• Hindi News
  • Rajasthan
  • Kota
  • इंटेक के पदाधिकारियों ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा
--Advertisement--

इंटेक के पदाधिकारियों ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 01:35 PM IST

Kota News - कोटा| इंटेक के पदाधिकारियों ने चंद्रेसल मठ मंदिर की स्थिति और विरासत की अनदेखी सहित अन्य समस्याओं को लेकर कलेक्टर...

इंटेक के पदाधिकारियों ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा
कोटा| इंटेक के पदाधिकारियों ने चंद्रेसल मठ मंदिर की स्थिति और विरासत की अनदेखी सहित अन्य समस्याओं को लेकर कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा।

कोटा चैप्टर संयोजक श्याम सुंदर झा ने बताया कि यह प्राचीन चंद्रेसल मठ की दुर्दशा एवं विरासत शिल्प की दुर्दशा होना गंभीर बात है। वहां गैर जिम्मेदारी से तोड़-फोड़ एवं मूर्तियों की बर्बादी हो रही है। उसे तत्काल रोका जाए और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि प्राचीन धरोहर का कलात्मक जीर्णोद्धार होना चाहिए।उल्लेखनीय है कि यह 9वीं 10वीं सदी का यह प्राचीन मंदिर बने हुए हैं। लेकिन, मुख्यमंत्री की बजट घोषणा के तहत पुरातत्व एवं संग्रहालय विभाग की ओर से 50 लाख रुपए का बजट जारी किया है। इसका रिनोवेशन कार्य यहां चल रहा है। लेकिन, विभागीय अनदेखी के चलते इस धरोहर की स्थिति दयनीय हा़े रही है। कई बीघा जमीन के मालिक है शिव मठ मंदिर, बजट अपर्याप्त, काम नहीं होगा पूरा

उल्लेखनीय है कि चंद्रेसल मठ मंदिर के लिए अभी 50 लाख रुपए का बजट जारी किया गया है, जो कि अपर्याप्त है। जबकि चंद्रेसल मठ शिव मंदिर के के नाम नाम बड़ी संख्या में सरकारी जमीन है। लेकिन, इनके रैवेन्यू का इस्तेमाल इसके रिनोवेशन में उपयोग नहीं हो रहा है। जबकि मठ शिव मंदिर के नाम चंद्रेसल में 43.75, रंग तालाब में 9.45, चौटाणा में 0.89, दसलाना में 0.55, राम खेड़ली में 0.40 और देवली माछियान में 2.96 हैक्टेयर जमीन है।

X
इंटेक के पदाधिकारियों ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा
Astrology

Recommended

Click to listen..