Hindi News »Rajasthan »Kota» कोचिंग के लिए आने वाले स्टूडेंट्स के पैरेंट्स को जोड़ा जाए कोटा टूरिज्म से

कोचिंग के लिए आने वाले स्टूडेंट्स के पैरेंट्स को जोड़ा जाए कोटा टूरिज्म से

कोटा में कोचिंग के लिए आने वाले स्टूडेंट्स के पैरेंट्स को कोटा टूरिज्म से जोड़ने से यहां के टूरिज्म को बूस्ट...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 01:35 PM IST

कोटा में कोचिंग के लिए आने वाले स्टूडेंट्स के पैरेंट्स को कोटा टूरिज्म से जोड़ने से यहां के टूरिज्म को बूस्ट मिलेगा। उनके परिजनों को यहां के टूरिज्म स्थलों की जानकारी दी जाए। जब भी उनके पैरेंट्स आएं तो कोटा को भी देख पाएं। यह बात जिला पर्यटन विकास समिति की मीटिंग में सामने आई।

हालांकि एजुकेशन टूरिज्म का मुद्दा फिर से मीटिंग से गायब रहा। पर्यटन विकास समिति से जुड़े किसी भी अधिकारी ने यहां के कोचिंग कल्चर को बतौर टूरिज्म शामिल करने की बात नहीं उठाई। मीटिंग की अध्यक्षता कलेक्टर रोहित गुप्ता की। उन्होंने कहा कि चंबल बॉयो डायवर्सिटी फेस्टिवल के आयोजन से भी पर्यटन विकास को बढ़ावा मिलने के साथ ईको टूरिज्म की दिशा में कोटा की नई पहचान बनेगी। यहां पर स्थित पुरा संपदा के स्मारकों, जलीय जीव जन्तुओं व वानिकी की विशेषताओं को देशी-विदेशी पर्यटकों को रूबरू करवाना होगा। स्मार्ट सिटी के तहत भीतरिया कुंड का विकास, चंबल रिवर फ्रंट विकसित करने व ग्रामीण हाट के पास कल्चरल कॉम्पलेक्स के रूप में विकसित करने का प्लान तैयार किया गया है। उन्होंने बताया कि स्मार्ट सिटी कोटा एप पर एक लिंक भी बनवाया जाएगा।

ये आए सुझाव : सूरजपोल गेट व समीप के बुर्ज का सौंदर्यीकरण कर पेंटिंग करवाई जाएगी। किशोर सागर तालाब में स्थित जग मंदिर में चल रहे रेस्टोरेंट में साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखा जाकर पॉलीथिन का उपयोग प्रतिबंधित किया जाएगा। दरा के समीप स्थित रियासतकालीन डाक बंगला का संरक्षण किया जाएगा। अभेड़ा में स्थित रानी जी के महल की पेंटिंग आम लोगों के लिए खोली जाएगी। ज्वाला तोप को सौंदर्यीकरण के साथ स्थापित किया जाएगा। गुमानपुरा स्थित नहर में कचरा डालने वाले दुकानदारों, मैरिज होम व सामाजिक संस्थाओं के भवन से कचरा डालने वालों को पाबंद कर नगर निगम द्वारा पैनल्टी लगाई जाएगी।

टैगोर हॉल में पर्यटन विकास समिति की बैठक लेते कलेक्टर रोहित गुप्ता।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kota

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×