Hindi News »Rajasthan »Kota» Deepika Padukone Security Step Up After Threaten By Police

पद्मावती विवाद: पुलिस ने बढ़ाई दीपिका की सिक्युरिटी, मिली थी नाक काटने की धमकी

राजूपत करणी सेना ने एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण को दी रामायण में सूर्पणखा की तर्ज पर नाक काटने की धमकी।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 17, 2017, 06:22 AM IST

पद्मावती विवाद: पुलिस ने बढ़ाई दीपिका की सिक्युरिटी, मिली थी नाक काटने की धमकी

मुंबई/कोटा. फिल्म पद्मावती पर हो रहे विवाद के बीच मिली नाक काटने की धमकी के बाद मुंबई पुलिस ने एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण को सिक्युरिटी दी है। धमकी श्री राजूपत करणी सेना (एसआरकेएस) ने दी है। उसने एक्ट्रेस को बयानबाजी न करने की चेतावनी दी है। दीपिका ने कुछ दिन पहले कहा था कि पद्मावती रिलीज होकर रहेगी। बता दें कि संजय लीला भंसाली के डायरेक्शन में बनी इस फिल्म में ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ के आरोप लग रहे हैं। इसके विरोध की आग छह राज्यों तक फैल गई है।

- न्यूज एजेंसी के मुताबिक, ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर (लॉ एंड ऑर्डर) देवेन भारती ने बताया कि ऑर्गनाइजेशन की ओर से नाक काटने की धमकी दिए जाने के बाद मुंबई पुलिस ने दीपिका पादुकोण की सिक्युरिटी बढ़ा दी है।

- उन्होंने कहा कि दीपिका के मुंबई स्थित घर और ऑफिस पर भी पुलिस तैनात की गई है।
- बता दें कि इससे पहले संजय लीला भंसाली और सेंसर बोर्ड को भी पुलिस प्रोटेक्शन दिया जा चुका है।

वही हाल करेंगे, जो लक्ष्मण ने सूर्पणखा का किया था
- न्यूज एजेंसी के मुताबिक, करणी सेना के महिपाल मकराना ने कहा, "राजपूत कभी महिलाओं पर हाथ नहीं उठाते, लेकिन जरूरत पड़ी तो हम दीपिका पादुकोण का वही हाल करेंगे, जो लक्ष्मण ने सूर्पणखा का किया था।"

- रामायण के मुताबिक, लक्ष्मण ने रावण की बहन सूर्पणखा की नाक काट ली थी।

- मकराना ने कहा कि पादुकोण लोगों की भावनाओं को न भड़काएं। राजपूत अपने मकसद से पीछे नहीं हटेंगे।
- बता दें कि दीपिका ने कथित तौर पर कहा था, "यह भयावह है। इससे हमें क्या मिला? और एक राष्ट्र के रूप में हम कहां पहुंच गए हैं? हम आगे बढ़ने के बजाय पीछे हुए हैं।"

बयान के सपोर्ट में आए अजमेर दरगाह के दीवान
- मकराना के नाक काटने वाले बयान पर करणी सेना के नेता लोकेंद्र सिंह कालवी से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, "अगर बच्चे ऐसा कहने पर मजबूर हुए हैं तो इसकी कोई वजह होगी।"

- उधर, अजमेर दरगाह के दीवान जैनुल अबैदीन अली खान ने भी धार्मिक भावनाओं को आहत करने की बात करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से फिल्म बैन करने की मांग की है।

छह राज्यों तक पहुंचा विरोध प्रदर्शन
- डायरेक्टर संजय लीला भंसाली के डायरेक्शन में बनी इस फिल्म को लेकर पूरे देश में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं।
- इस फिल्म का विरोध अब तक छह राज्यों राजस्थान, यूपी, बिहार, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और कर्नाटक तक जा पहुंचा है।
- बता दें कि इस फिल्म में दीपिका पादुकोण लीड रोल में हैं और रानी पद्मिनी (पद्मावती) का किरदार निभा रही हैं।
- 1 दिसंबर को फिल्म रिलीज करने की तैयारी है। करणी सेना ने इसी दिन भारत बंद का एलान किया है।

फिल्म की रिलीज से शांति भंग होने का डर
- उधर, उत्तर प्रदेश के होम डिपार्टमेंट ने आईबी मिनिस्ट्री को लेटर लिखा है। इसमें बताया गया है कि पद्मावती फिल्म की स्क्रिप्ट और इसमें ऐतिहासिक सबूतों को तोड़-मरोड़ कर पेश करने को लेकर लोगों में गुस्सा है। इसकी रिलीज से शांति-व्यवस्था पर गलत असर पड़ सकता है।

योगी ने कहा- अपने फायदे के लिए तथ्यों से छेड़छाड़ ठीक नहीं
- यूपी से केंद्र को भेजे लेटर के सवाल पर योगी आदित्यनाथ ने कहा, "हमारे यहां नगरीय निकाय के चुनाव चल रहे हैं। फोर्स उसकी सुरक्षा में होगी। चुनाव पर इसका कोई असर न हो, ऐसे में जरूरी है कि फोर्स उस पर ध्यान दे। कोई भी ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ कर अपना हित साधे, यह नहीं होना चाहिए। हम फिल्म के खिलाफ नहीं हैं, लेकिन राज्य की कानून-व्यवस्था पर असर डालने वाले काम को हमारी सरकार रोकने का काम करेगी।"

कहां से शुरू हुआ विवाद?
- राजस्थान में इस फिल्म की शूटिंग के दौरान इसके विरोध की शुरुआत हुई थी। शूटिंग के वक्त राजपूत करणी सेना ने कई जगह प्रदर्शन किए थे और पुतले फूंके थे। जयपुर में शूटिंग के दौरान कुछ लोगों ने संजय लीला भंसाली से बदसलूकी की थी, जिसके बाद कोल्हापुर में फिल्म का सेट लगाया तो यहां भी इसे जला दिया गया। इसके बाद मूवी का विरोध देशभर में बढ़ता गया।

कई राजघराने भी विरोध में
- राजस्थान के कई राजपूत घराने भी इस फिल्म के विरोध में हैं। जयपुर राजघराने की राजकुमारी दीया कुमारी ने पिछले दिनों इस फिल्म के खिलाफ सिग्नेचर कैम्पेन शुरू किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि इस कैम्पेन में ज्यादा से ज्यादा लोगों और ऑर्गनाइजेशन को जोड़ने के लिए इसे डिविजन लेवल पर भी ऑर्गनाइज किया जाएगा।

- उन्होंने संजय लीला भंसाली से कहा कि वे रिलीज करने से पहले इतिहासकारों के फोरम के सामने इसकी स्क्रीनिंग करें।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Kota News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: pdmaavti vivaad: naak katne ki dhmki ke baad dipika ko mili police security
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Kota

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×