारंभ कर दिए गए हैं। रजिस्ट्रेशन के लिए रोड नंबर 1 स्थित वाइब्रेंट एकेडमी के प्रशासनिक भवन में संपर्क किया जा सकता है।

अभिभावकों पर महंगी शिक्षा का बोझ कम करने वाले स्कॉलरशिप टेस्ट में भाग लेने के विद्यार्थियों को अब दो और अवसर मिलेंगे। वाइब्रेंट एकेडमी और दैनिक भास्कर के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित किए जा रहे इस स्कॉलरशिप टेस्ट के माध्यम से कक्षा 6 से 10वीं में प्रवेश ले रहे विद्यार्थी एक बार फीस देकर 5 वर्ष तक सीबीएसई स्कूल और वाइब्रेंट एकेडमी में अध्ययन कर सकते हैं। वाइब्रेंट एकेडमी के एज डिविजन के विभाग प्रमुख नीलेश गुप्ता ने बताया कि आज के युग में सभी अभिभावक चाहते हैं कि उनका बच्चा शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय प्रगति हासिल करे। इसके लिए उन्हें स्कूल और कोचिंग की मोटी फीस देनी पड़ती है। अभिभावकों पर इसी मोटी फीस के भार को कम करने के लिए वाइब्रेंट एकेडमी और दैनिक भास्कर ने एक विशेष स्कॉलरशिप टेस्ट प्रोग्राम ‘स्पार्क‘ तैयार किया है। उन्होंने बताया कि इस प्रोग्राम के तहत स्कॉलरशिप टेस्ट में अर्जित अंकों के आधार पर एक बार महज 49500/- रुपए की फीस देकर कक्षा 6 से लेकर कक्षा 10वीं में प्रवेश कर रहे विद्यार्थी सीबीएसई स्कूल और वाइब्रेंट एकेडमी की एक्सपर्ट फैकल्टी टीम से कोचिंग प्राप्त करने का अवसर हासिल कर सकते हैं। यह प्रोग्राम अभिभावकों के लिए इसलिए लाभदायक हैं कि वे भविष्य में स्कूल और कोचिंग संस्थान की फीस के दबाव से मुक्त हो सकेंगे। उनके लिए विद्यार्थियों की शिक्षा से जुड़ी अन्य आवश्यकताओं की पूर्ति करना सरल हो जाएगा। इधर, सीबीएसई स्कूल में पढ़ाई करते हुए विद्यार्थी वाइब्रेंट एकेडमी की एक्सपर्ट फैकल्टी की देखरेख में प्रतियोगी परीक्षाओं की आवश्यकताओं के अनुरूप खुद को ढाल सकेंगे।